rss

CBS 60 मिनट की मार्गरेट ब्रेनन के साथ इंटरव्यू

English English, اردو اردو

अमेरिकी डिपार्टमेंट ऑफ स्टेट
प्रवक्ता कार्यालय
तत्काल रिलीज़ के लिए
टिप्पणियाँ
18 फरवरी 2018

 

सुश्री ब्रेननरैक्स टिलरसन ने यह स्वीकार किया कि वह सेक्रेटरी ऑफ स्टेट के लिए एक अपरंपरागत चयन थे।  उनके पास कोई पिछला सरकारी अनुभव नहीं था।  लेकिन ExxonMobil के CEO की तरह, उन्होंने दुनिया भर में विदेशी नेताओं के साथ सौदे किये थे।  सेक्रेटरी टिलरसन, एक ऐसा व्यक्ति जो अभी भी अपने आपको एक बॉय स्कॉउट मानते हैं और कोड ऑफ दी वैस्ट कहे जाने वाली मार्गदर्शिका का अनुपालन करते हैं, काफी हद तक एक प्राइवेट व्यक्ति हैं और इंटरव्यूज़ से बचते रहे हैं, लेकिन वह हमारे साथ एक दुर्लभ, व्यापक श्रेणी का इंटरव्यू के लिए करने पर सहमत हुए हैं।  जबकि ओलंपिक्स चल रहे हैं और उत्तरी कोरिया उनके दिमाग पर छाया हुआ है, उन्होंने हमसे उस सबसे कड़े सौदे के बारे में बात की जिस पर कि उन्होंने पहले कभी काम किया होगा।

प्रश्न: अपनी नये साल के भाषण में, किम जोंग-उन ने कहा “अमेरिका के मुख्य क्षेत्र का सम्पूर्ण क्षेत्र हमारे परमाणु हमले की रेंज में है।”  इससे आप ज़रूर परेशान हुए होंगे।

सेक्रेटरी टिलरसन: यह हमें परेशान करता है।  यह साथ ही – हमारे समाधान को भी कठोर बनाता है।  किसी शासन द्वारा अमेरिकी लोगों के लिए इस प्रकार की धमकी स्वीकार्य नहीं है, और राष्ट्रपति हमारी सेवा – सुरक्षा विभाग के सेक्रेटरी मैटिस से बात करके – कि हम किसी भी चीज के लिए तैयार हैं, कमांडर-इन-चीफ़ के तौर पर अपनी ज़िम्मेदारियों को निभा रहे हैं।

प्रश्न: और ऐसे सैन्य विकल्प मौजूद है यदि आप विफल हो जाते हैं?

सेक्रेटरी टिलरसन: यदि मैं असफल हो जाता हूँ।  मैं अपने चीन के समकक्ष से कहता हूँ, “आप और मैं असफल होते हैं, इन लोगों को लड़ना पड़ता है।  हम ऐसा नहीं चाहते।”

प्रश्न: लेकिन क्या आप किम जोंग-उन के साथ काम करने और संभावित रूप से बातचीत करने के लिए तैयार हैं?

सेक्रेटरी टिलरसन: तो, इसे कूटनीतिक रूप से प्राप्त करने के लिए यही वह व्यक्ति है जिसके साथ हमें काम करना होगा। अब हमें यह निर्धारण करना है कि:  क्या हम शुरुआत करने तक के लिए भी तैयार हैं?  क्या वे शुरुआत करने के लिए तैयार हैं? और यदि वे नहीं हैं तो हम उन पर दबाव अभियान को चलाए रखेंगे जो अब तक चल रहा है, और हम उस दबाव को बढ़ायेंगे। और हम ऐसा कर रहे हैं।  हरेक महीने नये प्रतिबंध लगाए जा रहे हैं।  दुनिया चाहती है कि उत्तरी कोरिया बदले।

प्रश्न: खैर, इस बारे में कुछ सवाल हैं कि चीन उन्हें किस हद तक बदलते हुए देखना चाहता है?  किम जोंग-उन पर आर्थिक दबाव डालने के लिए आपको वास्तव में उनकी मदद की ज़रूरत है। आपने चीन को कौन से पुन: आश्वासन दिये हैं ताकि वे वास्तव में इसका पालन करें?

