rss

सेक्रेटरी ऑफ स्टेट माइक पोम्पेयो एक प्रेस उपलब्धता पर

English English, العربية العربية, Français Français, Português Português, Русский Русский, Español Español, اردو اردو

अमेरिकी डिपार्टमेंट ऑफ स्टेट
प्रवक्ता कार्यालय
तत्काल रिलीज़ के लिए                                 22 मई 2018
टिप्पणियाँ
सेक्रेटरी ऑफ स्टेट माइक पोम्पेयो
एक प्रेस उपलब्धता पर
22 मई 2018
प्रेस ब्रीफिंग कक्ष
वाशिंगटन, डी.सी.

 
 

सुश्री न्यूअर्ट:  सभी को नमस्कार।  आप सब कैसे हैं?

प्रश्न:  वैसे —

सुश्री न्यूअर्ट:  मैं अपने साथ एक खास मेहमान, हमारे 70वें सेक्रेटरी ऑफ़ स्टेट माइक पोम्पेयो, को लेकर आई हूं, जो आज व्हाइट हाउस में अपनी बैठकों से संबंधित त्वरित ब्रीफिंग देने जा रहे हैं।  मुझे मालूम है कि आप में से कुछ के सेक्रेटरी के कल के ईरान संबंधी भाषण पर कुछ सवाल हो सकते हैं।  आपके कुछ सवालों को लेने के लिए उनके पास कुछ ही मिनट हैं, और फिर फिर इसके बाद के सवाल मैं लूंगी और बाकी की ब्रीफिंग मैं ही संभालूंगी।

सेक्रेटरी पोम्पेयो, स्वागत है आपका।  यह हमारा प्रेस ब्रीफिंग रूम है।  आपको यहां पाकर अच्छा लगा।

सेक्रेटरी पोम्पेयो:  धन्यवाद, धन्यवाद।  सभी को मेरा नमस्कार।  असल में मैं इस बता करके शुरू करना चाहता हूं – यह मेरे यहां आने के लगभग एक महीने बाद है, और मैंने शुरुआत में कुछ चुनिंदा प्रतिबद्धताएं तय कीं, कम से कम जिनके लिए मैं टीम को ज़मीन पर वापस उतारूंगा।  और हमने उस दिशा में काम करने के लिए अब तक कई महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं।  अभी भी करने के लिए काफी काम बचा हुआ है, लेकिन आपको पता होना चाहिए कि मैं उसके लिए प्रतिबद्ध हूं, और हम वहां पहुंचेंगे। 

हमने भर्तियों पर रोक हटा ली है।  अब हम परिवार के सदस्यों सहित सबसे प्रतिभाशाली व्यक्ति को भर्ती कर सकते हैं – दोनों चीजें मेरे आने से पहले तक संभव नहीं थीं।  हमने अपनी कुछ वरिष्ठ स्तर की प्रक्रियाओं पर काफी प्रगति की है, ताकि हम यहां इमारत में काम करने के लिए हमारे राजदूतों और वरिष्ठ स्तर के व्यक्तियों को हासिल कर सकें।  अभी तक रिपोर्ट करने के लिए कुछ भी नहीं, लेकिन जैसा कि मैंने अपनी कन्फर्मेशन हियरिंग के समय प्रतिबद्धता जताई थी, हम सूचनाओं का अंबार लगा देंगे।  हम पूरी निष्ठा से इस पर काम करने जा रहे हैं।   यह सुनिश्चित करना मेरी सर्वोच्च प्राथमिकताओं में से एक है कि हमें यहां अमेरिकी मुख्यालय के समेत दुनिया भर में सही जगहों के लिए सही लोग मिलें, ताकि हम अपने राजनयिक मिशन को पूरा कर सकें।  मुझे आशा है कि आगामी एक-दो हफ्तों में इस बारे में कई महत्वपूर्ण घोषणाएं होंगी कि हमारे कुछ नए वरिष्ठ नेता कौन होंगे।

