rss

ईरान ब्रायन हुक के लिए विशेष प्रतिनिधि

English English, العربية العربية, Português Português, Español Español, اردو اردو, Русский Русский

अमेरिकी डिपार्टमेंट ऑफ स्टेट
प्रवक्ता कार्यालय
तत्काल रिहाई के लिए
ऑन-द-रिकॉर्ड-ब्रीफिंग
2 नवंबर, 2018

 
 

ईरान ब्रायन हुक के लिए विशेष प्रतिनिधि

प्रेस संवाददाता का कमरा

वाशिंगटन डी. सी.

मि. हुक:  मुझे प्रश्न लेने में खुशी है।  और आपने सचिव की बात सुनी है।  मैं बस (न सुनाई देने वाला)।

प्रश्न:  वे आठ देश कौन से हैं?

मि. हुक:  अह?

प्रश्न:  वे आठ देश कौन से हैं? 

प्रश्न:  वे आठ देश कौन से हैं? 

मि. हुक:  सोमवार:  सोमवार:

प्रश्न:  क्या आप कम से कम कह सकते हैं कि दोनों ने क्या कहा है कि वे शून्य में कटौती करेंगे क्योंकि ऐसा लगता है कि उनके साथ वार्ता खत्म हो गई है?

मि. हुक:  यह होगा – यह सब सोमवार को घोषित किया जायेगा।

प्रश्न:  लेकिन आज ये सब क्यूँ करना है अगर बहुत कम जानकारी उपलब्ध है?

मि. हुक:  आज बहुत जानकारी दी गयी थी।  दोनों सचिवों द्वारा पूरा विवरण दिया गया था।  तो–

प्रश्न:  बहुत जानकारी नहीं थी।

मि. हुक:  प्रतिबंध सोमवार से वापस प्रभावी हो जाएंगे।  यह आज एक पूर्वावलोकन था।

प्रश्न:  क्या मैं पूछ सकता हूं, हालांकि, अरशद ने जो सवाल पूछा था- देश के बजाय क्षेत्राधिकार शब्द का उपयोग करते हुए, क्या हम मान सकते हैं कि “टी” से शुरू होने वाले एक द्वीप के कारण आप देश के बजाय क्षेत्राधिकार का उपयोग कर रहे हैं?  या क्या यह—  

मि. हुक:  मैं सोचता हूँ –  

प्रश्न:  ताइवान। मैं करूँगा —

प्रश्न:  क्या क्षेत्राधिकार का अर्थ एक से अधिक सरकार हो सकता है, या इसका मतलब एक सरकार है?

मि. हुक:  क्या सचिव मनुचिन ने यही कहा था?

प्रश्न:  उन्होंने कहा था – नहीं, पोम्पेओ

प्रश्न:  दोनों, दोनों।  पोम्पेओ – दोनों ने कहा था–

प्रश्न:  उन्होंने क्षेत्राधिकार शब्द का प्रयोग किया था।

प्रश्न:  – देश नहीं क्षेत्राधिकार, यही कारण है – मेरा मतलब है, यह एक तकनीकी पॉइंट है, लेकिन, लेकिन मैं बस – और मुझे लगता है – मैं समझ सकता हूं कि आप नाम नहीं बताना चाहते हैं।

मि. हुक:  मैं उन सबको नहीं जानता हूँ।  मैं नहीं जानता हूँ।

प्रश्न:  लेकिन सब उन आठ देशों के हैं?

प्रश्न:  अकेली सरकार?

प्रश्न:  देश?

मि. हुक:  हाँ।

प्रश्न:  हाँ देश या हाँ सरकारें?

मि. हुक:  वे—वे– 

प्रश्न:  अगर ताइवान उनमें से एक है, उसके कारण – 

मि. हुक:  मुझे समझ आ रहा है।  वे देश हैं।  वे देश हैं।

प्रश्न:  ठीक है।  तो ताइवान नहीं है।

मि. हुक:  मैं यह नहीं कहने वाला हूँ कि क्या नहीं है।  मैं कह रहा हूँ कि आठ देश।

प्रश्न:  क्या मुझे SREs पर स्पष्टता मिल सकती है?