सेक्रेटरी टिलरसन: मुझे लगता है कि हमारी चीन के साथ एक सामान्य समझ है कि उत्तरी कोरिया चीन के लिए भी एक गंभीर खतरे का प्रतिनिधित्व करता है। और हम उनके साथ बहुत स्पष्ट हैं कि बातचीत करने की मेज पर पहुंचने के बाद वे इस समझौते में अहम भूमिका निभाएंगे।

प्रश्न: तो मुझे लगता है कि आप कह रहे हैं कि ये आमने-सामने वाली वार्ताएँ नहीं होंगी।  चीन भी बातचीत की मेज पर मौजूद होगा।

सेक्रेटरी टिलरसन: शुरुआत में एक-दूसरे से विचार-विमर्श हो सकते हैं।  पहले, अमेरिका और उत्तरी कोरिया द्वारा निर्धारण करने के लिए?  क्या वार्ताओं के निर्माण के स्थापन के लिए कोई कारण है?

प्रश्न: वह कौन सा लालच/भय है जो आप उत्तरी कोरिया के सामने ला रहे हैं जिससे वह बातचीत करने के लिए तैयार हो?

सेक्रेटरी टिलरसन: हम उन्हें बातचीत के लिए तैयार होने के लिए कोई लालच/भय नहीं दिखा रहे हैं।  हम बड़ी छड़ियों का प्रयोग कर रहे हैं, और उन्हें इसे समझना होगा।  यह दबाव अभियान उत्तरी कोरिया पर अपना दबाव डाल रहा है, इसके आमदनी के जरियों पर।  यह इसके सैन्य कार्यक्रमों पर दबाव डाल रहा है।

प्रश्न: लेकिन “पूरी तरह से परमाणु रहित” कहना – वे ऐसी चीज़ को क्यों छोड़ेंगे जो उनके पास पहले से मौजूद है और जिसे वे एक बीमा पॉलिसी मानते हैं?

सेक्रेटरी टिलरसन: क्योंकि इससे उन्हें कोई फायदा नहीं होता।  इससे केवल उन्हें हरमिट किंगडम होने का फायदा मिलता है, पृथक – दुनिया से राजनीतिक रूप से अलग, आर्थिक रूप से दुनिया से अलग।

प्रश्न: सेनेटर बॉब कॉरकर, सेनेट विदेशी संबंध समिति के अध्यक्ष, ने कहा, “हममें से प्रत्येक को रैक्स टिलरसन और जिम मैटिस को अगले आठ से दस महीनों के दौरान कूटनीतिक रूप से सफल होने के लिए प्रार्थना करनी चाहिए, अन्यथा हमारे देश को सबसे बड़ी सैन्य निर्णयों में से एक का सामना करना पड़ सकता है, जिसका हम सामना करते हैं।” आठ से दस महीने।  क्या आपके पास इसे करने के लिए इतना समय है।

सेक्रेटरी टिलरसन: मैं उस पूरे समय का इस्तेमाल करूंगा जो मेरे पास मौजूद है।  हमारे राजनयिक प्रयास जारी रहेंगे जब तक कि पहले बम गिरा नहीं दिया जाएगा। मेरा काम है कि कभी भी ऐसा कोई कारण न हो कि पहले बम गिराया जाए।  और हम निश्चित रूप से नहीं जानते कि घड़ी में कितना समय बचा है।

प्रश्न: लगता है कि आपने राष्ट्रपति को आश्वस्त किया है कि इस पर कूटनीतिक तरीके से काम किया जाना चाहिए, लेकिन यह हमेशा इतना स्पष्ट नहीं था। पिछले अक्टूबर में, आपने कहा था कि आप उत्तर कोरिया के साथ बातचीत करने के लिए काम कर रहे थे, और राष्ट्रपति ने ट्वीट किया, “रैक्स, लिटिल रॉकेट मैन से बातचीत करने के लिए अपना समय बर्बाद करना बंद करो।” क्या आपने उससे कहा कि उसे “लिटिल रॉकेट मैन” न कहा जाए? क्या यह एक राजनयिक शब्द है?