दूसरा, मैंने व्हाइट हाउस छोड़ दिया।  मैं दक्षिण कोरियाई लोगों के साथ द्विपक्षीय बैठकों में था।  वे रचनात्मक थीं।  मुझे लगता है कि सैंडर्स पहले ही इस बारे में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर चुके हैं, इसलिए मैं इसके बारे में सवाल उठाने से खुश हूं।  लेकिन यह कहना पर्याप्त है कि हम अपनी टीम और व्हाइट हाउस दोनों को तैयार करना जारी रखे हुए हैं, ताकि जब 12 जून को शिखर सम्मेलन की स्थिति में हम पूरी तरह से तैयार रहें, जहां तक मिशन वक्तव्य का सवाल है तो वह रत्ती भर भी नहीं बदला है।  हम परमाणुमुक्त बनाने के उद्देश्य को प्राप्त करने और इस तरह से स्थितियां निर्मित करने के लिए प्रतिबद्ध हैं जिससे उत्तरी कोरियाई शासन अब आगे दुनिया के लिए खतरा न पैदा कर सके। 

एक अंतिम राय।  मैंने कल ईरानी इस्लामी गणराज्य के संबंध में राष्ट्रपति की रणनीति पर कुछ टिप्पणियां दीं, और मुझे लगता है कि यह महत्वपूर्ण है कि मैं इस पर फिर से ज़ोर दूं कि ईरान की ओर से किए जाने वाले काम उतने मुश्किल नहीं हैं।  मैंने रिपोर्टें देखी हैं कि ये महज कल्पनाएं हैं और वे हो नहीं सकती हैं, लेकिन हम उन चीज़ों के लिए कहते हैं जो सच में काफी सरल हैं यह कि, स्पष्ट रूप से, दुनिया के अधिकांश राष्ट्र इसमें शामिल हैं। हम उनसे रियाद में मिसाइलों के हमले रोकने के लिए कहते हैं।  यह नहीं है – यह कल्पना करना कोई फैंटेसी नहीं है कि ईरानियों ने किसी अन्य राष्ट्र में मिसाइलों से हमला न करने और उस हवाई अड्डे से यात्रा करने वाले अमेरिकियों के लिए खतरा न बनने का फैसला किया है।  उनसे यह कहना कोई कल्पना नहीं है कि आतंक में लिप्त होने से हाथ खींचें।  यही वे मांगें थीं, जो हमने बाकी दुनिया पर डाली थीं।  

अगर मामला यही होता कि मध्य पूर्व में कोई अन्य देश परमाणु हथियार प्रणाली बनाना चाहे, तो हम उन्हें रोकने के लिए भी काम करेंगे।  यही वे आसान सी अपेक्षाएं हैं जिनका ईरानी शासन काफी आसानी से पालन कर सकता था, और इससे ईरानी लोगों को बहुत अधिक फायदा होता।  और इसलिए, स्पष्ट रूप से, हमने जो कुछ भी रखा है, वह एक बहुत ही सरल अपेक्षाओं जैसा लग रहा था जिसे हम दुनिया के किसी भी देश पर लाद देंगे – उस विद्वेषपूर्ण व्यवहार को रोकने के लिए जो उसके पड़ोसियों और दुनिया के अन्य हिस्सों के लिए खतरा पैदा करता है।

और इसके साथ, हीदर, मुझे कुछ सवाल लेने में खुशी होगी।

सुश्री न्यूअर्ट:  ठीक है।  सवालों के लिए बस कुछ मिनट।  मैट ली।  आप मैट से हमारे पिछले दौरे में मिले थे।  तो मैट।

सेक्रेटरी पोम्पेयो:  हाँ।  मैट, आपसे मिलकर खुशी हुई —

प्रश्न:  आपसे मिलकर खुशी हुई, महोदय। 

सेक्रेटरी पोम्पेयो:  — वॉशिंगटन में।  (हंसते हैं।)  एक सेकंड के लिए मुझे सोचना पड़ेगा कि मैं कहां था। 

प्रश्न:  खैर, यकीनन प्योंगयांग नहीं, यह तो पक्का है।  बस उत्तर कोरिया और आज की बैठकों के वक्त, हम नहीं मिले – हम अभी मिले हैं, इसलिए मुझे नहीं पता कि आप अटकलबाज हैं या नहीं।  लेकिन अगर आप अटकलबाजी करने वाले व्यक्ति थे, तो आप क्या कहेंगे कि तारीख और स्थान पर तय होने के बावजूद असल में इस बैठक के लिए क्या बाधाएं हैं?  और यदि ऐसा है – क्या आप वापस जाने या फिर से मिलने के लिए तैयार हैं, कहीं भी, किम जोंग-उन के साथ, यदि ऐसा तय किया जाता है – यदि वास्तव में शिखर बैठक के लिए पूरी तरह तैयार होना आवश्यक है?

