rss

सेक्रेटरी ऑफ स्टेट माइकल आर. पोम्पेयो द्वारा आरंभिक टिप्पणियाँ सीनेट की फॉरेन रिलेशंस कमेटी के समक्ष

English English, العربية العربية, Français Français, Português Português, Русский Русский, Español Español, اردو اردو

अमेरिकी डिपार्टमेंट ऑफ स्टेट
प्रवक्ता कार्यालय
तत्काल रिलीज़ के लिए
टिप्पणियां
वाशिंगटन, डी.सी.
25 जुलाई 2018

 

 

सेक्रेटरी पोम्पेयो: गुड आफ्टरनून, चेयरमैन कॉर्कर, रैकिंग मेंबर मेनेन्डेज़ और सम्मानित सदस्यों। आज आपके साथ रहने का अवसर देने के लिए धन्यवाद।
मेरे नाम की पुष्टि के लिए सुनवाई के दौरान आपने मुझसे कई वैश्विक समस्याओं पर काम करने के लिए कहा था, और 12 हफ्ते से मैं बस यही कर रहा हूं। मैं उम्मीद करता हूं कि आज हमें उनमें से प्रत्येक के बारे में बात करने का अवसर मिलेगा। पिछले कुछ हफ्तों से मैं इस समिति की विशिष्ट रुचि के तीन क्षेत्रों में संलग्न रहा हूं: वे हैं उत्तर कोरिया, नाटो और रूस।

रूस के विषय में, मैं आज शुरुआत में ही कुछ बातें आपके ध्यान में लाना चाहता हूं। आज ट्रम्प प्रशासन उसे जारी करने जा रहा है जिसे हम क्रीमिया घोषणा कहते हैं। मैं पूरी बात नहीं पढ़ूंगा। मैं इसे रिकॉर्ड के लिए प्रस्तुत करूंगा। इसे सार्वजनिक रूप से भी जारी किया गया है। लेकिन एक भाग निम्नानुसार कहता है: “संयुक्त राज्य अमेरिका रूस से उन सिद्धांतों का सम्मान करने जिनका उसने लंबे समय से पालन करने का दावा किया है और क्रीमिया से अपना कब्जा समाप्त करने की अपील करता है।” उद्धरण की समाप्ति।

मैं इस समिति को आश्वस्त करना चाहता हूं कि संयुक्त राज्य अमेरिका क्रेमलिन के क्रीमिया पर कथित विलय को मान्यता नहीं देता है और न ही देगा। हम यूक्रेन और उसकी क्षेत्रीय अखंडता के लिए हमारी प्रतिबद्धता के मामले में सहयोगियों, भागीदारों और अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के साथ मिलकर खड़े हैं। जब तक कि रूस क्रीमियाई प्रायद्वीप का नियंत्रण यूक्रेन को नहीं लौटा देता, क्रीमिया से जुड़े प्रतिबंधों की कोई राहत नहीं मिलेगी। यह क्रीमिया घोषणा संयुक्त राज्य अमेरिका की वैधता अमान्य करने की नीति को औपचारिक रूप से लागू करती है।

राजनयिक प्रगति का एक संकेतक और है जिसका मैं उल्लेख करना चाहता हूं। आज सुबह, लगभग दो साल से तुर्की की जेल में कैद पास्टर एंड्रयू ब्रनसन को बुका में जेल से रिहा कर दिया गया है। वह अभी भी नज़रबंद हैं, इसलिए हमारा काम पूरा नहीं हुआ है, लेकिन यह प्रगति स्वागत योग्य है – एक तो यह कि आपमें से कई शामिल हुए हैं और साथ ही कुछ स्टेट डिपार्टमेंट मेहनत से उस पर काम कर रहा है। हम विदेशों में अन्यायपूर्वक कैद करके रखे गए सभी अमेरिकियों की जल्द से जल्द वापसी के लिए काम करना लगातार जारी रखेंगे। राष्ट्रपति ट्रम्प कभी भी हमारे अपनों के बारे में नहीं भूलेंगे।

