rss

अमेरिकी डिपार्टमेंट ऑफ स्टेट डिपार्टमेंट प्रेस विज्ञप्ति

English English

डिपार्टमेंट प्रेस ब्रीफिंग इंडेक्स
मंगलवार, 23 जनवरी 2018
दोपहर 02:28 EST
वृत्तांत देने वाला: हैदर न्यूअर्ट, प्रवक्ता
मंगलवार, 23 जनवरी 2018
(रिकॉर्ड पर यदि अन्यथा नोट नहीं किया गया)

 
 

**UNEDITED/DRAFT**

दोपहर 02:28 EST

सुश्री न्यूअर्ट:  सभी को मेरा नमस्कार।  हैलो, नज़ीरा, आपको यहाँ देखकर खुशी हुई।  सभी को नमस्कार, आज आप कैसे हैं?  मैं आपको कुछ विशेष बातों की जानकारी देते हुए शुरुआत करना चाहूँगी।  सबसे पहली बात यह है – ऐसा अफ़गानिस्तान में कुछ दिन पहले हुए उस खौफनाक हमले के बाद पहली बार हो रहा है कि हम एकत्र हुए हैं, इसलिए मैं उसका उल्लेख करते हुए शुरुआत करना चाहूँगी।

संयुक्त राज्य अमेरिका काबुल में 20 जनवरी को इंटरकॉन्टिनेंटल होटल में हुए हमले की कड़ी निंदा करता है।  इस तरह की हिंसा का अफ़गानिस्तान या विश्व में कहीं अन्य कोई स्थान नहीं है।  हम मारे गए लोगों के परिवारों और मित्रों के प्रति गहन संवेदनाएं व्यक्त करते हैं और घायल लोगों के शीघ्र ही स्वस्थ होने की कामना करते हैं, मृत लोगों में बहुत से अमेरिकी नागरिक भी सम्मिलित हैं।  अमेरिकी नागरिकों की सुरक्षा हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है।  हम उस हमले के बाद से परिवार के सदस्यों की सहायता करते रहे हैं और उन्हें सूचित करते रहे हैं।

संयुक्त राज्य अमेरिका अफ़गानिस्तान की सरकार और लोगों के साथ खड़ा है और उनके देश के लिए शांति, सुरक्षा और समृद्धि प्राप्त करने के लिए अफगान प्रयासों की सहायता करने के संबंध में पूरी तरह प्रतिबद्ध है।

उसके अतिरिक्त, मैं की जा चुकी थोड़ी यात्रा का उल्लेख करना चाहूँगी।  हमारे USAID प्रशासक – आपमें से बहुत से व्यक्ति मार्क ग्रीन, पूर्व राजदूत और कांग्रेस के पूर्व सदस्य से मिल चुके हैं –  उन्होंने अमेरिका की सेंट्रल कमांड के कमांडर जनरल जो वोटेल के साथ कल सीरिया की यात्रा की।  प्रशासक ग्रीन संकट के आरंभ होने के बाद सीरिया का दौरा करने वाले वरिष्ठतम सिविलियन अधिकारी हैं।  यह महत्वपूर्ण है।  याद रखें, केवल नौ – बस कुछ महीने पहले, राक्का अभी भी ISIS के नियंत्रण में था।  और अब नगर को आज़ाद करा लिए जाने के बाद, स्टेट डिपार्टमेंट और USAID के अधिकारी लोगों को घर वापस जाने और उन्हें फिर से सामान्य जिन्दगी जीने में सहायता करने के लिए हमारे डिपार्टमेंट ऑफ डिफेंस के सहयोगियों के साथ काम करते हुए उत्तर कोरिया की भूमि पर मौजूद हैं।

प्रशासक ग्रीन टीमों के सदस्यों से मिले और क्षेत्र में उन परियोजनाओं को देखा जो राक्का के व्यक्तियों के लिए आवश्यक सेवाएं बहाल करने में सहायता कर रही हैं।  प्रशासक ग्रीन विस्थापित व्यक्तियों के एक कैम्प में भी गए जहाँ अधिकांश व्यक्ति ISIS के डर से भागकर आए थे।   अमेरिका ने अब 2011 में संकट आरंभ होने के बाद से सीरिया के लोगों के गैर-आक्रामक स्थिरीकरण और मानवीय सहायता के रूप में $875 मिलियन से अधिक की धनराशि प्रदान की है।  जैसे-जैसे लोग राक्का में लौट रहे हैं और दुकानें और स्कूल दोबारा खोल रहे हैं, हमें वास्तव में आशा दिखनी आरंभ हो गई है।