सेक्रेटरी पोम्पेयो:  मैं पहले आपका दूसरा सवाल लूंगा।  दूसरा सवाल है कि हम यह सुनिश्चित करने के लिए क्या करेंगे कि यह एक सफल बैठक हो, चाहे यह बैठक उत्तरी कोरियाई लोगों के साथ किसी तीसरे देश में हो या कि जो कुछ भी हो सके।  हम तैयार हैं।  राष्ट्रपति हमें यह सुनिश्चित करने के लिए कहेंगे कि हमने यह यकीनी बनाने के लिए हम सब कुछ कर लिया है ताकि हमारे पास इस ऐतिहासिक सफल नतीजे का असल मौका हो। 

और मैं कोई सट्टेबाज नहीं हूं – (हंसते हैं) – इसलिए मुझे इसकी भविष्यवाणी करने की कोई परवाह नहीं होगी कि यह होगा या कि नहीं, बस यह अनुमान लगाने के लिए कि हम इस कार्यक्रम के लिए तैयार रहेंगे।

सुश्री न्यूअर्ट:  निक ब्लूमबर्ग से। 

प्रश्न:  श्रीमान सेक्रेटरी —

सेक्रेटरी पोम्पेयो:  हाँ, श्रीमान।

प्रश्न:  — बहुत-बहुत धन्यवाद।  ऐसी खबरें थीं कि जब आप किम जोंग-उन से मिले तो आपकी निगाह किसी सनसेट पर थी, और उन्होंने कथित रूप से कहा, “क्या यह अच्छा नहीं होगा अगर अमेरिकी होटल इस दृश्य में कतारबद्ध दिखते?”  क्या आपको लगता है कि वह उत्तरी कोरिया में अमेरिकी निवेश के विचार के लिए खुले हुए हैं?  और क्या आप हमें इस बारे में भी अपनी राय दे सकते हैं जो उत्तरी कोरिया के सुर में बदलाव को स्पष्ट करे?  राष्ट्रपति ने कहा कि उन्होंने सोचा था कि इसमें कहीं न कहीं चीन का हाथ है।

सेक्रेटरी पोम्पेयो:  आपका मतलब है कि पिछले हफ्ते का सुर, जो कि विरोध में —

प्रश्न:  पिछले हफ्ते में, ठीक है।

सेक्रेटरी पोम्पेयो:  — दायरा।  नहीं, मैं इसके बारे में बात नहीं करने जा रहा, इसके बारे में अटकल नहीं लगाने जा रहा।  हम तैयारी कर रहे हैं।  हम अपना काम जारी रखे हुए हैं और एक सफल बैठक की नींव रख रहे हैं।  मुझे भरोसा है कि हम वहां पहुंचेंगे। 

चेयरमैन किम के संबंध में, मैंने उन वार्तालापों के बारे में सार्वजनिक रूप से बात नहीं की है जो हमारे बीच हुए हैं।  वे मेरे और उनके बीच थे, लेकिन मुझे इसकी असल समझ है कि उन्हें अपने लोगों के लिए अमेरिकी निवेश, अमेरिकी प्रौद्योगिकी, अमेरिकी तकनीकी जानकारियों को तलाश होगी, और यही कुछ ऐसा है कि जिस पर उन्हें और मुझे आम तौर पर बात करने का मौका मिला।  और मुझे लगता है कि यह कुछ ऐसा है, अगर हम इसे सही कर पाते हैं और हम परमाणु हथियार-मुक्त बनाने के लक्ष्य को सही से हासिल कर पाते हैं, तो अमेरिका उन्हें वे बहुत सारी चीज़ें प्रदान करने में सक्षम होगा जो उत्तर कोरियाई लोगों का जीवन बेहतर बनाएंगी। 