इन मुद्दों पर हमारी कूटनीति राष्ट्रपति ट्रम्प की उस राष्ट्रीय सुरक्षा रणनीति को आगे बढ़ा रही है, जिसने दिसंबर में अमेरिकी विदेश नीति के लिए मार्गदर्शक सिद्धांत निर्धारित किए थे। अप्रैल के अंत में, मैंने सेक्रेटरी ऑफ स्टेट के रूप में रणनीति पर कार्य करना शुरू कर दिया। और आज, 1 जुलाई को – माफ करें, आज हम यहां हैं, और मैं इस दिशा में हुई कुछ प्रगति आपके समक्ष प्रस्तुत करना चाहता हूं।

राष्ट्रीय सुरक्षा रणनीति ने “अमेरिकी लोगों, मातृभूमि, और अमेरिकी जीवन शैली की रक्षा” को हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा के स्तंभों के रूप में स्थापित किया है। 17 जुलाई को राष्ट्रपति ट्रम्प ने अपना दृढ़ विश्वास व्यक्त किया था कि “ विवादों और शत्रुता से कूटनीति और संलग्नता बेहतर हैं।” इन सिद्धांतों ने उत्तर कोरिया पर हमारी कार्रवाइयों का मार्गदर्शन किया है। राष्ट्रपति ट्रम्प की कूटनीति ने एक ऐसी स्थिति में कमी आई है जिसमें विवादों की संभावना रोज़ाना बढ़ रही थी। अमेरिकी उनकी कार्रवाइयों की बदौलत और सुरक्षित हुए हैं।
जहां तक उत्तर कोरिया पर ट्रम्प प्रशासन के लक्ष्यों का सवाल है, तो कुछ भी नहीं बदला है। उत्तर कोरिया को पूर्ण रूप से सत्यापित परमाणुमुक्त बनाने का हमारा लक्ष्य अंतिम है, जैसा कि चेयरमैन किम जोंग-उन ने सहमति दी है।

चेयरमैन किम के साथ राष्ट्रपति के सफल शिखर सम्मेलन के अनुसरण में, सिंगापुर में किए गए वादों पर प्रगति करने के लिए मैंने 5 जुलाई को उत्तर कोरिया की यात्रा की थी। हम रोगी वाली कूटनीति में संलग्न हैं, लेकिन हम इसे अंतहीनता तक नहीं खींचने देंगे। मैंने वाइस चेयरमैन किम योंग-चोल के साथ अपनी सार्थक चर्चा में इस स्थिति पर ज़ोर दिया।

राष्ट्रपति ट्रम्प उत्तर कोरिया को परमाणुमुक्त बनाने की संभावनाओं के बारे में उत्साहित बने हुए हैं। प्रगति हो रही है। हम चाहते हैं कि चेयरमैन किम जोंग-उन अपने उन वादों को पूरा करें जो कि उन्होंने सिंगापुर में किए थे। जब तक उत्तर कोरिया सामूहिक विनाश के अपने हथियारों को नष्ट नहीं करता, हमारे प्रतिबंध, और जो संयुक्त राष्ट्र की ओर से हैं, वे प्रभावी बने रहेंगे। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के कई प्रस्ताव उत्तर कोरिया से उसके सामूहिक नरसंहार के सभी हथियारों और बैलिस्टिक मिसाइल कार्यक्रम को समाप्त करने की अपेक्षा करते हैं। वे प्रस्ताव सर्वसम्मति से पारित हुए थे और वे बाध्यकारी बने हुए हैं। हमें नितांत आवश्यकता है कि प्रत्येक राष्ट्र उन प्रतिबंधों को लागू करना जारी रखे जिनके लिए प्रत्येक राष्ट्र प्रतिबद्ध है। आगे का रास्ता आसान नहीं है, लेकिन सुरक्षित विश्व और उत्तर कोरिया के लिए उज्जवल भविष्य की हमारी उम्मीदें अटल हैं।

राष्ट्रीय सुरक्षा रणनीति “शक्ति से शांति” का भी आह्वान करती है। नाटो पर राष्ट्रपति की संलग्नता का नतीजा यह हुआ है कि अन्य देश और अधिक बोझ साझा करने के लिए तैयार हुए हैं, जो कि पूरे गठबंधन को बेशुमार पारंपरिक और गैर पारंपरिक खतरों के खिलाफ मज़बूत करेगा। सहयोगियों ने 2016 से बढ़े हुए रक्षा खर्चों में $40 बिलियन से अधिक खर्च किए हैं, और आने वाले सालों में करोड़ों-अरबों डॉलर और होंगे।