मि. हुक:  हाँ।

प्रश्न:  कल आपने कहा था कि छूट छह महीने की अवधि के लिए दी जाती है और फिर मूल्यांकन दोबारा किया जाता है। 

मि. हुक:  ऐसा कानून के अनुसार है।

प्रश्न:  सही है।  और फिर सचिव ने कहा कि उन्हें बंद करने के लिए कुछ हफ्ते अधिक समय लगेगा।  क्या इतना ही-यह उन सभी आठों के लिए सम्मिलित जिनको दिए जा रहे हैं या बस -  

मि. हुक:   नहीं, वो – वहां वह उन दो देशों के बारे में बात कर रहा था जो SRE प्राप्त करेंगे, उन्हें थोड़ा अधिक समय मिलेगा, कुछ हफ्ते, शून्य तक पहुँचने के लिए।

प्रश्न:  लेकिन वे – अगर वे अभी भी – कानून के अनुसार छूट अभी भी छह महीनों के लिए हैं?

मि. हुक:  लेकिन परिचालन रूप से यह केवल कुछ ही हफ्तों के लिए उपयुक्त है – लेकिन कानून के अनुसार, जब हम SRE देते हैं, तो यह 180 दिनों के लिए होता है।

प्रश्न:  सही है।

मि. हुक:  और यह 2012 के राष्ट्रीय रक्षा प्राधिकरण अधिनियम, एनडीएए के तहत है।  और इसलिए यह 180 दिन का SRE है।  इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि वे वहां जाते हैं – मेरा मतलब है, यह है कि – प्रत्येक देश अलग है।  दो देशों में, वे SRE की समाप्ति से पहले शून्य तक पहुंचेंगे।

प्रश्न:  क्या आप ईरान को सामान्य शासन की तरह व्यवहार करने की कोशिश करने के व्यापक प्रयासों के बारे में बात कर सकते हैं?  मेरा मतलब है, क्या इसमें ट्विटर मैसेजिंग या सोशल मीडिया मैसेजिंग शामिल है, या यह उससे अधिक कुछ है, विपक्षी समूहों या प्रदर्शनकारियों का समर्थन करने के बारे में अधिक ठोस?

प्रश्न:  क्या यह केवल ट्विटर संदेशों से अधिक है?  क्या कुछ ऐसा है – क्या अमेरिका प्रदर्शनकारियों को बढ़ावा देने के लिए कुछ कर रहा है?

मि. हुक:  ईरानी शासन ऐतिहासिक रूप से बातचीत करने नहीं आया है महत्वपूर्ण आर्थिक और राजनयिक दबाव अनुपस्थित।  हमारे प्रतिबंधों को दोबारा लगाना दो चीजों को करने के लिए बनाया गया है:  उस शासन को राजस्व न देना जिसे विदेशों में हिंसक युद्धों के पैसे देने के की आवश्यकता है, और हमारे पक्ष में लागत-लाभ विश्लेषण को बदलने के लिए भी ताकि ईरान फिर से बातचीत करने का फैसला कर सके। 

अयातोला खमेनी ने कहा है कि संयुक्त राज्य अमेरिका के साथ शत्रुता की आवश्यकता है, जो ऐसी बात है जिसे आप एक क्रांतिकारी शासन से सुनने की उम्मीद करते हैं।  हम बहुत स्पष्ट रहे हैं।  सचिव पोम्पेओ बहुत स्पष्ट रहे हैं कि जो भी संभव है, हम सुन रहे हैं।  हम मई में छोड़े गए अपर्याप्त ईरान परमाणु समझौते को बदलने के लिए एक नए और बेहतर सौदे पर काम करना शुरू करना चाहते हैं, और अधिकतम आर्थिक दबाव का हमारा अभियान उस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए एक महत्वपूर्ण रणनीति है।