सुश्री न्यूअर्ट:  रिच एडसन फ़ॉक्स न्यूज़ से।

प्रश्न:  आपका धन्यवाद।  धन्यवाद, श्रीमान सेक्रेटरी।

सेक्रेटरी पोम्पेयो:  नमस्कार, रिच।

प्रश्न:  दक्षिण कोरियाई सरकार ने आज संभावनाएं 99 फीसदी रखी हैं – हालांकि हम यहां विशिष्ट संख्याओं की बात नहीं कर रहे हैं।

सेक्रेटरी पोम्पेयो:  मैंने सुना है।  मैंने सुना है कि उन्होंने 99 फीसदी कहा है।

प्रश्न:  क्या ऐसा कुछ ऐसा है जिसने राष्ट्रपति ट्रम्प को उन सीधी वार्ताओं से रोक दिया है जो कि इस सरकार ने उत्तरी कोरियाइयों के साथ की हैं?  और आप कैसे कहेंगे, चूंकि आप प्योंगयांग छोड़ चुके हैं, संयुक्त राज्य अमेरिका ने उत्तरी कोरिया सरकार के साथ किस तरह का संवाद किया है?

सेक्रेटरी पोम्पेयो:  मैं इसका विशेषीकरण नहीं करूंगा।   मुझे नहीं लगता कि कुछ ऐसा है जो हमें रुकने का अहसास दिया है।   अध्यक्ष किम ने इस मीटिंग की मांग की है।   राष्ट्रपति ट्रम्प इसे करने के लिए राजी हुए हैं। हमने एक तारीख और स्थान तलाशने के लिए काम किया है।   हमने उन्हें निर्धारित कर लिया है।   और तब से, हम आगे बढ़ रहे हैं।  

यह स्पष्ट है कि हम यह सुनिश्चित करने के लिए काम कर रहे हैं कि हम जिस बात पर चर्चा करने वाले हैं, उसकी सामग्री के बारे में एक समान समझ है, लेकिन मैं आशावादी हूँ।   लेकिन फिर से, यह कुछ ऐसा हो सकता है जो अंत तक चले और यह न हो।   जैसा कि राष्ट्रपति ने कहा था, कि हम देखेंगे।  और मुझे लगता है कि यह वह जगह है जिसमें हम खुद को पाते हैं।  

सुश्री न्यूअर्ट:  AFP से फ्रांसेक्को।

प्रश्न:  हाँ।  और राष्ट्रपति ने कहा कि —

सेक्रेटरी पोम्पेयो:  हाँ, श्रीमान।

प्रश्न:  इसे करने के लिए धन्यवाद।  राष्ट्रपति ने कहा कि इस शिखर सम्मेलन में देरी हो सकती है।   क्या अब आप एक नई संभावित तारीख पर विचार विमर्श कर रहे हैं या यह उत्तरी कोरियाईयों के साथ लम्बित हो रही है?   और वे क्या मुद्दे हैं जिनकी वजह से यह 12 जून को नहीं हो सकती?   क्या वे साजो-सामान के बारे में है या उन बातों के बारे में है जिनके बारे में आप उनसे विचार-विमर्श करना चाहते हैं?

सेक्रेटरी पोम्पेयो:  हम अब भी 12 जून की तरफ ही काम कर रहे हैं।  

प्रश्न:  पर आप इसके बारे में उनसे बातचीत कर रहे हैं?

सेक्रेटरी पोम्पेयो:  हम 12 जून की तरफ ही काम कर रहे हैं।

सुश्री न्यूअर्ट:  ABC से कोनोर फिन्नेगन।

प्रश्न:  धन्यवाद, श्रीमान सेक्रेटरी।  अगर मैं कल आपके भाषण में ईरान की ओर रुख कर सकता हूं, तो आपने इस अभूतपूर्व वित्तीय दबाव के बारे में बात की थी जिसे आप ईरान पर डालना चाहते हैं।  मुझे लगता है कि आपके आलोचक, जब वे एक कल्पना की बात करते हैं, तो वे कहते हैं कि ऐसा इसलिए है क्योंकि यूरोपियन इन प्रतिबंधों पर आपके साथ नहीं जाएंगे, और इसलिए आप इस ज़बरदस्त वित्तीय दबाव को फिर से नहीं बना सकते हैं।  आप उन आलोचनाओं पर कैसे – पर क्या कहेंगे?   आप यूरोपियों को अपने साथ कैसे लाएंगे, और फिर चीन या रूस जैसे देशों को अपने साथ कैसे लाएंगे, जो इस समझौते को मानना जारी रखे हुए हैं?