पिछले साल $14.4 बिलियन नए खर्च के रूप में थे, जो कि 5.1 प्रतिशत की वृद्धि थी। यह एक पीढ़ी में सर्वाधिक है। आठ सहयोगी इस साल 2 प्रतिशत पूरा करेंगे; 18 वर्ष 2024 तक ऐसा करने की राह पर हैं। ट्रम्प प्रशासन मांग कर रहा है कि हर देश अपनी प्रतिबद्धता तय करे।

नाटो अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा का एक अपरिहार्य स्तंभ बना रहेगा। हमें पता है कि कमज़ोरी हमारे दुश्मनों को उकसाती है, लेकिन ताकत और एकजुटता हमारी रक्षा करती है। जितना ज्यादा प्रत्येक नाटो सदस्य योगदान देगा, यह गठबंधन हमारे हर देश के खतरे को रोकने के अभियान को उतना ही बेहतर ढंग से पूरा कर सकेगा। यही वह बढ़ी हुई प्रतिबद्धता है जिसे राष्ट्रपति चाहते हैं।

इस प्रशासन की शुरुआत से ही, राष्ट्रीय सुरक्षा रणनीति और रूसी एकीकृत रणनीति, हमारा दृष्टिकोण वही रहा है: जब तक व्लादिमीर पुतिन कम टकराव वाली विदेश नीति का चुनाव नहीं करते हैं, तब तक अपने राष्ट्रीय हित में संवाद के लिए दरवाजे खुले रखते हुए आक्रामकता की लागत को निरंतर बढ़ाया जाए। हमारे दो देशों के बीच में, संयुक्त राज्य अमेरिका और रूस के पास दुनिया के परमाणु हथियारों का 90 प्रतिशत से ज्यादा हिस्सा रखते हैं। राष्ट्रपति ट्रम्प मानते हैं कि दो महान परमाणु शक्तियों में विवाद वाला संबंध नहीं होना चाहिए। यह सिर्फ हमारे ही हित में नहीं है, बल्कि पूरी दुनिया के हित में है। वह दृढ़ता से विश्वास करते हैं कि यह राष्ट्रपति पुतिन को यह स्पष्ट करने के लिए हमारे संबंधों में सीधे संवाद का समय है कि यहां हमारे संबंधों के नकारात्मक क्रम को उलटने की संभावना है, भले ही यह कितनी ही दूर हो। अन्यथा, प्रशासन रूस की दुर्भावनापूर्ण गतिविधियों के जवाब में उसके खिलाफ कड़े प्रतिबंध लागू करना जारी रखेगा।

हम आपसी चिंताओं के मुद्दे पर तब तक प्रगति नहीं कर सकते जब तक कि हम उनके बारे में बात नहीं कर रहे हों। मैंने सुना है कि इस पैनल में आप में से कई ऐसा बरसों-बरस से कहते आ रहे हैं। मैं आतंकवाद रोकने, यूक्रेन में शांति बहाली, सीरिया में गृहयुद्ध रोकने और मानवीय सहायता की आपूर्ति, इज़रायल के लिए सुरक्षा सुनिश्चित करने, और ईरान की सभी दुर्भावनापूर्ण गतिविधियों को बंद करने जैसे प्रमुख मुद्दों का जिक्र कर रहा हूं।

और ईरान के विषय पर, राष्ट्रपति ट्रम्प ने कहा था कि “ईरान वह देश नहीं है जो वह पांच महीने पहले था।” ऐसा इसलिए है कि वित्तीय दबाव का हमारा अभियान, परमाणु समझौते से हमारी वापसी, और ईरानी लोगों को हमारा पुरज़ोर समर्थन, जिसे मैंने पिछले रविवार के एक भाषण में व्यक्त किया था, का असर हो रहा है।