प्रश्न:  लेकिन वह भी लोकतंत्र बहाल करने के बारे में बात कर रहा है। 

मि. हुक:  प्रशासन के सभी स्तरों पर राष्ट्रपति, राज्य सचिव, उपराष्ट्रपति, ईरानी लोगों और बेहतर जीवन के लिए उनकी आकांक्षाओं के साथ खड़े रहे हैं ।  ईरानी लोग एक और प्रतिनिधि सरकार चाहते हैं, एक ऐसी सरकार जो उन्हें सरेआम न लूटे, जो उनके मानवाधिकारों, उनके आर्थिक अधिकारों, अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता, असेंबली की स्वतंत्रता का समर्थन करे।  ये सभी अधिकार हैं जो संयुक्त राज्य अमेरिका ईरानी लोगों के लिए चाहता है।  हमें लगता है कि उन्हें बेहतर जीवन का अधिकार है, और सचिव पोम्पेओ ने इस शासन से सुधारों की मांगों के समर्थन में ईरानी लोगों को बार-बार यह बात कही है।

प्रश्न:  कैसे – मैं वह सवाल पूछना चाहता हूं जो गार्डिनर ने कल खशोगी हत्या और यमन में युद्ध के बारे में पूछा था और इसमें उसकी क्या भूमिका है।  मेरा मतलब है, एक तरफ आप ईरान के मानवाधिकार रिकॉर्ड पर इतना ध्यान दे सकते हैं, दूसरी तरफ ऐसे ही कुछ मुद्दों पर सऊदी पर दबाव डालने के लिए पर्याप्त कोशिश नहीं कर रहे हैं, ऐसा कैसे?

मि. हुक:  हम ईरानी शासन के साथ हितों या मूल्यों को साझा नहीं करते हैं।  हमने सऊदी अरब से तेल उत्पादन को बढ़ाने के लिए कहा है, जबकि हम बाजार से ईरानी तेल हटा देंगे, और सऊदी अरब इस समय के दौरान तेल की पर्याप्त आपूर्ति करने को सुनिश्चित करने में बहुत मददगार रहा है, जहां हमने ईरानी क्रूड के आयात में प्रभावशाली कटौती देखी है जो हमारे अधिकतम आर्थिक दबाव अभियान का हिस्सा है।  सऊदी सरकार ने व्यापक राजनीतिक मुद्दों से तेल को सफलतापूर्वक सुरक्षित किया है, और यह हमारे दबाव अभियान के व्यापक संदर्भ में सहायक रहा है।

प्रश्न:  खैर, सिर्फ शैतान के वकील होने के लिए, मैं ईरान पर सऊदी के साथ तुम्हारे साझा हितों को समझता हूं।  लेकिन कौन से साझा हित, अमेरिका के सऊदी के साथ साझा मूल्य क्या हैं – मानवाधिकारों का सम्मान?

मि. हुक:  मैं केवल यह कह सकता हूं कि सऊदी ने हमारी ईरान रणनीति की कैसे मदद की है।  राष्ट्रपति ने राष्ट्रपति के रूप में विदेशों में अपनी पहली यात्रा पर रियाद में एक भाषण दिया, जहां उन्होंने हमारे सुन्नी अरब भागीदारों से ईरानी प्रभुता को दूर करने के लिए अपनी क्षमताओं को बढ़ाने के लिए कहा ताकि हमारे अरब सहयोगी मध्य पूर्व में अधिक बोझ उठा सकें।  और हमने ईरान को अलग करने और जितना संभव हो उतना आर्थिक दबाव लागू करने के लिए खाड़ी देशों से बहुत सहयोग का फायदा उठाया है ताकि उनके पास मध्य पूर्व को अस्थिर करने के लिए आवश्यक धन न हो।

प्रश्न:  यह एस्क्रो खाता जिसके बारे में उन्होंने बात की थी, कैसे काम करेगा, और आप कैसे सुनिश्चित करते हैं कि ईरानियों की बुनियादी जरूरतें पूरी की जाएँगी – दवा, भोजन?