सेक्रेटरी टिलरसन: (हंसते हैं।) राष्ट्रपति तो करेंगे – राष्ट्रपति तो वैसे ही वार्तालाप करेंगे जैसे कि वह करते हैं।  मुख्य राजनयिक के रूप में मेरा काम यह सुनिश्चित करना है कि उत्तरी कोरिया को पता है कि हम अपने चैनल खुले रखते हैं। मैं सुन रहा हूँ। मैं बहुत सारे संदेश वापस नहीं भेज रहा हूं क्योंकि इस समय पर उनसे कहने के लिए बहुत कुछ नहीं है, इसलिए मैं आपके यह बताने के लिए सुन रहा हूँ कि आप बात करने के लिए तैयार हैं।

प्रश्न: आप कैसे जानेंगे?

सेक्रेटरी टिलरसन: वे हमें बताएंगे।  वे हमें बताएंगे।

प्रश्न: इतने स्पष्ट तरीके से?

सेक्रेटरी टिलरसन: हमें उनसे संदेश प्राप्त होते हैं।  और मुझे लगता है कि यह बहुत स्पष्ट होगा कि हम वह पहली बातचीत किस प्रकार करना चाहते हैं।

(एक वीडियो क्लिप चलनी शुरु हो जाती है)। “सेक्रेटरी टिलरसन: ‘नवीनतम क्या है?’

सुश्री ब्रेनन: जैसा कि हमने यमन में संकट के शीर्ष सहयोगियों के साथ इस मीटिंग के दौरान देखा, पूरी दुनिया अब उसका पोर्टफोलियो है।

(वीडियो क्लिप चलती रहती है)। “सेक्रेटरी टिलरसन: मुझे लगता है कि यमन से कुछ और मिसाइल हमलों की खबरें आ रही हैं…”

सुश्री ब्रेनन: लेकिन रैक्स वेन टिलरसन उत्तरी टैक्सस में मामूली साधनों के एक परिवार से आये हैं। उनका नाम कलाकारों रैक्स ऐलन और जॉन वेन से आया है क्योंकि उनके माता-पिता वैस्टर्ंस को बहुत पसन्द करते थे।

प्रश्न: हमारे पास असल में आपकी बॉय स्कॉउट की वर्दी पहने एक फोटो है।  मेरा मानना है कि आप ईगल स्कॉउट तक पहुंचे।

सेक्रेटरी टिलरसन: हां।

प्रश्न: आपकी उम्र कितनी थी?

सेक्रेटरी टिलरसन: मुझे लगता है कि मैं 14 साल का था जब यह तस्वीर ली गई।

प्रश्न: आप बहुत गर्वीले लग रहे हैं।

सेक्रेटरी टिलरसन: मैं बहुत गर्व महसूस करता हूँ।  और बहुत गर्व महसूस करता था।  अब भी करता हूँ।

प्रश्न: मैं देख सकता हूँ।  मेरा मतलब है, बॉय स्कॉउट, आप उसका जिक्र कई बार कर चुके हैं। इसने आपकी जिन्दगी में एक बड़ी रचनात्मक भूमिका अदा की है।

सेक्रेटरी टिलरसन: इसने मुझे उस रूप में रचा है जो मैं आज हूँ।

प्रश्न: क्या आप अब भी अपने आप को बॉय स्कॉउट की तरह मानते हैं?

सेक्रेटरी टिलरसन: जी हां।

प्रश्न: सही में?

सेक्रेटरी टिलरसन: बेशक।

प्रश्न: आप बॉय स्कॉउट की तरह तो ExxonMobil के CEO नहीं बन गये।

सेक्रेटरी टिलरसन: मैं बना था।

प्रश्न: आपने एक ऐसी चीज़ के बारे में बहु सी बातें की हैं जिसे आप कोड ऑफ दी वेस्ट (पश्चिम की संहिता) कहते हैं।  इसका क्या मतलब है?

