rss

मानव तस्करी से निबटने के लिए संदिग्ध वित्तीय गतिविधियों का पता लगाना

中文 (中国) 中文 (中国), English English, العربية العربية, Français Français, Português Português, Русский Русский, Español Español, اردو اردو

सरकारें, सिविल सोसायटी और निजी क्षेत्र की साझीदारी में, खोजी लेखा रणनीतियों का उपयोग कर सकती है जिससे कि वित्तीय संस्थान मानव तस्करी षडयंत्रों से मेल खाती गतिविधियों की पहचान कर उनके बारे में चेतावनी दे सकें।

मानव तस्करी के किसी षडयंत्र के पहचाने जाने लायक कई चरण होते हैं जिनके दौरान मानव तस्कर वित्तीय प्रणाली के संपर्क में आ सकते हैं। वित्तीय प्रणाली को संदिग्ध वित्तीय गतिविधियों का पता लगाने के लिए चेतावनी के संकेतकों को पहचानने के दिशानिर्देश उपलब्ध कराने से कानून लागू करने वाली एजेंसियों और अन्य संस्थानों को मानव तस्करी को पकड़ने और मुकदमें चलाने के प्रयासों में काफी मदद मिल सकती है।

मानव तस्करी का खुलासा करने में वित्तीय लेनदेन का उपयोग करना

हाल के वर्षों में, दुनियाभर में सरकारों ने गबन, धनशोधन और अधिकाधिक मामलों में मानव तस्करी का संकेत दे सकने वाली संदिग्ध वित्तीय गतिविधियों संबंधी रिपोर्टों को हासिल करने और विश्लेषित करने के लिए वित्तीय खुफिया इकाइयां (एफआईयू) गठित की हैं।

एफआईयू लेनदेन का पता लगाने, मुद्रा के प्रवाह पर नज़र रखने और मानव तस्करी से संबंधित सबूत जमा करने में सक्षम हैं। ये अतिरिक्त जांच की ज़रूरत वाली संदिग्ध गतिविधियों की सूची में मानव तस्करी से संबंधित चेतावनी के संकेतकों को शामिल कराने के लिए वित्तीय संस्थानों के साथ मिलकर काम कर सकती हैं। वैसे तो हर संदर्भ अपने-आप में अलग होता है, एग्मोंट समूह जैसे संस्थान – 155 से अधिक एफआईयू जिसके सदस्य हैं – वित्तीय अवयवों के सहारे अपराध से लड़ाई में अंतरराष्ट्रीय सहयोग के केंद्र के रूप में काम करते हैं, और हाल में हुई प्रगतियों से स्पष्ट है कि मानव तस्कर इनके लक्ष्यों में शामिल होने चाहिए। सरकारें मानव तस्करों को जिम्मेवार ठहराने के वास्ते संदिग्ध लेनदेनों से मिली सूचनाओं के उपयोग के लिए प्रक्रियाएं और दृष्टांत विकसित कर सकती हैं। उदाहरण के लिए, 2017 में थाईलैंड सरकार ने एक उच्चपदस्थ सरकारी अधिकारी को मानव तस्करी के अपराधों में संलिप्तता के लिए दोषी ठहराया। इस मामले में, सरकार ने षडयंत्र में उसकी भूमिका को अंशत: संदिग्ध वित्तीय लेनदेन पर नज़र रखने के कारण जाना।

अमेरिका में, अमेरिकी वित्त विभाग लक्षित प्रतिबंधों के ज़रिए मानव तस्करी से निबटने के लिए अपने अधिकारों, कानून प्रवर्तक एजेंसियों से साझीदारी, और अंतरराष्ट्रीय संपर्कों का उपयोग करता है। वित्त विभाग अनेकों अंतरराष्ट्रीय आपराधिक संगठनों, जिनमें मानव तस्करी में संलिप्त लोग भी शामिल हैं, की परिसंपत्तियों पर रोक लगाकर अमेरिकी और अंतरराष्ट्रीय वित्तीय प्रणालियों की रक्षा भी करता है। अभी जनवरी 2018 में ही, अमेरिका ने यौन कृत्य के लिए बच्चों की तस्करी समेत विभिन्न आपराधिक गतिविधियों में शामिल लाओस स्थित अंतरराष्ट्रीय आपराधिक संगठन झाओ वेई पर प्रतिबंध लगाया है।

अक्टूबर 2017 में, अमेरिकी वित्त विभाग के वित्तीय अपराध प्रवर्तन नेटवर्क ने एग्मोंट समूह की एफआईयू के ज़रिए एक मानव तस्करी परियोजना टीम की शुरुआत की है। इस परियोजना के प्रमुख उद्देश्यों में मानव तस्करी से संबद्ध वित्तीय प्रवाह की जानकारी बढ़ाना और इस अवैध प्रवाह की पहचान कर इसे अवरुद्ध करना शामिल हैं। इस अवैध वित्तीय प्रवाह को बाधित करने और मानव तस्करी के मामलों में मुकदमे चलाने लायक सूचनाएं हासिल करने के वास्ते मानव तस्करी परियोजना टीम द्विपक्षीय सूचना साझीदारी को बढ़ावा देने के लिए काम करेगी।