सेक्रेटरी पोम्पेयो:  यह काफी स्पष्ट है।  यह एक वैश्विक चुनौती है।  यह एक वैश्विक चुनौती है।  मैंने कल अपनी टिप्पणियों में कहा था, ठीक है, यूरोपीय देशों में क्वाड सैन्य बलों द्वारा हत्याएँ।   यह दुनिया भर में एक साझा खतरा है।   और मुझे पूरा विश्वास है कि हम इकट्ठे मिलकर एक ऐसा राजनयिक प्रत्युत्तर बना सकते हैं जो उन आसान परिणामों को हासिल कर सकता है जिन्हें हमने सामने रखा है।   हम आइसलैंड को सहन नहीं करेंगे जो ईरानी कर रहे हैं।  

प्रश्न:  क्यों —

सेक्रेटरी पोम्पेयो:  हम चाड को बर्दाश्त नहीं करेंगे – मेरा मतलब है, मैं सिर्फ कोई भी बात चुन सकता हूं।  मैं इस भाषा के प्रयोग से भम्रित हूँ।   हम इराक में अमेरिकियों को धमकाने वाले प्रॉक्सी बलों को डालकर आतंकवादी गतिविधियों के साथ व्यवहार करने वाले दूसरे देश को बर्दाश्त नहीं करेंगे।  यह सूची काफी लंबी है।   हम बर्दाश्त नहीं करेंगे, है न?  

यदि किसी और ने हिज़बुल्लाह जैसा एक और संगठन बना दिया तो क्या हम चुपचाप खड़े रहेंगे?   हम नहीं रहेंगे? न ही यूरोपियन खड़े रहेंगे।   न ही अन्य अरब राष्ट्र खड़े रहेंगे।   रूस और चीन उसे दुनिया भर में सकारात्मक प्रभाव के रूप में नहीं देखते।   इसलिए मुझे पूरा विश्वास है कि परस्पर हित वाले मूल्यों और हितों का एक शेड है जो हमें दुनिया के ईरान के खतरों के इस्लामी गणराज्य के जवाब देने की आवश्यकता के बारे में एक ही निष्कर्ष पर पहुंचाएगा।

प्रश्न:  मुझे विश्वास है कि आपने कुछ प्रतिक्रियाओं को देखा होगा–

सुश्री न्यूअर्ट:  कोनोर, हमें आगे बढ़ना होगा।

प्रश्न:  अवश्य।

सुश्री न्यूअर्ट:  कायली, आप पूछें, CBS न्यूज़ से।

प्रश्न:  यदि हम आज चीन पर विचार विमर्श करते हुई राष्ट्रपति की टिप्पणियों पर वापस जा सके।   और उन्होंने – उन्होंने जब ज़ी की किम जोंग-उन के साथ दूसरी बैठक के बारे में बात की तो उन्होंने कुछ बेचैनी पैदा की है।   क्या आप उस बैठक के बारे में कुछ और जानते हैं और वे यह कहने में इतना संकोच क्यों कर रहे है कि चीनी उस बैठक में सहायक थे?

सेक्रेटरी पोम्पेयो:  मेरे पास अभी उसमें जोड़ने के लिए कुछ नहीं है जो राष्ट्रपति ने यहाँ कहा है।

प्रश्न:  ठीक है।  क्या चीनी लोग अमेरिकी-किम जोंग उन के शिखर सम्मेलन को आगे बढ़ने में मदद कर रहे हैं?   क्या आप उनकी भूमिका के बारे में बात कर सकते हैं?

सेक्रेटरी पोम्पेयो:  चीनियों ने दबाव अभियान में ऐतिहासिक सहायता की पेशकश की है – शाब्दिक ऐतिहासिक सहायता।  राष्ट्रपति ट्रम्प ने स्पष्ट कर दिया है और मैंने यह भी स्पष्ट कर दिया है कि यह अविश्वसनीय रूप से महत्वपूर्ण है कि दबाव बढ़ता रहे और चीन उस दबाव अभियान में भाग लेना जारी रखे।  और हमारे पास यह विश्वास करने का हर कारण मौजूद है कि वे ऐसा करना जारी रखेंगे।