मि. हुक:  उन देशों के लिए जो एस्क्रो खाते बनाए जा रहे हैं जिन्हें ईरानी तेल आयात करने की आवश्यकता है, ईरान को दुर्लभ मुद्रा से इनकार करते हैं, और इससे ईरान को तेल की बिक्री से कोई राजस्व नहीं मिलता है।  जब भी ईरान तेल बेचता है, तो वह पैसा आयात करने वाले देश के बैंक में निलंब लेखे में जाता है, और ईरान को हुए अपने लाभ को खर्च करना पड़ता है।  हम उन राष्ट्रों को यह सुनिश्चित करने के लिए प्रेरित करते हैं कि ईरान, वह पैसा ईरानी लोगों को लाभ पहुंचाने के लिए मानवतावादी कार्यों पर ही खर्च करे।  ईरानी शासन में सबसे लंबे समय तक पीड़ित रहने वाले लोग ये ईरानी ही हैं।  यह शासन खाद्य पदार्थों, दवाओं और चिकित्सा उपकरणों पर जाने वाली खरीदों को हटाने के लिए मानवतावादी संगठनों के रूप में छिपी हुई नकली कंपनियों का उपयोग करता है, और वे शासन को समृद्ध करने और विदेशों में क्रांतिकारी गतिविधियों का समर्थन करने के लिए इसका उपयोग करते हैं।

प्रश्न:  तो आप यह सुनिश्चित करने के लिए चीन जैसे देशों पर भरोसा कर रहे हैं कि वे उन चीजों के लिए पैसे का उपयोग नहीं करते?

मि. हुक:  संयुक्त राज्य अमेरिका इन निलंब लेखों की बहुत बारीकी से निगरानी करेगा।  पूर्व प्रशासनों के विपरीत, हम यह सुनिश्चित करेंगे कि पैसा अवैध गतिविधियों पर खर्च ना किया गया हो, कि इन निलंब लेखों में कोई रहस्योद्रघाटन ना हो, और हम खरीद को प्रेरित करने के लिए इन देशों के साथ मिलकर काम करेंगे और – कि मानवतावादी वस्तुओं की बिक्री और खरीद ईरानी लोगों को लाभ पहुंचाने के लिए की गई हो।  खाद्य, चिकित्सा और चिकित्सा उपकरणों की बिक्री के लिए हमारे प्रतिबंध व्यवस्था में बहुत स्पष्ट अपवाद हैं।

प्रश्न:  तो ईरानी लोगों के लिए यू.एस. सहायता में यात्रा प्रतिबंध कैसे लगाया जायेगा?

मि. हुक:  चूंकि ईरानी शासन दुनिया में आतंकवाद का सबसे बड़ा प्रायोजक है, इसलिए हमनेक प्रतिबंधित वीजा नीति बनाई है।  और वह नीति शासन के आतंकवाद से प्रेरित है।  यह आम ईरानी लोगों को प्रतिबंधित करने की इच्छा से नहीं बनाया गया है।  हमारी यह समस्या है कि –

प्रश्न:  पर ऐसा हो सकता है।

मि. हुक:  पर यह समस्या शासन की है।  अगर शासन आतंकवाद को वित्त पोषित करना बंद कर दे और अपनी अर्थव्यवस्था बढ़ा दे, ताकि हम देख सकें कि पैसा कहां जाता है, तो हमारे लिए भी आसानी से वीजा देने का बेहतर वातावरण बन जायेगा।

प्रश्न:  तो जिन देशों को आप कहते हैं कि उन्हें तेल आयात करते रहना आवश्यक है, क्या आप इन छूटों को बार-बार जारी करने की उम्मीद करते हैं?  क्या आप उन पर अन्य पाबंदी लगाने जा रहे हैं कि उन्हें कितनी बार नवीनीकृत किया जाएगा?

मि. हुक:  हमारा लक्ष्य यही रहेगा कि ये देश ईरानी तेल का आयात करना बंद कर दें।  2019 में, हमारे अनुमान हैं कि तेल की आपूर्ति मांग बढ़ जाएगी, और जिससे हमारे लिए बाकि देशों को जितनी जल्दी संभव हो सके आयात करना बंद करने का बेहतर वातावरण बन जायेगा।

प्रश्न:  तो आप इस पर कोई अन्य प्रतिबंध नहीं लगा रहे हैं कि कैसे – किसके लिए – इस प्वाइंट पर इन छूटों को कितनी बार नवीनीकृत किया जाएगा?