यह उन एक बातों में से है जिनके बारे में प्रशासक ग्रीन ने आज पहले मुझसे बात की थी – हमने फोन के माध्यम से बात की, वे वास्तव में डावोस जा रहे हैं जहाँ वे मानवीय स्थिति के बारे में अंतरराष्ट्रीय भागीदारों से बात करेंगे।  और उन्होंने कहा कि जब उन्होंने आसपास हर कहीं बेहद तबाही और मलबा देखा, तब उन्हें आशा की थोड़ी किरण भी दिखाई दी।  वे एक बेहद धूल भरे द्वार पर किसी ऐसी महिला से मिलेंगे जो उस द्वार पर झाड़ू लगा रही होगी क्योंकि आसपास बहुत मलबा है।   कल्पना करें कि:  सारी तबाही के बीच, द्वार पर झाड़ू लगाना, क्योंकि उन्होंने मुझे बताया है कि वह व्यवसाय आरंभ करने ही वाली थी।  तो आप उसे देखिए और आप यह देखते हैं कि सीरियाई लोगों में निश्चित रूप से आशा और दृढ़ संकल्प है।

मैं आप सबको तब प्रशासक ग्रीन का परिचय कराने की अपेक्षा करती हूँ जब वे संभावित रूप से उस यात्रा का विवरण देने के लिए अमेरिका लौटेंगे।

और अंत में, मैं यूरोप में सेक्रेटरी की यात्रा के बारे में थोड़ी बात करना चाहूँगी और इस संबंध में आपको संक्षिप्त नवीनतम सूचना देना चाहूँगी।  वे कल लंदन में थे, जहाँ वे प्रधानमंत्री मे, विदेश सचिव जॉनसन और ब्रिटेन के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार से मिले।  मुझे विश्वास है कि उनके द्वारा विदेश सचिव जॉनसन से बात करने पर आपने उनकी टिप्पणियों को देखा होगा।  सेक्रेटरी ने UK के साथ हमारे विशेष संबंध के महत्व पर बल दिया और JCPOA में कमियों पर ध्यान देने के लिए तरीकों और सीरिया, लीबिया, DPRK और यूक्रेन सहित पारस्परिक हित के अन्य मुद्दों पर भी चर्चा करना जारी रखा।

आज सेक्रेटरी टिलरसन पेरिस में हैं।  वहाँ उन्होंने विदेश मंत्री से भेंट की और इसके बाद रासायनिक हथियारों के उपयोग के लिए दंडमुक्त के विरुद्ध अंतरराष्ट्रीय भागीदारी की शुरुआत में भाग लिया।  रासायनिक हथियारों की उस घटना के समाप्त होने पर, सेक्रेटरी टिलरसन को किसी ऐसे मुद्दे पर कुछ प्रेसकर्मियों से बात करने का अवसर मिला जो मुझे पता है कि हम सबके लिए महत्वपूर्ण है।  मुझे यकीन है कि आपने अब तक रासायनिक हथियारों के बारे में टिप्पणियाँ देख ली हैं, लेकिन मैं एक क्षण में कुछ ऐसी बातों को दोहराना चाहूँगी जो सेक्रेटरी को कहनी थी।

सीरिया में पूर्वी घौटा में हाल के हमले यह गंभीर चिंताएं उत्पन्न करते हैं कि हो सकता है कि बशर अल-असाद का सीरिया का शासन स्वयं के ही लोगों के विरुद्ध रासायनिक हथियारों का अपना उपयोग जारी रख रहा हो।   जिस किसी ने भी ऐसे हमले किए हैं, रूस अंततः पूर्वी घौटा में पीड़ितों और रूस के सीरिया में संलग्न होने के बाद से रासायनिक हथियारों से निशाना बनाए गए अन्य सीरियाइयों के लिए ज़िम्मेदारी लेता है।  इस बात को नकारा नहीं जा सकता कि अपने सीरियाई सहयोगी को बचाकर रूस ने ढाँचे के गारंटर के रूप में अमेरिका को दिया गया अपना वचन भंग किया है।  इसने रासायनिक हथियार कन्वेंशन और UN सुरक्षा परिषद् संकल्प 2118 से विश्वासघात किया है और इसने संयुक्त जाँच तंत्रों की व्यवस्था करने और JIM के अधिदेश को जारी रखने के लिए UN  सुरक्षा परिषद के संकल्पों को वीटो किया है।