सुश्री न्यूअर्ट:  दी वांशिगटन पोस्ट से कैरोल मोरेलो।

प्रश्न:  हैलो।

सेक्रेटरी पोम्पेयो:  हैलो।

सुश्री न्यूअर्ट:  और आप कैरोल से पहले मिल चुके हैं।

प्रश्न:  (अस्पष्ट)।  कहें, राष्ट्रपति रूहानी ने कल कहा कि उन्होंने सवाल उठाया, आप किसी और राष्ट्र को बताने वाले कौन होते हैं कि उसे अपनी विदेश नीति में क्या करना है।  तो आप यह बताने वाले कौन होते हैं कि क्या किया जाए?   आपकी उनके लिए इस पर क्या प्रतिक्रिया है?

सेक्रेटरी पोम्पेयो:  हाँ, मैंने उन टिप्पणियों को नहीं देखा।   ईरानी लोग इसका चयन करेंगे।   ईरानी लोग अपने लिए इसका चयन करेंगे कि वे किस प्रकार का नेतृत्व चाहते हैं, वे किस प्रकार की सरकार चाहते हैं।   वे उस व्यक्ति का चुनाव करेंगे जो उनके देश का नेतृत्व करें और उन्हें उन चयनों के साथ जीना होगा जो उनके नेता बनाते हैं।   मैं यह वर्णन नहीं कर रहा था कि श्रीमान रौहानी को क्या करना चाहिए या श्रीमान ज़ारिफ़ को क्या करना चाहिए। मैं केवल इतना ही बता रहा था कि अमेरिका क्या करना चाहता है।

सुश्री न्यूअर्ट:  और आखिरी सवाल, VOA से नाइक चैंग।

प्रश्न:  आपका बहु बहुत धन्यवाद, श्रीमान सेक्रेटरी।  तो मेरा सवाल ईरानियन बंधक के बारे में है।   कल आपने उल्लेख किया कि अमेरिकी बंधक घर लाने के लिए सरकार बहुत मेहनत कर रही है।  क्या आप कृपया हमें एक अपडेट दे सकते हैं और विस्तार से बता सकते हैं कि दोनों के बीच इस ठंडे संबंधों को देखते हुए क्या प्रयास चल रहे हैं?  धन्यवाद।

सेक्रेटरी पोम्पेयो:  हाँ।  मुझे लगता है कि किसी ने दो महीने पहले संयुक्त राज्य अमेरिका और डीपीआरके के संबंधों को ठंडे के रूप में वर्णित किया होता, और हमने तीन अमेरिकियों को वापस लाया है।  लगभग हमेशा हमारे नागरिकों को उन देशों द्वारा हिरासत में रखा गया है जिनके हमारे साथ दोस्ताना संबंध नहीं हैं।  हम उन महत्वपूर्ण तंत्रों को खोजने के लिए काम करते हैं जो इन महत्वपूर्ण परिणामों को प्रदान करते हैं।  मैंने कई परिवार के सदस्यों से बात की है, और मुझे पता है कि यह कितना महत्वपूर्ण है।  आप आश्वस्त रह सकते हैं कि न केवल स्टेट डिपार्टमेंट बल्कि पूरे संयुक्त राज्य अमेरिका की सरकार प्रत्येक को घर लाने के लिए मेहनत से काम कर रही है – मैंने कल कुछ हद तक नामों का उल्लेख किया था; दुनिया भर में और अधिक व्यक्ति हैं जिन्हें मैंने कल की टिप्पणियों में पहचाना नहीं था।  आपको पता होना चाहिए कि हम हर मार्ग पर परिश्रमपूर्वक काम कर रहे हैं कि हम इन लोगों को वापस घर लौटने के लिए, अपने परिवारों के पास वापस लाने के लिए विकसित कर सकते हैं।

हाँ, मेरे पास एक और सवाल लेने का समय है, हैदर।  हां।

सुश्री न्यूअर्ट:  ठीक है।  सीएनएन से मिशेल कोसिंस्की।

प्रश्न:  ठीक है, धन्यवाद।  मैं इसे हमारे समय के लायक बनाने की कोशिश कर रही हूँ।   ईरान पर —