मि. हुक:  हम 180 दिनों की अवधि के अंत में अतिरिक्त एसआरई प्रदान ना करने की सोच रहे हैं।  हम तेल की कीमत में वृद्धि किए बिना हमारे अधिकतम आर्थिक दबाव मुहिम को आगे बढ़ाने के लिए बहुत सावधानी रख रहे हैं।  अगले साल हम ऑनलाइन होने वाली बेहतर तेल आपूर्ति की उम्मीद करते हैं, और इससे हमें यह आंकड़ा शून्य करने में बहुत आसानी होगी।

प्रश्न:  और क्या आप – स्विफट (SWIFT) से कितने ईरानी बैंकों को निष्कासित किया जाएगा?  मेरा मतलब, प्रशासन बहुत पहले से ऐसा कह रहा है, लेकिन क्या आप इस बात की हामी भरते हैं?

मि. हुक:  इस बात की घोषणा सचिव मनुचिन द्वारा सोमवार को की जाएगी।

प्रश्न:  उन्होंने कहा, हालांकि, इस विषय पर – उनकी अपनी भाषा बहुत सटीक थी।  उन्होंने “कुछ निर्दिष्ट ईरानी वित्तीय संस्थान” कहे थे।  जाहिर है, इसका तात्पर्य सभी से नहीं है।  तो क्या यह संभव है कि कोई भी, पहला, उन सभी बैंकों को फिर से निर्दिष्ट न किया जाये, जिन्हें पहले नामित किया गया था; और दूसरा, क्या यह संभव है कि कुछ निर्दिष्ट बैंक, जैसे कि उन्होंने “कुछ निर्दिष्ट” शब्द का उपयोग किया था, उनको अलग करने की आवश्यकता नहीं होगी?

मि. हुक:  मैं यह समझने वाला नहीं हूं कि “निर्दिष्ट” का क्या अर्थ है, बस यह कहूँगा कि वो सोमवार को सभी बैंको की घोषणा करेगा।

प्रश्न:  20 – 20 देश ईरान के तेल का 80 प्रतिशत आयात करते हैं, जैसा कि मैंने समझा – ठहराव।  क्या उन आठ देशों में से, कोई भी, उनमें 20 में से – आठ देशों को एसआरई (SREs) प्राप्त होगी?

मि. हुक:  इनका एक छोटा समूह है – कि – अपेक्षाकृत कम ही ऐसे देश हैं जो ईरानी कच्चे तेल के आयात के शेअर का हिस्से बनते हैं।

प्रश्न:  और उनमें से किसी को छूट मिल रही है?

मि. हुक:  मैं सोमवार को होने वाली सचिव की घोषणा से पहले कुछ ना कहना सही समझूंगा।

प्रश्न:  क्या आप गैर-यू.एस. सिविल नाभिकीय सहयोग के बारे में प्रतिक्रिया पर कुछ बता सकते हैं?  उसमें छूट दी जाएगी –

मि. हुक:  सचिव ने आज सुबह ही कहा है, और सोमवार को इसकी घोषणा की जाएगी।

प्रश्न:  मनुष्य-जाति-संबंधी लेनदेन पर, यूरोपीय लोगों ने पिछले हफ्तों में चिंता व्यक्त की है कि भले ही मानवतावादी वस्तुओं और सेवाओं के लिए छूट मिली थी, पर वित्तीय तंत्र पर्याप्त सुरक्षित नहीं थे, आप ये बतायें कि किन साधनों से देश और संस्थाएं इस प्रकार के लेनदेन कर सकती हैं।  क्या आपको लगता है कि आज आपने जो घोषणा की है वह इस बात को स्पष्ट करती है और ईरान के साथ मनुष्य-जाति-संबंधी लेनदेन करना सुरक्षित है?

मि. हुक:  ईरानी शासन का मानवीय सामानों के वितरण को बदलने के लिए अग्रणी कंपनियों का निर्माण करने का इतिहास रहा है।  दुनिया भर के वित्तीय संस्थान मानवतावादी वस्तुओं की बिक्री पर बैंकों को धोखा देने के ईरान के इतिहास के बारे में जानते हैं।  ईरान पर जोर अपनी गुप्त अर्थव्यवस्था को बताने के लिए दिया गया है ताकि दुनिया भर के बैंकों को अधिक आत्मविश्वास हो सके कि जब वे मनुष्य-जाति-संबंधी लेनदेन की सुविधा देते हैं तब मानवतावादी वस्तुएं ईरानी लोगों तक ही पहुंचेंगी। 