अंतर-सरकारी संगठनों द्वारा विकसित साधन:

•वित्तीय कार्रवाई टास्क फोर्स (एफएटीएफ) ने मानव तस्करी क्रियाकलापों के आधार पर धनशोधन संबंधी चेतावनी के संकेतकों को पहचानने और संदिग्ध लेनदेन की रिपोर्टिंग को बढ़ावा देने के लिए मानव तस्करी और आप्रवासियों की तस्करी से उत्पन्न धनशोधन के खतरे प्रकाशित किया है। एफएटीएफ मानव तस्करी से जुड़े वित्तीय प्रवाह की बदलती प्रकृति पर केंद्रित एक नए अध्ययन के सहारे इस रिपोर्ट को अद्यतन बनाने की प्रक्रिया में है।

•मानव तस्करी और आधुनिक दासता की वित्तीय जंज़ीर को खोलने की 25 चाबियां – यह मानव तस्करी से संबंधित धनशोधन की प्रक्रिया को बाधित करने के बारे में मार्च 2017 में यूएन यूनिवर्सिटी द्वारा लिखटेन्स्टाइन के संयुक्तराष्ट्र में स्थाई मिशन के सहयोग से आयोजित एक कार्यशाला पर केंद्रित रिपोर्ट है। इस रिपोर्ट में विभिन्न हितधारकों के बीच कार्रवाई योग्य प्रमुख उपायों की पहचान की गई है, जिनमें उच्च ज़ोखिम वाले उद्योगों (पाम ऑयल, कोकोआ, मत्स्य, होटल उद्योग, बड़े आयोजनों से जुड़े निर्माण आदि) के वित्तीय सेक्टर में क्रियाकलापों संबंधी रणनीति विकसित करना शामिल है।

•मानव तस्करी मामलों में मुद्रा का पता लगाने पर नीति निर्देश – आप्रवासियों की तस्करी, मानव तस्करी और संबंधित अपराधों के बारे में बाली प्रक्रिया मानव तस्करी के खिलाफ कानून प्रवर्तक एजेंसियों, अभियोजकों और वित्तीय खुफिया इकाइयों की सहायता के लिए धनशोधन विरोधी क्षेत्रीय तौर-तरीकों और परिसंपत्ति बरामद करने के साधनों को एकत्रित कर रही है।

•मानव तस्करी के मामलों के खिलाफ धनशोधन विरोधी व्यवस्थाओं का लाभ उठाना – पहचान करने, फ्रीज़ करने और ज़ब्त करने जैसी वित्तीय तकनीकों से मानव तस्करी के मामलों का पता लगाने और मुकदमा चलाने की भागीदार राष्ट्रों की आदर्श नीतियों पर यूरोपीय सुरक्षा और सहयोग संगठन (ओएससीई) की रिपोर्ट।

साझीदारी का महत्व

स्थानीय और वैश्विक उद्योगों के दिन-प्रतिदिन के काम की अवैध गतिविधियों के सबूत के लिए निगरानी एक वृहद कार्य है और सरकारें इसे अकेले नहीं कर सकती हैं। निजी वित्तीय संस्थान भी अपने ग्राहकों के लेनदेन की संभावित चेतावनी संकेतकों के लिए निगरानी की आंतरिक व्यवस्था के ज़रिए एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। ज़ोखिम को कम करने के वास्ते, वित्तीय संस्थान, ब्रांड और आपूर्तिकर्ता व्यापार में भागीदार कंपनियों और संभावित वित्तीय अपराध करने वालों से संबंधित डेटा के लिए अक्सर आंतरिक और बाह्य ज़ोखिम आकलन, विस्तृत समीक्षा, और आकलन करने वाली संस्थाओं का रुख करते हैं। ये संस्थाएं धनशोधन और कई अन्य अपराधों में मिलीभगत से बचाने के उद्देश्य से वित्तीय संस्थानों और निगमों को ग्राहकों और व्यवसाय में भागीदारों के चयन हेतु अक्सर “अपने ग्राहक को जानो” या “राजनीतिक ज़ोखिम वाले व्यक्ति” नामों से ज्ञात महत्वपूर्ण सेवाएं देती हैं। जांच उद्देश्यों और अन्य एजेंसियों से समन्वय के लिए कानून प्रवर्तक एजेंसियां और सरकारी नियामक संस्थाएं भी इन संस्थाओं और इनके डेटाबैंक पर निर्भर करती हैं।