हेलसिंकी में, हम यह जानना चाहते थे कि क्या रूस की हमारे साथ संबंध सुधारने में दिलचस्पी है लेकिन यह स्पष्ट कर दिया कि गेंद रूस के पाले में है। हमने सीरिया और यूक्रेन में अमेरिका के मूलभूत रणनीतिक हितों की रक्षा की है, और मैंने व्यक्तिगत रूप से रूसियों को यह स्पष्ट कर दिया है कि हमारी लोकतांत्रिक प्रक्रियाओं में हस्तक्षेप के गंभीर दुष्परिणाम होंगे।

मैं यह भी जोड़ूंगा कि राष्ट्रपति ट्रम्प उन चुनौतियों से अच्छी तरह वाकिफ हैं जो कि रूस ने संयुक्त राज्य अमेरिका और हमारे साझेदारों और सहयोगियों के सामने खड़ी की हैं। उन्होंने हमारे हितों की रक्षा के लिए कई कदम उठाए हैं। मैं बस कुछ सबूतों के रूप में निम्नलिखित का हवाला देना चाहूंगा: ट्रम्प प्रशासन में रूसी संस्थाओं और व्यक्तियों पर 213 प्रतिबंध; संयुक्त राज्य अमेरिका से 60 रूसी जासूस निष्कासित और ब्रिटेन में रूस के रासायनिक हथियार के उपयोग के जवाब में सियाटल में रूसी दूतावास को बंद किया गया; सैन फ्रांसिस्को में रूसी वाणिज्यदूतावास को बंद किया गया, रूस ने लगभग 70 प्रतिशत तक अमेरिका में राजनयिक स्टाफ घटाया; अकेले इसी साल यूरोप में 150 सैन्य अभ्यासों में अगुआई या भागीदारी की गई; 11 बिलियन से अधिक की राशि यूरोपीय रक्षा [1] पहल के लिए रखी गई है; हमने यूक्रेन और जॉर्जिया के लिए रक्षात्मक हथियार उपलब्ध कराए हैं; और अभी पिछले सप्ताह रक्षा विभाग ने – यह हेलसिंकी के बाद है – यूक्रेन के लिए सुरक्षा सहयोग में अतिरिक्त $200 मिलियन जोड़े हैं। राष्ट्रपति ट्रम्प के आने से पहले पिछले आठ वर्षों में इसमें से कुछ भी नहीं हुआ था।

अगर आपके लिए इतना पर्याप्त नहीं है, तो एक लंबी सूची है। इसे पूरी तरह बताने में मुझे खुशी होगी, और मैं अनुमान लगा रहा हूं आज किसी समय मुझे यह मौका मिलेगा। मैं इसके लिए तत्पर हूं।

अंत में, मैं चाहता हूं कि आप जान लें कि राष्ट्रपति ट्रम्प ने कहा है कि वह हमारे खुफिया समुदाय के इस निष्कर्ष को स्वीकार करते हैं कि रूस ने 2016 के चुनाव में दखल दिया था। जो कुछ भी हुआ उन्हें इसकी पूरी और सही समझ है। मुझे पता है; मैंने उन्हें एक साल से अधिक समय से अवगत कराया है। यह व्यक्तिगत रूप से मेरे लिए पूरी तरह से स्पष्ट है। मुझे यह भी यकीन है कि वे खुफिया समुदाय के हमारे देशभक्तों द्वारा हर रोज़ किए जाने वाले कठिन और खतरनाक काम का सम्मान करते हैं, और मैं जानता हूं कि वे संयुक्त राज्य अमेरिका के डिपार्टमेंट ऑफ स्टेट में काम करने वाले शानदार लोगों के बारे में भी उसी तरीके से महसूस करते हैं।
धन्यवाद, चेयरमैन कॉर्कर।


मूल सामग्री देखें: https://www.state.gov/secretary/remarks/2018/07/284487.htm
यह अनुवाद एक शिष्टाचार के रूप में प्रदान किया गया है और केवल मूल अंग्रेजी स्रोत को ही आधिकारिक माना जाना चाहिए।
ईमेल अपडेट्स
अपडेट्स के लिए साइन-अप करने या अपने सब्सक्राइबर प्राथमिकताओं तक पहुंचने के लिए कृपया नीचे अपनी संपर्क जानकारी डालें