दुनिया में मानवीय सहायता प्रदान करने वाला सबसे बड़ा दाता संयुक्त राज्य अमेरिका है।  खाद्य, चिकित्सा और चिकित्सा उपकरणों की बिक्री के लिए हमारे प्रतिबंध व्यवस्था में बहुत स्पष्ट अपवाद हैं।  जितनी भी प्रतिबंध व्यवस्था हमने बनाई उसमें खाद्य, चिकित्सा और चिकित्सा उपकरणों को छूट दी गई है।

प्रश्न:  ऐसा लगता है कि व्यापार करने का तरीके सुरक्षित तरीके नहीं हैं – जैसे, दवा कंपनियों और चिकित्सा कंपनियों के लिए।

मि. हुक:  ईरानी शासन मानवतावादी वस्तुओं और सेवाओं की बिक्री को सुविधाजनक बनाने में बहुत मुश्किल खड़ी करता है।

प्रश्न:  यूरोपीय लोग कहते हैं कि उन्हें डर यह है कि यदि आप ईरान को मानवतावादी सामान बेचते हैं, तो आपको अमेरिकी प्रतिबंधों का सामना करना पड़ेगा, तो क्या यह बात इरान के लिए ना मानकर, आपके लिए मानी जाए।

मि. हुक:  कृपया प्रश्न दोहराइये?

प्रश्न:  यूरोपीय लोग कहते हैं कि कंपनियों को डर यह है कि यदि आप ईरान को मानवतावादी सामान बेचते हैं, तो आपको अमेरिकी प्रतिबंधों का सामना करना पड़ेगा।  तो वो आपसे इस काम को करने के सुरक्षित तरीकों के बारे में जानना चाहते हैं।

मि. हुक:  सुरक्षित तरीकों को प्रदाने करने का काम संयुक्त राज्य अमेरिका का नहीं है।  यह कार्य इरानी शासन का है कि वो ऐसी वित्तीय प्रणाली बनायें, जो मानवतावादी वस्तुओं और सहायता की बिक्री और प्रावधान को सुविधाजनक बनाने के लिए अंतर्राष्ट्रीय बैंकिंग मानकों का अनुपालन करती है।

प्रश्न:  ठीक है, लेकिन मुझे लगता है कि मुद्दा यह है कि वे किसी प्रकार की तरह के आश्वासन की तलाश में हैं —

प्रश्न:  ओएफएसी (OFAC) द्वारा मार्गदर्शन।

प्रश्न:  मार्गदर्शन।

मि. हुक:  हम – ओएफएसी (OFAC) ने कई सालों में बहुत स्पष्ट मार्गदर्शन दिया है —

प्रश्न:  यूरोपीय लोग ऐसा नहीं कहते।

मि. हुक:  हमने ईरान के लिए मानवीय सामानों की बिक्री की अनुमति देने के लिए अपना कार्य कर दिया है।  ये हमारा कार्य है।  यही हमारी भूमिका है।  इस लेनदेन को संभव बनाने का कार्य ईरान का है।  बैंकों को ईरान की बैंकिंग प्रणाली पर विश्वास नहीं है – उन लेनदेन को सुविधाजनक बनाने के लिए ईरान की बैंकिंग प्रणाली पर विश्वास नहीं है।  यह समस्या ईरान की है; हमारी नहीं।

प्रश्न:  पर बैंकों को विश्वास नहीं है, कंपनियों को ईरान बैंकों पर विश्वास नहीं है क्योंकि वे अब से अमेरिकी प्रतिबंधों के अधीन हैं।

मि. हुक:  ये सच नहीं है।

प्रश्न:  ऐसा यूरोपीय लोग कहते हैं।  मैं तो बस–

मि. हुक:  मैं आपको जवाब दे रहा हूँ। 

प्रश्न:  हम किसी सूची की उम्मीद कर रहे थे।  (हँसना।)

मि. हुक:  पर उन्होंने कहा कि ये सब आने वाले सोमवार को पता लगेगा।

प्रश्न:  ऐसा क्यों है – और सोमवार से आपका मतलब, सोमवार सुबह 12:01 से पहले का तो नहीं होगा, है ना?  या मेरा मतलब –

