rss

इस्लामिक रिवोल्यूशनरी गार्ड कॉर्प्स को एक विदेशी आतंकवादी संगठन का दर्जा दिए जाने पर राष्ट्रपति का बयान

Português Português, English English, العربية العربية, Français Français, Русский Русский, Español Español, اردو اردو

तत्काल जारी करने के लिए
अप्रैल 08, 2019

 
 

आज, मैं ईरान की इस्लामिक रिवोल्यूशनरी गार्ड कॉर्प्स (आईआरजीसी), इसके कुद्स फोर्स सहित, को आप्रवासन एवं राष्ट्रीयता कानून की धारा 219 के तहत एक विदेशी आतंकवादी संगठन (एफटीओ) का दर्जा देने की अपने प्रशासन की योजना की औपचारिक घोषणा कर रहा हूं। विदेश विभाग की अगुआई में उठाया गया यह अभूतपूर्व कदम, इस वास्तविकता को स्वीकार करता है कि ईरान ना सिर्फ आतंकवाद का प्रायोजक राष्ट्र है, बल्कि आईआरजीसी सक्रियतापूर्वक आतंकवाद में भाग लेता है, उसका वित्तपोषण करता है और शासन कला के एक औजार के रूप में आतंकवाद को बढ़ावा देता है। आईआरजीसी ईरान सरकार की वैश्विक आतंकवादी मुहिम को  निर्देशित और कार्यान्वित करने के लिए सरकार का मुख्य ज़रिया है।

 
यह पहला अवसर है जब अमेरिका किसी अन्य सरकार के एक हिस्से को एफटीओ का दर्जा देगा। यह इस बात को रेखांकित करता है कि ईरान के कार्य अन्य सरकार के कार्यों से बुनियादी  तौर पर अलग हैं। यह कार्रवाई ईरान की सरकार पर हमारे अधिकतम दबाव के दायरे और पैमाने का खासा विस्तार करेगी। यह आईआजीसी के साथ व्यवसाय करने या उसे समर्थन देने से जुड़े खतरों को बिल्कुल स्पष्ट कर देती है। यदि आप आईआरजीसी के साथ व्यवसाय कर रहे हैं, तो इसका मतलब आप आतंकवाद को वित्तीय मदद दे रहे हैं।


यह कदम तेहरान को एक स्पष्ट संदेश देता है कि आतंकवाद को उसके समर्थन के गंभीर परिणाम निकलेंगे। हम तब तक ईरानी शासन पर वित्तीय दबाव को और आतंकवादी कार्यों को उसके समर्थन के खामियाज़े को बढ़ाना जारी रखेंगे, जब तक कि वह अपना दुर्भावनापूर्ण और गैरकानूनी व्यवहार छोड़ नहीं देता।


यह अनुवाद एक शिष्टाचार के रूप में प्रदान किया गया है और केवल मूल अंग्रेजी स्रोत को ही आधिकारिक माना जाना चाहिए।
ईमेल अपडेट्स
अपडेट्स के लिए साइन-अप करने या अपने सब्सक्राइबर प्राथमिकताओं तक पहुंचने के लिए कृपया नीचे अपनी संपर्क जानकारी डालें