सीरिया में रासायनिक हथियारों के मुद्दे का समाधान करने में रूस की विफलता पूरे संकट को रोकने के लिए समाधान में इसकी प्रासंगिकता के संकट में होने का आह्वान करती है।  न्यूनतम रूप से, रूस को वीटो करना बंद करना चाहिए और कम से कम इस मुद्दे पर सुरक्षा परिषद् के भविष्य के वीटो से अनुपस्थित रहना चाहिए।  हम रासायनिक हथियारों के उपयोग को समाप्त करने के लिए ज़िम्मेदार और सभ्य राष्ट्रों के समुदाय का आह्वान करते हैं।

दोपहर में, सेक्रेटरी पश्चिमी यूरोप में मिशन के चीफों के एक छोटे समूह से मिलेंगे और क्षेत्र में अमेरिकी नीति की प्राथमिकताओं पर चर्चा करेंगे।  वे सीरिया में एक मंत्रालयीय बैठक और यमन में जारी संकट पर चर्चा करने के लिए एक चतुष्कोणीय बैठक में भाग लेकर दिन का समापन भी करेंगे।

प्रश्न:  अफ़गानिस्तान के बारे में बस एक प्रश्न है, क्या इसका समाधान किया जाना है?

प्रश्न:  हाँ।  बहरहाल मैं यहीं से आरंभ करना चाहता हूँ।

प्रश्न:  आप क्या मुझे केवल यह बता सकती हैं कि कितनी मौतें हुई हैं और क्या आप अमेरिकी मौतों के बीच अंतर कर सकती हैं।  क्या आप मौतों और घायल व्यक्तियों के बीच इसका अंतर कर सकती हैं?

सुश्री न्यूअर्ट:  हाँ।  ऐसा बहुत कुछ नहीं हैं जो मैं इस बारे में बता सकती हूँ।  अफ़गानिस्तान में हुए हमले में बहुत से अमेरिकी लोगों की मौत हुई है।  परिवार के कुछ सदस्यों को अभी भी सूचित किया जा रहा है  तो, यदि मुझे वर्तमान संख्या देनी होती जो हम दे चुके हैं, तो इससे उन परिवारों को संभवतः संकेत जाएंगे जिन्हें अभी तक सूचित नहीं किया गया है।  मैं नहीं चाहती कि इसे मेरी ओर से बताया जाए।

हमारे कौंसुलर अफेयर्स अधिकारी परिवार के सदस्यों तक संपर्क बनाने में प्रशिक्षित हैं।  दुर्भाग्यवश, जैसा कि मुझे आज पता चला है, उनकी यह ड्यूटी है।  और मैं इसे दुर्भाग्यवश बस इसलिए कहती हूँ क्योंकि यह किसी भी अमेरिकी के लिए किसी अन्य अमेरिकी से साझा करने के लिए कठिन ड्यूटी है।

मैं आपको इस बारे में कोई अतिरिक्त ब्यौरा नहीं दे सकती लेकिन जैसे ही मैं दे पाऊँगी, तब मुझे बहुत संतोष होगा।  लेकिन मुझे यह कहते हुए बाहर जाने दें कि हम अफ़गानिस्तान में पीड़ितों की ओर से हमारी संवेदनाएं व्यक्त करते हैं।  अन्य देशों से भी पीड़ित थे, जैसा कि आप में से बहुत से व्यक्तियों को पता है।  हम अफगान लोगों के सात खड़े रहना जारी रखे हुए हैं और हमारी संवेदनाएं अफगानों, अन्य पीड़ितों और अमेरिकी पीड़ितों के भी साथ हैं।

प्रश्न:  क्या अमेरिका जानता है कि वहाँ चोटों की तुलना में कितनी मौतें हुई थीं, और इस समय बताने में समर्थ नहीं है, या अभी भी कोई ऐसी बात है जिसे  निर्धारित किया जा रहा है?