मि. हुक:  नहीं। सचिव सोमवार को इसकी घोषणा करेगा, और फिर इसे संघीय रजिस्टर में प्रकाशित किया जाएगा।

प्रश्न:  ठीक है, लेकिन इसकी घोषणा वह करेंगे – क्या, आपके पास कोई भी है – जैसे, मैं यह व्यक्तिगत नियोजन उद्देश्यों के लिए जानना चाहता हूं।

सभापति:  लगभग सुबह 8:30 बजे होगी।

प्रश्न:  सोमवार सुबह 8:30 बजे, इससे पहले नहीं।  तो इसका मतलब, मैं – सोमवार सुबह 12:01 बजे, वो निष्पादित हो जायेंगी —

मि. हुक:  हाँ।

प्रश्न:  — लेकिन – मेरा मतलब, कोष की वेबसाइट पर भी 12:01 बजे कुछ प्रकाशित किया जायेगा?  मेरा मतलब, मैं बस जानना चाह रहा रहा हूँ –

मि. हुक:  मुझे इस बारे में नहीं पता।  हमारे कार्य, एसआरई (SREs) पर और अन्य बातों को भी सोमवार को घोषित किया जाएगा।  मुझे –हो सकता है. कोष पर 12:01 बजे कुछ अलग हो —

प्रश्न:  तो आप लोग 12:01 बजे यह नहीं बताने वाले कि वो आठ कौन होंगे।

मि. हुक:  नहीं। नहीं। नहीं।

प्रश्न:  लेकिन संभवतः उन आठों को पता है कि – ठीक है, उन्हें बताया गया है कि वे ठीक हैं – क्योंकि वे अब लकड़ी के काम से आगे बढ़ रहे हैं, तुर्क, इटली निवासी, दक्षिण कोरियाई, भारतीय, – वे आगे बढ़ रहे हैं।

मि. हुक:  लगता है, आपने अपने सवाल का खुद जवाब दे दिया।

प्रश्न:  मैं तो बस यह पक्का कर रहा था कि कोई झूठ नहीं बोल रहा।

मि. हुक:  ओह।  हम इसकी घोषणा सोमवार को करेंगे।

प्रश्न:  और क्या हम वो देशों प्रतिबंधित होंगे, जिनको सोमवार को ये चीजें प्राप्त नहीं होंगी?

मि. हुक:  हम उम्मीद करते हैं – ठीक है, हमने पहले से ही हमारे प्रतिबंधों के पुनर्मूल्यांकन के साथ बहुत पहले अनुपालन देखा है क्योंकि दुनिया भर के निगम सही तरीके से ईरान के बाजार में सामान और सेवाओं को बेचने का विकल्प चुनते हैं।

प्रश्न:  लेकिन मेरा मतलब है, क्या हम उन बड़े देशों पर प्रतिबंधित नहीं देख रहे थे, जो – जिनको ये छूट नहीं मिली?  क्या आप — सोमवार को घोषित प्रतिबंधों को बताने वाले हैं?

मि. हुक:  हम दुनिया भर के देशों को प्रतिबंधों का अनुपालन करने की उम्मीद करते हैं क्योंकि यह उनका सरोकर है, और यह शांति और सुरक्षा के लिए महत्वपूर्ण और विस्तारित खतरे को संबोधित करने के लिए हमारे व्यापक राष्ट्रीय सुरक्षा उद्देश्यों को बढ़ावा देता है।

ठीक है।

प्रश्न:  धन्यवाद।

मि. हुक:  ठीक है, धन्यवाद।


मूल सामग्री देखें: https://www.state.gov/r/pa/prs/ps/2018/11/287095.htm
यह अनुवाद एक शिष्टाचार के रूप में प्रदान किया गया है और केवल मूल अंग्रेजी स्रोत को ही आधिकारिक माना जाना चाहिए।
ईमेल अपडेट्स
अपडेट्स के लिए साइन-अप करने या अपने सब्सक्राइबर प्राथमिकताओं तक पहुंचने के लिए कृपया नीचे अपनी संपर्क जानकारी डालें