सेक्रेटरी टिलरसन: खैर, पश्चिम की संहिता – जबकि पश्चिम खुल रहा था, वहां काफी हद कानून प्रवर्तन मौजूद नहीं था, और लोगों को मूल रूप से एक दूसरे की बात पर भरोसा करते थे और “जैसा कि मेरा कहा ही मेरा बांड है।” और मैंने अपने पूरे जीवन में भी इसका इस्तेमाल किया है, यहां तक कि ExxonMobil में भी। मैं उस देश के लिए राज्य के प्रमुख या उस कंपनी के CEO के साथ बैठता हूं, और हम एक दूसरे की आंखों में देखते हैं, और मैं कहूंगा, “मैं सिर्फ इतना जानना चाहता हूं कि आप इस समझौते की बातों को निभाएंगे, और मैं आपको अपना वचन देता हूं, मैं इस समझौते के अपने हिस्से को पूरा करूंगा।”

और फिर पश्चिम की संहिता की बहुत सारी बातें थी कि लोग अपने संगठनों के प्रति बहुत ही वफ़ादार थे। और “ब्रांड के लिए सवारी” वाक्यांश एक ऐसा वाक्यांश है जो हमेशा मेरे दिमाग में अटक जाता है —

प्रश्न: ब्रांड के लिए सवारी?

सेक्रेटरी टिलरसन: ब्रांड के लिए सवारी। जब एक चरवाहे को एक फॉर्म या उस संगठन के लिए नियुक्त किया जाता है, तो वह उस संगठन के लिए प्रतिबद्ध होता था।

प्रश्न: और अब आपके लिए वह कौन-सा ब्रांड है?

सेक्रेटरी टिलरसन: स्टेट डिपार्टमेंट, अमेरिकी सरकार और अमेरिकी लोग मेरे ब्रांड हैं।

प्रश्न: तो जिस नेता से आप दिसंबर, 2016 से पहले नहीं मिले थे, वे डोनाल्ड ट्रम्प थे। मुझे बताएं कि वह पहली मुलाकात कैसी थी।

सेक्रेटरी टिलरसन: हम ट्रम्प टॉवर में उनसे उनके कार्यालय में मिले और उन्होंने मुझसे बस यह कहते हुए बात करना आरंभ किया कि आप विश्व के बारे में अपने विचार के विषय में बात क्यों नहीं करते। तो हमने – हमने लगभग एक घंटा विश्व के बारे में बातचीत की। और फिर उसके बाद, वे मुझसे थोड़े एक प्रकार के बेचने के लहजे में बात करने लगे और उन्होंने कहा, “मैं चाहता हूँ कि आप मेरे सेक्रेटरी ऑफ स्टेट बनें।” और मैं चकित रह गया।

प्रश्न: क्या आपको यह नहीं पता था कि यह कोई जॉब इंटरव्यू था?

सेक्रेटरी टिलरसन: नहीं मुझे पता नहीं था। मुझे पता नहीं था। मैंने बस यह सोचा कि मैं बस उनसे बात करने और विचारों का आदान-प्रदान करने जा रहा हूँ जैसा मैंने पिछले कई राष्ट्रपतियों के साथ किया है। मैंने राष्ट्रपति ओबामा के साथ ऐसा किया। मैंने राष्ट्रपति बुश के साथ ऐसा किया। तो मैंने वास्तव में यह सोचा कि ऐसा ही रहेगा। (हंसते हैं।)

प्रश्न: क्या आपको पता था कि आप स्वयं को किस स्थिति में डाल रहे हैं?

सेक्रेटरी टिलरसन: मुझे कमोबेश पता था।

प्रश्न: आपने कुछ नीति संबंधी तर्क जीते हैं: जब अफ़गानिस्तान में फौज रखने की बात आई, तब आपने राष्ट्रपति को किन्हीं तरीकों से ईरान परमाणु सौदे को रद्द करने से रोका जैसा कि उन्होंने बताया था कि वे ऐसा करने वाले थे। आप कुछ तर्कों में हार भी गए: राष्ट्रपति पेरिस जलवायु करार से बाहर निकल गए; ट्रांस-पैसीफिक व्यापारिक भागीदारी, आपने एक ऐसे सौदे को रद्द करने के विरुद्ध चेतावनी दी जिसके लिए अमेरिका ने प्रतिबद्धता व्यक्त की थी; और आपने उनके द्वारा निर्धारित समय पर अमेरिकी दूतावास को जेरूसलम ले जाने के विरुद्ध चेतावनी दी। क्या आपके विचार में यह आपके रिकॉर्ड का सही ब्यौरा है?