सेक्रेटरी पोम्पेयो:  यह उपयोगी होगा।   यह अच्छा होगा।

प्रश्न:  (हँसी।)  क्योंकि यह हमारा आखिरी सवाल है।   मांग, या जो कुछ भी आप उन्हें बुलाना चाहें, जिसे आपने कल ईरान के सामने रखा था – ऐसा लगता है – कि आंशिक रूप से क्योंकि आपने सब कुछ सामने कर दिया है और आंशिक रूप से कि वे क्या हैं, वहाँ बातचीत के लिए बहुत कुछ नहीं वाला है, यदि कोई है, तो उनमें से किसी पर भी।  क्या आप इस बात पर सहमत हैं?   और क्योंकि जिस तरीके से यह रखा गया है, आपको किस बात से लगता है कि इस पर ईरान संयुक्त राज्य अमेरिका से बात करने के लिए इच्छित होगा?   अगर यह प्रतिबंध है, तो क्या इस बिंदु पर बहुत लंबा समय नहीं लगेगा?

सेक्रेटरी पोम्पेयो:  मुझे नहीं पता कि उनमें से कौन सी मांगें – क्या हम उन्हें आतंकवादी बनने की अनुमति दें?   क्या हमें इस पर समझौता करना चाहिए?

प्रश्न:  लेकिन यही मैं कह रही हूँ।  समझौते के लिए कोई स्थान ही नहीं है —

सेक्रेटरी पोम्पेयो:  क्या हम — उन्हें कितनी मिसाइलें छोड़ने की इजाज़त दी जानी चाहिए?   मेरा मतलब है, मैं —

प्रश्न:  ठीक है।  तो समझौते के लिए कौन सा स्थान बचा?

सेक्रेटरी पोम्पेयो:  जवाब है कि हम – बेंचमार्क – जिस बेंचमार्क को मैंए कल स्थापित किया वह बहुत नीचे का मानक है।   यह मानक व्यवहार है जिसकी हम दुनिया भर के देशों से उम्मीद करते हैं।  यहाँ — नियमों का कोई विशेष सेट नहीं है जिसे हमने कल ईरान के लिए निर्धारित किया था।  हमने उन्हें बस सामान्य, गैर-विद्रोही राष्ट्रों के व्यवहार के तरीके से व्यवहार करने के लिए कहा।  बस आज के लिए समाप्त।  यह सरल है।  हमने नहीं किया – रियाद में मिसाइलों को आग लगाने की अनुमति देने वाले लोगों की कोई विशेष श्रेणी नहीं है।  हमने उन्हें सिर्फ एक सामान्य राष्ट्र की तरह व्यवहार करने के लिए कहा।

और इसलिए मेरे पास यह सोचने का हर कारण मौजूद है कि ईरानी लोग भी अपने देश के लिए यही चाहते हैं।  यह एक गहरी सभ्यता और एक अद्भुत इतिहास वाला एक समृद्ध देश है, और मैं आश्वस्त हूँ – मुझे विश्वास है कि ईरान के लोग, जब वे आगे एक मार्ग देख सकते हैं जो उनके देश को इस तरह से व्यवहार करना बंद करने देगा, वे उस पथ का चयन करेंगे।

आप सभी का धन्यवाद।  मैं आपको यहाँ फिर से देखने के लिए तत्पर हूँ।

प्रश्न:  आपका धन्यवाद।

प्रश्न:  हाँ।

सेक्रेटरी पोम्पेयो:  हर किसी का दिन मंगलमय हो।

प्रश्न:  आपसे जल्द ही दुबारा मुलाकात होगी।

सेक्रेटरी पोम्पेयो:  मैं जल्दी का वादा नहीं करता, लेकिन मैं आपसे फिर मिलूंगा।   (हँसी।)

प्रश्न:  (माइक से परे)

सुश्री न्यूअर्ट:  धन्यवाद, श्रीमान।


मूल सामग्री देखें: https://www.state.gov/secretary/remarks/2018/05/282389.htm
यह अनुवाद एक शिष्टाचार के रूप में प्रदान किया गया है और केवल मूल अंग्रेजी स्रोत को ही आधिकारिक माना जाना चाहिए।
ईमेल अपडेट्स
अपडेट्स के लिए साइन-अप करने या अपने सब्सक्राइबर प्राथमिकताओं तक पहुंचने के लिए कृपया नीचे अपनी संपर्क जानकारी डालें