सुश्री न्यूअर्ट:  हम यह मानते हैं कि हमें अमेरिकी मौतों की जानकारी है।  हम इसे इसलिए नहीं बता सकते क्योंकि लोगों को अभी भी सूचित किया जा रहा है।  पीड़ितों के परिवारों को अभी भी सूचित किया जा रहा है।  फिर भी, मैं यह पुष्टि कर सकती हूँ कि वे अमेरिकी सरकारी अधिकारी नहीं थे।  वे अमेरिकी सरकार के लिए काम नहीं कर रहे थे।

प्रश्न:  क्या आपको अभी तक कोई ऐसा संकेत मिला है कि हमले के लिए कौन ज़िम्मेदार था और क्या ज़िम्मेदार व्यक्ति और पाकिस्तान के बीच कोई संबंध था?

सुश्री न्यूअर्ट:  हमने यह देखा है कि तालिबान ने ज़िम्मेदारी ली है।  हमारे पास अब तक इसका कोई प्रमाण नहीं है।  मैं आपको यह बता सकती हूँ कि अफ़गानिस्तान इसकी जाँच कर रहा है और हम अफ़गानिस्तान द्वारा की जा रही पूरी जाँच की प्रतीक्षा करेंगे।

प्रश्न:  इसके लिए बहुत-बहुत धन्यवाद।  जैसा कि आपने अफ़गानिस्तान का उल्लेख किया, पिछले सप्ताह संयुक्त राष्ट्र प्रतिनिधिमंडल की निक्की हेली अफ़गानिस्तान में थीं, और उन्होंने कहा कि अमेरिकी विदेश नीति अफ़गानिस्तान में इसलिए काम करती है क्योंकि हम अफ़गानिस्तान में तालिबान से शांति स्थापित करने के करीब पहुँच चुके हैं।  और एक या दो दिनों के बाद, तालिबान ने अफ़गानिस्तान में बड़ा हमला कर दिया है।  क्या हमें अभी भी इस बारे में आशावादी होना चाहिए?

और दूसरा प्रश्न यह है कि वे पिछले सप्ताह में वे काबुल में एक भाषण में काबुल में राजदूत थे और कुछ लोगों ने उनकी आलोचना की और उन्होंने कहा कि उन्हें यह अच्छा नहीं लगा।  और वे यह कहते हैं कि यह राष्ट्रपति के भाषण जैसा लगता है।

सुश्री न्यूअर्ट:  क्या आप हमारे अमेरिकी राजदूत, राजदूत बास का उल्लेख कर रहे हैं —

प्रश्न:  बेशक, हाँ।

सुश्री न्यूअर्ट:  जो अफ़गानिस्तान में सेवारत हैं?  उन्होंने पहले टर्की में काम किया था, इसलिए आप सभी टर्की में मुद्दों के बारे में बात करते हुए उनका नाम पहचान सकते हैं।

राजदूत बास ने बात की और उन्होंने अफ़गानिस्तान में एक गवर्नर के बारे में स्थिति पर अमेरिका का रवैया साफ तौर पर प्रस्तुत किया।  थोड़ा और विवरण भी है- यदि आपने इस पर ध्यान नहीं दिया है, केंद्रीय सरकार और इस गवर्नर के बीच थोड़ा-सा टकराव है।  राजदूत बास ने कहा है कि यह मूलभूत रूप से अफ़गानिस्तान द्वारा स्वयं समाधान करने के लिए मुद्दा है।  यह ऐसा स्थान नहीं है जहाँ हमारे विचार में हमें हमारे दृष्टिकोण का उल्लेख करना चाहिए।    यह एक आंतरिक मामला है।  यह अफगान संविधान के ढाँचे के भीतर है और यह कानून के शासन और कानून के समक्ष समानता के सिद्धांत के अनुरूप है।   हम सभी पक्षों का समाधान करने के लिए आह्वान करते हैं।

प्रश्न:  कल बंग्लादेश सरकार ने UNHCR, संयुक्त राष्ट्र को संबंद्ध किए बिना मूल रूप से लगभग दो मिलियन शरणार्थी लौटाने के लिए म्याँमार से बातचीत या वार्ता आरंभ की है।  और वे कर सकते हैं–

सुश्री न्यूअर्ट:  आपने “बिना” कहा, सही है न?