सेक्रेटरी टिलरसन: मेरे विचार में अमेरिकी लोग राष्ट्रपति द्वारा लिए गए निर्णयों से विजयी हुए हैं। और यह सहमत या असहमत होने के बारे में नहीं है, क्योंकि वे निर्णयकर्ता हैं।

प्रश्न: मुझे बताएं कि ऐसे प्रशासन में काम करना कैसा लगता है जहाँ से अमेरिका बहुत-सी प्रतिबद्धताओं को नकार चुका है या नकारने की धमकी दे चुका है। यह किसी ऐसे व्यक्ति के लिए कठिन होगा जो पश्चिम की संहिता में विश्वास रखता है।

सेक्रेटरी टिलरसन: मुझे लगता है कि उनमें से कुछ के बारे में, यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि प्रतिबद्धता का स्तर क्या था। हमारे पास ऐसे करार हैं जिनमें संलग्न होने का कांग्रेस को कभी अवसर नहीं मिला है। और इसलिए राष्ट्रपति ट्रम्प को अमेरिकी लोगों द्वारा चुना गया और ऐसे बहुत से मुद्दे थे जिन पर उन्होंने कार्रवाई की।

(एक वीडियो क्लिप चलनी शुरु हो जाती है)। “प्रश्न: व्हाइट हाउस के अधिकारियों ने यह कहा है कि आपको बाहर निकाल दिया जाएगा।

सुश्री ब्रेनन: पिछले वर्ष टिलरसन ने यह नकारते हुए बहुत-सा समय खर्च किया कि राष्ट्रपति के भीतर दायरे में उन्हें अन्यों द्वारा पछाड़ा जा रहा था और वे या तो इस्तीफा देने जा रहे हैं या उन्हें निकाल दिया जाएगा।

(वीडियो क्लिप चलती रहती है)। “सेक्रेटरी टिलरसन: यह मूर्खतापूर्ण है।

सुश्री ब्रेनन: रिपोर्टों के बाद उन्होंने राष्ट्रपति को बेवकूफ़ कहा:

प्रश्न: आपने राष्ट्रपति को बेवकूफ़ कहने का खंडन क्यों नहीं किया?

सेक्रेटरी टिलरसन: यह वास्तव में पुराना प्रश्न है।

प्रश्न: क्या आप ऐसा समझते हैं कि प्रश्न का उत्तर न देने पर, कुछ लोगों ने ऐसा सोचा कि आप कहानी की पुष्टि कर रहे हैं?

सेक्रेटरी टिलरसन: मेरे ख्याल में मैंने प्रश्न का उत्तर दे दिया है।

प्रश्न: आपके ख्याल में आपने प्रश्न का उत्तर दे दिया है?

सेक्रेटरी टिलरसन: मैंने प्रश्न का उत्तर दे दिया है।

प्रश्न: क्या आपने राष्ट्रपति को बेवकूफ़ कहा?

सेक्रेटरी टिलरसन: मैं प्रश्न को महिमामंडित नहीं करने जा रहा हूँ। हमारे पास ऐसे बहुत से बड़े मुद्दे हैं जिन पर हमें बात करनी चाहिए थी। मैं इस नगर से नहीं हूँ। मैं यह मानता हूँ कि यह नगर ऐसी बहुत-सी चीज़ों के बारे में बात करना पसंद करता है जो वास्तव में महत्वपूर्ण नहीं हैं।

प्रश्न: क्या आपको लगता है कि आपके इस नगर में दुश्मन हैं?

सेक्रेटरी टिलरसन: मुझे नहीं मालूम।

प्रश्न: आपके विचार में ये रिपोर्टें कहाँ से आईं कि आप इस्तीफा दे रहे हैं या आपको निकाला जा रहा है?

सेक्रेटरी टिलरसन: मुझे इसकी कोई जानकारी नहीं है कि ये रिपोर्टें कहाँ से आई हैं। मुझे वास्तव में पता नहीं है और मैं इसके बारे में अधिक सोचता नहीं हूँ।

प्रश्न: मेरा मतलब है, आप मंत्रालय की बैठकों में जाते हैं और रिपोर्टर चिल्ला रहे होते हैं, “सर, आप कब इस्तीफा दे रहे हैं?”

