rss

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के सदस्यों के साथ दोपहर के भोजन पर राष्ट्रपति ट्रम्प का वक्तव्य

English English, العربية العربية, Français Français, Português Português, Русский Русский, Español Español, اردو اردو

दी व्हाइट हाउस
प्रेस सेक्रेटरी का कार्यालय
तत्काल रिलीज़ के लिए
29 जनवरी 2018
स्टेट डाइनिंग कक्ष

 
 

दोपहर 12:25 EST

राष्ट्रपति:  तो, आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।  मुझे दुनियाभर से आये संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के राजदूतों के एक बहुत ही विशिष्ट समूह की मेजबानी करने के लिए सेक्रेटरी टिलरसन, राजदूत हैली, जनरल कैली और जनरल मैकस्टर के साथ शामिल होने का सम्मान प्राप्त हुआ है।

आज, हम सुरक्षा के लिए चुनौतियों की एक श्रृंखला के बारे में चर्चा करेंगे, जिसमें उत्तर कोरिया को परमाणु-रहित करना, जो कि बहुत ही महत्वपूर्ण है; मध्य पूर्व में ईरान की अस्थिरता की गतिविधियों का मुकाबला करना; सीरिया के संघर्ष को समाप्त करना; और आतंकवाद का सामना करना शामिल हैं।

संयुक्त राष्ट्र की सफलता अपने सदस्यों की व्यक्तिगत ताकत पर निर्भर करती है।  और ये बहुत ही मजबूत सदस्य हैं; इनमें से कुछ परिषद में नये हैं।

हम संप्रभुता के इस संस्थापक सिद्धांत को नवीनीकृत करने के लिए वैश्विक स्तर पर आगे बढ़ रहे हैं।  संयुक्त राज्य अमेरिका ने पिछले वर्ष बहुत कुछ किया है।  मैं सभी बधाईयों की सराहना करता हूँ।  लेकिन एक आर्थिक मोर्चे पर, एक वित्तीय मोर्चे, जो हुआ है वह अविश्वसनीय रहा है।  यह एक अलग ही तरह की प्रगति है।  यह तेजी से बढ़ रहा है, और यह जारी रहेगा क्योंकि हमें एक लंबा रास्ता तय करना है।  लेकिन यह बहुत अच्छे से हो रहा है।

इसलिए हम सराहना करते हैं – मुझे लगता है कि हम दुनिया को अपने साथ ले रहे हैं।  हम दुनिया की मदद कर रहे हैं।  यही कारण है कि हम जो कर रहे हैं उससे कुछ देश, या दुनिया भर के कई अन्य देश, इसके कारण बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं।

इसलिए मेरे प्रशासन को आपके साथ काम करने पर गर्व है।  हमने पहले ही एक गठबंधन-निर्माण के लिए बहुत बड़ी मात्रा में काम किया है, और विशेष रूप से संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद, हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण है।  वह शक्ति और सम्मान जो कि सारी दुनिया में इसका है, वह बहुत, बहुत ही उत्कृष्ट है।

लेकिन बहुत काम है जो कि अभी हमें एक साथ करना है। और आज सुबह, राजदूतों ने ईरान की उन मिसाइलों और हथियारों का प्रदर्शन देखा जो कि शासन ने यमन में उसके आतंकवादी सहयोगियों को स्थानांतरित किया है।  और आज बाद में वे होलोकॉस्ट संग्रहालय में प्रदर्शित सीरिया अत्याचारों को देखने जा रहे हैं।  इसलिए उन्होंने ईरान की मिसाइलों को देखा है, और वे सीरिया में होने वाले कुछ अत्याचारों को देख रहे हैं।

हम यह भी चर्चा करेंगे कि तालिबान को हराने के लिए हम और क्या कर सकते हैं।  मैं कोई बातचीत होते हुए नहीं देख रहा हूँ।  मुझे नहीं लगता कि हम अभी बातचीत के लिए तैयार हैं।  वहाँ एक अलग ही किस्म की लड़ाई चल रही है।  वे चारों ओर लोगों की हत्या कर रहे हैं।  मासूम लोग हर जगह मारे जा रहे हैं।  बच्चों के बीच, परिवारों के बीच बमबारी की जा रही है, बमबारी, जिससे अफगानिस्तान भर में हत्याएँ हो रही हैं।

इसलिए हम तालिबान से बात नहीं करना चाहते।   एक ऐसा समय आ सकता है, लेकिन यह लम्बे समय के बाद ही आएगा।  हम सब सामने हैं, हैं, और यह अभी हो रहा है, और यह एक बिलकुल नया मोर्चा है।  और यह सिद्धांतों का एक नया समूह है जिसके द्वारा हम नियंत्रित होते हैं।

जब हम देखते हैं कि वे क्या कर रहे हैं और वे जो अत्याचार कर रहे हैं, और अपने स्वयं के लोगों की हत्याएँ कर रहे हैं, और ये लोग महिलाएं और बच्चे हैं – बहुत, बहुत सी महिलाएं और बच्चे जो पूरी तरह निर्दोष हैं – यह भयानक है।

तो अब तालिबान से कोई बातचीत नहीं होगी।  हम तालिबान से बात नहीं करना चाहते।  हम वो खत्म करेंगे जो हमें खत्म करना है।  जो और कोई भी खत्म करने में समर्थ नहीं हो पाया है, हम उसे करने में सक्षम होंगे।

तो आज यहाँ उपस्थित होने के लिए आप सभी का धन्यवाद, हम इसकी सराहना करते हैं।  और हम इस और अन्य विषयों पर काफी अधिक विचार-विमर्श करने वाले हैं।  यहाँ आने के लिए आप सभी का धन्यवाद।  हम आपकी सराहना करते हैं।  आपका धन्यवाद।

समाप्ति       दोपहर 12:29 EST


यह अनुवाद एक शिष्टाचार के रूप में प्रदान किया गया है और केवल मूल अंग्रेजी स्रोत को ही आधिकारिक माना जाना चाहिए।
ईमेल अपडेट्स
अपडेट्स के लिए साइन-अप करने या अपने सब्सक्राइबर प्राथमिकताओं तक पहुंचने के लिए कृपया नीचे अपनी संपर्क जानकारी डालें