rss

केरो में अमेरिकी विश्वविद्यालय में सेक्रेटरी पोम्पेयो की टिप्पणियाँ: “भलाई के लिए एक फोर्स: मध्य पूर्व में अमेरिका की फिर से जान डालने वाली भूमिका

English English, العربية العربية, Français Français, Русский Русский, Español Español, اردو اردو

अमेरिकी डिपार्टमेंट ऑफ स्टेट
प्रवक्ता कार्यालय
तत्काल रिलीज़ के लिए
तथ्य पत्रक
10 जनवरी, 2019

 

“केवल 24 महीनों में, राष्ट्रपति ट्रम्प के तहत संयुक्त राज्य अमेरिका ने इस क्षेत्र में भलाई के लिए फोर्स के रूप में अपनी पारंपरिक भूमिका को फिर से साबित किया है, क्योंकि हमने अपनी गलतियों से सीखा है। हमने अपनी आवाज फिर से बुलंद की है। हमने अपने रिश्तों को फिर से बनाया है। हमने दुश्मनों के झूठे दावे को खारिज कर दिया है।

 – सेक्रेटरी ऑफ स्टेट माइक पोम्पेयो, 10 जनवरी, 2019 

संयुक्त राज्य: मध्य पूर्व में भलाई के लिए फोर्स

“उन लोगों के लिए जो अमेरिकी शक्ति के उपयोग के बारे में झल्लाते हैं, याद रखें: मध्य पूर्व में अमेरिका हमेशा से ही एक स्वतंत्रता स्थापित करने वाली शक्ति रहा है, न कि कब्जा करने वाली शक्ति। हमने कभी वर्चस्व का सपना नहीं देखा है। क्या आप ईरानी शासन के लिए भी यही कह सकते हैं?

  • आज इराक में, सरकार के निमंत्रण पर, हमारे पास लगभग 5,000 सैनिक हैं – जहाँ कभी 166,000 हुआ करते थे।
  • राष्ट्रपति ट्रम्प ने अमेरिकी कमांडरों को इस क्षेत्र में ISIS पर आक्रमण के लिए पहले से कहीं ज्यादा तेज़ी और सख्ती अपनाने का अधिकार दिया है। आज ISIS के चंगुल से 99 प्रतिशत क्षेत्र मुक्त हो चुका है और लाखों इराकियों और सीरियाई लोगों के लिए जीवन सामान्य हो रहा है।
  • अमेरिका ने वर्ष 2014 से इराक को मानवीय सहायता के रूप में 2.5 बिलियन डॉलर प्रदान किए हैं। हमारे सहयोगियों के साथ, पिछले साल कुवैत पुनर्निर्माण सम्मेलन के दौरान इराक के पुनर्निर्माण में सहायता करने के लिए लगभग 30 बिलियन डॉलर अनुदान और वित्तपोषण प्रदान किया गया हैं।

साथ मिलकर कट्टरपंथी इस्लामी आतंकवाद से भिड़ना

“हमने मध्य-पूर्व के हर शांति-प्रिय देश से इस्लामी चरमपंथ को हराने के लिए नई ज़िम्मेदारियाँ निभाने के लिए कहा है।”                                                                                           – सेक्रेटरी पोम्पेयो, 10 जनवरी, 2019

  • राष्ट्रपति ट्रम्प ने अपनी सबसे पहली विदेश यात्रा पर मुस्लिम-बहुसंख्यक राष्ट्रों से “चरमपंथ और आतंकवादी ताकतों पर विजय प्राप्त करने के लिए इतिहास की महान परीक्षा देने” का आह्वान किया।
  • अमेरिका कट्टरपंथी इस्लामी आतंकवाद की बदसूरत सच्चाई का सामना करना जारी रखेगा। ट्रम्प प्रशासन सहयोगियों और भागीदारों का इस साझा खतरे का सामना करने के लिए और अधिक काम करने के लिए आह्वान कर रहा है।
  • अमेरिका ने इस्लामिक स्टेट के केलिफेट को खत्म करने के लिए सहयोगियों और साझेदारों के गठबंधन को मज़बूत बनाया है।  ISIS के कब्ज़े वाला 99 प्रतिशत क्षेत्र अब मुक्त हो गया है।
  • संयुक्त राज्य आतंकवाद प्रतिरोध के संबंध में एक चिरस्थायी भागीदार बना रहेगा।  जैसे ही लक्ष्य सामने आएंगे, तब क्षेत्र में हमारे हवाई हमले जारी रहेंगे। हम ISIS को हराने के लिए गठबंधन में अपने सहयोगियों के साथ काम करते रहेंगे।  हम मध्य पूर्व और दुनिया भर में उन आतंकवादियों को निशाना बनाना जारी रखेंगे जो सुरक्षित ठिकानों की तलाश करते हैं।
  • संयुक्त राज्य अपने सहयोगियों को उनकी सीमाओं की रक्षा करने, आतंकवादियों पर मुकदमा चलाने, यात्रियों की जाँच करने, शरणार्थियों की सहायता करने, और बहुत कुछ करने में मदद करना जारी रखेगा।