सेक्रेटरी टिलरसन: मुझे कभी ऐसे प्रश्न सुनाई नहीं पड़ते। वह एकमात्र व्यक्ति जो यह जानता है कि मैं इस्तीफा दे रहा हूँ या नहीं, वह मैं हूँ।

प्रश्न: तो आपके सामने यहाँ मौजूद एक अन्य चुनौती कभी-कभी यह है कि राष्ट्रपति का संदेश कभी-कभी आपके स्वयं के संदेश से मेल नहीं खाता। मेरे विचार में आप यह मानेंगे।

सेक्रेटरी टिलरसन: जैसा कि मैंने कहा था, राष्ट्रपति अपनी स्वयं की शैली में संवाद करते हैं, अपनी स्वयं की शैली में, अपने स्वयं के शब्दों में। और समय-समय पर, मैं उनसे पूछूँगा, “क्या आप नीति बदल रहे हैं?” क्योंकि यदि हम इसे बदल रहे हैं, तो स्वाभाविक रूप से, मुझे यह पता होना चाहिए और हर किसी को पता होना चाहिए।

प्रश्न: आपने यह सोचा होगा कि वे ट्वीट करने से पहले नीति बदलने के बारे में आपसे बात करेंगे।

सेक्रेटरी टिलरसन: और उस विचार को समाप्त करने के लिए जो कभी नहीं हुआ है। मैंने जब भी हर बार उनसे बात की है, उन्होंने कहा है, “नहीं, नीति नहीं बदली है।” और मैं कहता हूँ, “फिर मैं ठीक हूँ।” (हंसते हैं।) मुझे बस यही सब जानने की ज़रूरत है।

(एक वीडियो क्लिप चलाया जाता है।) “सेक्रेटरी टिलरसन: मैंने सोचा था कि आज हम बस केवल बात करेंगे…”

सुश्री ब्रेनन: स्टेट डिपार्टमेंट के रैंकों के भीतर, ऐसी शिकायतें रही हैं कि सेक्रेटरी टिलरसन बड़ी बजट कटौतियाँ करके और महत्वपूर्ण नौकरियों को भरने में ढिलाई बरतकर अमेरिकी कूटनीति को ध्वस्त कर रहे हैं।

प्रश्न: पुष्ट राजदूतों के बिना 41 दूतावास हैं और यहाँ तक कि ऐसा उन स्थानों में है जहां संकट है। दक्षिण कोरिया, सऊदी अरब, टर्की में कोई राजदूत नहीं है। आप इसकी व्याख्या किस प्रकार करेंगे?

सेक्रेटरी टिलरसन: स्टेट डिपार्टमेंट को बिल्कुल भी ध्वस्त नहीं किया जा रहा है। हमारे पास शानदार लोग हैं, विदेशी सेवा अधिकारी, सिविल कर्मचारी, दोनों, जिन्होंने पूरे विश्व से ये भूमिकाएँ संभाली हैं और जो यहाँ आए हैं।

प्रश्न: अंतरिम आधार पर।

सेक्रेटरी टिलरसन: यह अंतरिम आधार है। तो, स्पष्ट रूप से, यह उसी प्रकार की सहायता से नहीं है जो मैं चाहता हूँ कि हर किसी को मिलनी चाहिए। लेकिन हमारे विदेश नीति उद्देश्य पूरे किए जाना जारी है (सुनाई न देने योग्य) सेनेट ने पुष्टि की थी —

प्रश्न: लेकिन इनमें से कुछ के नामिति भी नहीं हैं। मेरा मतलब है, 41 दूतावासों में राजदूत नहीं हैं।

सेक्रेटरी टिलरसन: इनमें से कुछ प्रक्रिया में हैं। यह लोगों को – या इसके महत्व को उपेक्षित करने का प्रश्न नहीं है। यह बस स्वयं प्रक्रिया की प्रकृति है।

प्रश्न: आपने बताया कि आपका व्लादीमिर पुतिन के साथ बहुत प्रगाढ़ संबंध है। आपने उनके साथ बड़े समझौते किए हैं। आप द्वारा उनके प्रति शुभकामना व्यक्त करते हुए उनके साथ शैम्पेन के साथ फोटो हैं। और उस प्रगाढ़ता से भौहें तन गई थीं। यहाँ तक कि इसने सैटरडे नाइट लाइव स्किट को भी प्रेरित किया। क्या आपने कभी वह स्किट देखा है?