प्रश्न:  बिना, हाँ।  तो क्या आपने – क्या आपने इस मुद्दे पर किसी से बात की है?  क्या आप इस पर निगाह रख रहे हैं कि संबंध में क्या हो रहा है क्योंकि इस बात का वास्तविक डर है कि इन लोगों को बहुत अरक्षणीय स्थिति में जाने के लिए मजबूर किया जा सकता है?

सुश्री न्यूअर्ट:  बेशक।  मैं यह पूरी तरह समझती हूँ।  आप बंग्लादेश और बर्मा के बीच वार्ता की बात कर रहे हैं —

प्रश्न:  ठीक है।

सुश्री न्यूअर्ट:  — रोहिंग्या शरणार्थियों को धकेलने के लिए – उनमें से लगभग 800,000 को धकेलने के लिए– जो केवल अगस्त के बाद से ही बंग्लादेश गए थे या जिन्हें इसके लिए विवश किया गया था, उनमें से अकल्पनीय लोगों को शरणार्थी कैम्पों में रहने के लिए विवश किया गया है।  यह एक ऐसी बात है जिस पर मैंने बंग्लादेश और बर्मा में, दोनों जगह हमारे राजदूतों के साथ ईमेलों का आदान-प्रदान किया है और यह ऐसी बात है जिसके बारे में मैं यहाँ स्टेट डिपार्टमेंट में हर किसी को यह बताना चाहती हूँ कि उस क्षेत्र में, उस इलाके में और मानवीय संकट में जो कोई भी संलग्न है, वह सबसे अधिक मात्रा तक संलग्न और संबंधित है।

हम यह समझते हैं कि जिस करार की आप बात कर रहे हैं, उसमें देरी हो  गई थी।  हम निश्चित रूप से यह सोचते हैं कि यह अच्छा विचार था।  जब रोहिंग्या को घर जाना होगा, तब यह न केवल सुरक्षित होना चाहिए, यह स्वैच्छिक रूप से भी किया जाना चाहिए और यह गरिमापूर्ण रीति से किया जाने की जरूरत हैं।  जब उन्हें यह लग रहा हो कि वे सुरक्षित नहीं हैं, तब उन्हें घर लौटने के लिए विवश नहीं किया जा सकता।  दोस्तो, मैं आपको यह याद दिला दूँ कि ये हमले अगस्त से ही हो रहे थे और कुछ तो तब से ही रहे हैं।

तो यह वहाँ लोगों के मस्तिष्क में बहुत ताज़ा है।  और जब मैंने बंगलादेश में कुछ शरणार्थियों के साथ थोड़ा समय बिताया, तब वे उस समय घर जाने में कोई रुचि नहीं दिखा रहे थे।  मेरा ख्याल है कि दीर्घावधि में हर को घर लौटना चाहता है लेकिन वे तब घर लौटना चाहते हैं जब ऐसा करना सुरक्षित हो।

हम बंग्लादेश और बर्मा की सरकारों को UNHCR को संलग्न करने के लिए कार्य करने के लिए प्रोत्साहित करेंगे।  यह एक ऐसी बात है जो वास्तव में महत्वपूर्ण है।  उन्होंने बहुत अच्छा कार्य किया है।  हम संकट के लिए कार्रवाई करने के लिए UNHCR और अन्य UN संगठनों को प्रदान किए जाने वाली मानवीय पहुँच के अभाव से चिंतित हैं।  अपने मूल स्थान में स्वेच्छा से लौटने के इच्छुक व्यक्तियों की सुरक्षा और संरक्षा सुनिश्चित करने और ऐसा गरिमापूर्ण तरीके से करना सुनिश्चित करने के लिए हम बर्मा – और मैं इसके बारे में कहते हुए स्पष्ट होना चाहती हूँ – और बंग्लादेश को UNHCR और अन्य संगत अंतरराष्ट्रीय संगठनों के सहयोग में कार्य करना जारी रखने के लिए प्रोत्साहित करते हैं


मूल सामग्री देखें: https://www.state.gov/r/pa/prs/dpb/2018/01/277613.htm
यह अनुवाद एक शिष्टाचार के रूप में प्रदान किया गया है और केवल मूल अंग्रेजी स्रोत को ही आधिकारिक माना जाना चाहिए।
ईमेल अपडेट्स
अपडेट्स के लिए साइन-अप करने या अपने सब्सक्राइबर प्राथमिकताओं तक पहुंचने के लिए कृपया नीचे अपनी संपर्क जानकारी डालें