ईरानी शासन और इसके प्रतिनिधियों का विरोध

“मध्य पूर्व के राष्ट्र उस स्थिति में कभी सुरक्षित नहीं होंगे, न ही आर्थिक स्थिरता हासिल करेंगे, या अपने लोगों के सपनों को आगे नहीं बढ़ा पाएंगे, यदि ईरान का क्रांतिकारी शासन अपनी मौजूदा व्यवस्था पर कायम रहता है।”

                                                                                                                – सेक्रेटरी पोम्पेयो, 10 जनवरी, 2019

  • ट्रम्प प्रशासन क्षेत्र में और दुनिया भर में ईरानी शासन के विनाश और अस्थिरता के अभियानों का सामना कर रहा है।
  • शासन के खिलाफ अमेरिका के आर्थिक प्रतिबंध इतिहास में सबसे सख्त हैं और यह तब तक और सख्त होते रहेंगे जब तक कि ईरानी शासन द्वारा संयुक्त राज्य और अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के लिए खतरा पैदा करने वाली अपनी नीतियों में बदलाव नहीं किया जाता है।  सेक्रेटरी पोम्पेयो ने मई में 12 मांगों को रेखांकित किया था कि जिसे किसी भी सामान्य देश को पूरा करने में सक्षम होना चाहिए।  बदले में, संयुक्त राज्य हमारे देशों के बीच एक नया अध्याय शुरू करने के लिए तैयार है।
  • संयुक्त राज्य इस क्षेत्र में, और इससे बाहर इराक. लेबनान, सीरिया, यमन और अन्य जगहों पर ईरान और उसके सहयोगियों की दुर्भावनापूर्ण गतिविधि को रोकने हेतु साझेदारों के साथ काम कर रहा है।
  • 11 फरवरी को इस क्रूर शासन के सत्ता में आने के 40 साल हो जाएंगे।  ट्रम्प प्रशासन ईरानी लोगों के साथ खड़ा है, क्योंकि वे नई स्वतंत्रताओं और जवाबदेही की मांग करते हैं जिनके वे हकदार हैं।

लंबे समय के गठबंधनों का सुदृढ़ीकरण और नई साझेदारियाँ तैयार करना

“साझा खतरों की स्थिति में अधिक सुरक्षा के लिए तालमेल की दिशा में ये कदम आवश्यक हैं। और ये इस क्षेत्र के लिए एक उज्ज्वल भविष्य का संकेत देते हैं। ”                                   – सेक्रेटरी पोम्पेयो, 10 जनवरी, 2019

  • ट्रम्प प्रशासन अमेरिकी गठबंधन को मजबूत कर रहा है और हमारी साझा सुरक्षा और समृद्धि के लिए मध्य पूर्व के राष्ट्रों को एकजुट करने के लिए मिलकर काम कर रहा है।
  • संयुक्त राज्य यह सुनिश्चित करना जारी रखेगा कि हमारे सहयोगी इज़रायल के पास स्वयं की रक्षा करने की सैन्य क्षमता हो जिसमें ईरानी शासन की आक्रामक अतिवादिता का विरोध भी शामिल है।
  • ट्रम्प प्रशासन मध्य पूर्व के राष्ट्रों के बीच नए कूटनीतिक और आर्थिक संबंधों का पोषण कर रहा है-जो हाल के दिनों तक अकल्पनीय थे।
  • संयुक्त राज्य इस क्षेत्र के सबसे गंभीर खतरों का सामना करने और ऊर्जा और आर्थिक सहयोग को मज़बूत बनाने के लिए मध्य पूर्व सामरिक गठबंधन की स्थापना के लिए काम कर रहा है।

मूल सामग्री देखें: https://www.state.gov/r/pa/prs/ps/2019/01/288407.htm
यह अनुवाद एक शिष्टाचार के रूप में प्रदान किया गया है और केवल मूल अंग्रेजी स्रोत को ही आधिकारिक माना जाना चाहिए।
ईमेल अपडेट्स
अपडेट्स के लिए साइन-अप करने या अपने सब्सक्राइबर प्राथमिकताओं तक पहुंचने के लिए कृपया नीचे अपनी संपर्क जानकारी डालें