सेक्रेटरी टिलरसन: मैं बना था। मेरे बच्चों ने इसकी ओर मेरा ध्यान दिलाया। (हंसते हैं।)

(एक वीडियो क्लिप चलाया जाता है।) “पुटी, हे मेरे भगवान।” “रैक्सी, बेबी…”

प्रश्न: क्या आपको हंसी आई?

सेक्रेटरी टिलरसन: बिल्कुल। बिल्कुल। मैंने ज़ोर से ठहाका लगाया।

प्रश्न: बहरहाल इससे इससे यह चिंता कम हो गई कि आपकी व्लादीमिर पुतिन के साथ दोस्ती है और उसके कारण आप और राष्ट्रपति उन्हें जवाबदेह नहीं ठहराने जा रहे हैं।

सेक्रेटरी टिलरसन: राष्ट्रपति पुतिन के साथ मेरे संबंध को अब 18 वर्ष हो गए हैं। यह हमेशा इस बारे में था कि मैं अपने शेयरधारको की ओर से सफल होने के लिए क्या कर सकता था, रूस कैसे सफल हो सकता था।

प्रश्न: सेक्रेटरी ऑफ स्टेट के रूप में क्रेमलिन में जाना कितना भिन्न था?

सेक्रेटरी टिलरसन: यह भिन्न था क्योंकि – और मुझे उसके बारे में बहुत, बहुत सावधानी से सोचना पड़ा। और जो एकमात्र बात मैंने उनसे कही, वह यह थी, राष्ट्रपति महोदय, वही व्यक्ति, लेकिन दूसरा टोप।”

प्रश्न: लेकिन गतिशीलता में बदलाव हो गया है।

सेक्रेटरी टिलरसन: गतिशीलता में इसलिए बदलाव हुआ क्योंकि मुद्दे भिन्न थे। जिसका वे प्रतिनिधित्व कर रहे हैं, वह उससे भिन्न है जिसका मैं अब प्रतिनिधित्व करता हूँ। और मैंने उनसे कहा, “मैं अब अमेरिकी लोगों का प्रतिनिधित्व करता हूँ।” और मेरे विचार में यह महत्वपूर्ण था कि इसे साफ तौर पर कहा जाए, और वे इसे स्पष्ट रूप से समझ गए। मेरा मतलब है कि वे भी इसे स्पष्ट रूप से समझ गए।

प्रश्न: लेकिन क्योंकि अब आप सेक्रेटरी ऑफ स्टेट हैं, इसलिए आपने उन पर परमाणु शस्त्रों के नियंत्रण के करारों का उल्लंघन करने, उत्तर कोरिया के प्रतिबंधों के संबंध में हेराफेरी करने, असद द्वारा नागरिकों पर क्लोरीन गैस के रासायनिक हथियारों का उपयोग करना जारी रखने देने के आरोप लगाए हैं। ऐसा लगता है कि वे आप द्वारा उन्हें दी जा रही चेतावनियों से विशेष रूप से चिंतित नहीं हैं।

सेक्रेटरी टिलरसन: मुझे नहीं मालूम। हम देखेंगे कि वे चिंतित हैं या नहीं।

प्रश्न: पिछले 30 दिनों में क्लोरीन गैस के छह हमले किए गए हैं।

सेक्रेटरी टिलरसन: यह सही है। और हमने उन्हें इस तथ्य के कारण बुलाया है क्योंकि हमारे विचार में रूस के विशेष उत्तरदायित्व हैं, उनके द्वारा रासायनिक हथियारों को नष्ट करने और यह सुनिश्चित करने के लिए उनके द्वारा की गई प्रतिबद्धताओं के कारण कि कोई रासायनिक हथियार मौजूद नहीं होना चाहिए।

प्रश्न: यह पिछले प्रशासन जैसा लगता है। यह बहुत भिन्न नहीं लगता।

सेक्रेटरी टिलरसन: जब रासायनिक हथियारों से लोगों की हत्या करने की बात आती है, तब इसे किसी तरह भिन्न नज़र नहीं आना चाहिए। मेरे विचार में एकमात्र भिन्नता इसके परिणाम हैं। और राष्ट्रपति ट्रम्प ने पहले ही यह व्यक्त कर दिया है कि इसके परिणाम होंगे।

प्रश्न: क्या इसका यह अर्थ है कि क्लोरीन गैस के हमलों के लिए अभी भी सैन्य कार्रवाई की जा सकती है?