अन्य घटक भी समाधान का हिस्सा हो सकते हैं। उदाहरण के लिए, हांगकांग स्थित एक छोटा-सा गैरसरकारी संगठन मानव तस्करी के संभावित अपराधियों के बारे में सही सूचनाओं की मात्रा बढ़ाने के लिए वित्तीय संस्थानों के साथ सहयोग करता है। यह एक मीडिया निगरानी कार्यक्रम चलाता है जिसके तहत यह मीडिया रिपोर्ट और अन्य विश्सनीय डेटा एकत्रित करता है (सीधे और गैरसरकारी सहयोगियों के ज़रिए), उसकी जांच करता है, और फिर सर्वाधिक विश्वसनीय सूचनाएं इन कंपनियों को आगे समीक्षा के लिए भेजता है। पिछले दो वर्षों में, इस संगठन ने इनकी डेटाबेस में 5,000 से अधिक संदिग्ध व्यक्तियों और कंपनियों के नाम डाले हैं, और यह इस समय 20 देशों में बड़ी संख्या में वैश्विक अनुसंधान सहयोगियों के साथ काम करते हुए हर महीने औसत 300 नाम प्रस्तुत करता है। इस मौजूदा और प्रभावी सांस्थानिक ढांचे के तहत डेटा की मात्रा में विस्तार मानव तस्करी से संबद्ध वित्तीय प्रवाह और आपूर्ति व्यवस्था में भारी अवरोध खड़ा करने में सहायक हो सकता है, जो इसे मानव तस्करी की रोकथाम और मानव तस्करी से जुड़े अपराधियों पर मुकदमे के लिए एक प्रभावी तंत्र बनाता है।

मौजूदा संस्थागत ढांचे के भीतर सहयोग, डेटा संग्रह और सूचना साझाकरण का इस्तेमाल मानव तस्करी से जुड़े वित्तीय प्रवाह को प्रभावी ढंग से बाधित करने में हो सकता है, इसलिए यह मानव तस्करी की रोकथाम और मानव तस्करों पर मुकदमे, दोनों ही के लिए प्रभावी साधन उपलब्ध कराता है।

मानव तस्करी संबंधी चेतावनी के संकेतों के उदाहरण*

•नकदी का उपयोग: कूरियरों और मुद्रा प्रेषकों के माध्यम से; बार-बार नकदी की निकासी तथा पहचान किए जाने और सूचित करने की अनिवार्यता से बचने के लिए कम मात्रा में मुद्रा स्थानांतरण;

•एकाधिक बैंक खातों और क्रेडिट कार्डों, और साथ ही एकाधिक वैकल्पिक पहचानों और पतों का उपयोग;

•फर्जी कंपनियों, काल्पनिक व्यक्तियों, या झूठे पहचान दस्तावेजों का उपयोग;

•ग्राहक प्रोफाइल की तुलना में असंगत जीवन शैली;

•संदिग्ध या ज्ञात आपराधिक अतीत वाले लोगों से संबंध;

•जमीन-जायदाद/महंगी चीज़ों में निवेश के लिए नकदी का उपयोग;

•किसी प्रत्यक्ष व्यवसाय स्रोत के बगैर बारंबार जमा या निकासी;

•किसी वैध व्यवसाय की बुनियाद के बगैर बैंकिंग परिचालन;

•व्यवसाय की सामान्य संचालन अवधि से असंगत समय में एटीएम और क्रेडिट कार्ड्स का उपयोग;

•“ज़ोखिम” वाले देशों में बारंबार धन भेजा जाना;

•असंबद्ध पक्ष द्वारा विभिन्न बैंक शाखाओं और एटीएम के ज़रिए नकदी जमा किया जाना;

•कैसिनो, आयात/निर्यात आदि के ज़रिए धनशोधन; और

•हवाला या अन्य अनौपचारिक बैंकिंग प्रणालियों का उपयोग।

*यह संकेतकों की एक सांकेतिक सूची मात्र है, जोकि पूर्ण नहीं है। कोई एक लेनदेन या चेतावनी संकेत अपने आप में मानव तस्करी का स्पष्ट संकेतक नहीं है; तदनुसार वित्तीय संस्थान अन्य कारकों के साथ चेतावनी संकेतकों के उपयोग पर विचार कर सकते हैं, जैसे किसी ग्राहक की प्रोफाइल और अपेक्षित लेनदेन की गतिविधियां। चेतावनी संकेतकों की अधिक विस्तृत सूची के लिए एफएटीएफ, मानव तस्करी और आप्रवासियों की तस्करी से उत्पन्न धनशोधन के खतरे, एफएटीएफ रिपोर्ट (जुलाई 2011), अनुलग्नक बी देखें। उन गतिविधियों की पहचान करने जोकि आप्रवासियों की तस्करी और मानव तस्करी से संबद्ध हो सकती हैं के बारे में FinCEN दिशानिर्देश – वित्तीय चेतावनी संकेतक, भी देखें।


मूल सामग्री देखें: https://www.state.gov/j/tip/rls/fs/2018/283549.htm
यह अनुवाद एक शिष्टाचार के रूप में प्रदान किया गया है और केवल मूल अंग्रेजी स्रोत को ही आधिकारिक माना जाना चाहिए।
ईमेल अपडेट्स
अपडेट्स के लिए साइन-अप करने या अपने सब्सक्राइबर प्राथमिकताओं तक पहुंचने के लिए कृपया नीचे अपनी संपर्क जानकारी डालें