सेक्रेटरी टिलरसन: जैसा यह – जैसा यह पिछले वर्ष अप्रैल में था, हम हमारी माँगों के बारे में गंभीर हैं कि रासायनिक हथियार किसी भी संघर्ष, में हथियार के रूप में नियमित या सामान्य नहीं हो जाने चाहिए।

प्रश्न: क्यों न वे प्रतिबंध लागू किए जाएं जिनके बारे में कांग्रेस उत्साह से यह कहती है कि वे इन्हें रूस पर लागू किए जाते हुए देखना चाहते हैं?

सेक्रेटरी टिलरसन: हमने इन्हें लागू किया है और हम ऐसा कर रहे हैं। हमने ऐसे कदम उठाए हैं जिनसे कानून के परिणामस्वरूप अनेक रूसी सैन्य बिक्रियाँ पहले ही रुक चुकी हैं और हम संभावित प्रतिबंधों के लिए अतिरिक्त व्यक्तियों का मूल्यांकन कर रहे हैं।

प्रश्न: तो मुझे पता है कि हमारे पास समय की कमी है।

(एक वीडियो क्लिप चलाया जाता है।) “…राष्ट्रपति।”

सुश्री ब्रेनन: इंटरव्यू के अंत के समीप, राष्ट्रपति की ओर से फोन कॉल के कारण हमारी चर्चा में बाधा हुई।

(वीडियो क्लिप चलती रहती है)। “सेक्रेटरी टिलरसन: वापस आइए।”

सुश्री ब्रेनन: उसके बाद, सेक्रेटरी व्हाइट हाउस जाने से पहले हमें अपनी छत पर थोड़ी देर सैर करने के लिए ले गए।

प्रश्न: आप कितनी बार राष्ट्रपति से बात करते हैं?

सेक्रेटरी टिलरसन: हम विशिष्ट रूप से प्रतिदिन बात करने का प्रयास करते हैं, भले ही यह कुछ मिनटों के लिए हो। बहुत बार, मैं किसी दौरे पर होने के दौरान उन्हें सड़क से उन्हें बस यह बताने के लिए कॉल करता हूँ कि यह कैसा चल रहा है और…”

सुश्री ब्रेनन: रैक्स टिलरसन स्टेट डिपार्टमेंट के ऊपर से नज़ारे का मज़ा लेते हैं। ऐसा लगता है कि वे वॉशिंगटन में उन कुछ लोगों में से एक हैं जिन्हें इस बात से हैरानी नहीं है कि वे अब भी वहाँ हैं।

प्रश्न: यदि मुझे उन प्रेस रिपोर्टों पर विश्वास होता जो पिछले वर्ष आपके बारे में बाहर आई थीं, तो आप सेक्रेटरी ऑफ स्टेट के रूप में यहाँ मेरे साथ बातचीत करते हुए नहीं बैठे होते। ऐसा लगता है कि आपकी राजनीतिक मृत्यु की रिपोर्टें जल्दबाज़ी थीं।

सेक्रेटरी टिलरसन: मुझे आशा है कि हमारे द्वारा किए गए इस थोड़े से आदान-प्रदान से आप व्यक्ति को बेहतर समझती हैं। मैं इसलिए अभी भी यहाँ हूँ। वे बातें मुझे परेशान नहीं करतीं। मैं यहाँ अपने देश की सेवा करने के लिए हूँ। मैंने इन राष्ट्रपति के लिए प्रतिबद्ध हूँ। मेरी बात मेरा वचन है। मैं इस ब्रांड के लिए मौजूद हूँ। मैं इसलिए यहाँ उपस्थित हूँ और कोई भी अन्य बात इसमें बदलाव नहीं कर सकती।


मूल सामग्री देखें: https://www.state.gov/secretary/remarks/2018/02/278448.htm
यह अनुवाद एक शिष्टाचार के रूप में प्रदान किया गया है और केवल मूल अंग्रेजी स्रोत को ही आधिकारिक माना जाना चाहिए।
ईमेल अपडेट्स
अपडेट्स के लिए साइन-अप करने या अपने सब्सक्राइबर प्राथमिकताओं तक पहुंचने के लिए कृपया नीचे अपनी संपर्क जानकारी डालें