rss

ईरान पर अधिकतम दबाव डालने के अमेरिका के अभियान को आगे बढ़ाना

English English, العربية العربية, Français Français, Português Português, Русский Русский, اردو اردو

अमेरिकी डिपार्टमेंट ऑफ स्टेट, प्रवक्ता कार्यालय
तत्काल रिलीज़ के लिए
तथ्य पत्रक
22 अप्रैल, 2019


अमेरिका ईरानी तेल के मौजूदा आयातकर्ताओं को कोई महत्वपूर्ण छूट अपवाद प्रदान नहीं कर रहा है। अधिकतम दबाव का अर्थ अधिकतम दबाव होता है।

  • सेक्रेटरी पोम्पेयो ने ईरानी तेल के मौजूदा आयातकर्ताओं को कोई महत्वपूर्ण छूट अपवाद प्रदान न करने के अपने निर्णय की घोषणा की है।
    • जैसा कि सचिव ने कहा है,  अधिकतम दबाव का अर्थ अधिकतम दबाव होता है। हम ईरान के तेल निर्यातों को शून्य के स्तर पर लाने और शासन को उस राजस्व से वंचित करने का अपना वायदा पूरा कर रहे हैं जिसकी उसे विदेश में आतंकवाद और हिंसक युद्धों का वित्तपोषण करने के लिए आवश्यकता है।
    • ईरान के तेल निर्यातों पर निशाना साधना महत्वपूर्ण है क्योंकि वे ऐतिहासिक रूप से शासन का राजस्व का एकमात्र सबसे बड़ा स्रोत रहे हैं जिसका वह आतंकवादी मोहरों की सहायता करने, अपने मिसाइल विकास को पोषित करने और अन्य अस्थिरताकारी व्यवहार में संलग्न होने के लिए उपयोग करता है।
    • जो संगठन ईरान से संबंधित प्रतिबंध योग्य गतिविधि में संलग्न होते हैं, उन्हें गंभीर परिणामों को भुगतने का जोखिम है। इन परिणामों में अमेरिकी वित्तीय प्रणाली तक पहुँच और अमेरिका या अमेरिकी कंपनियों के साथ व्यवसाय करने की योग्यता को खोने का जोखिम सम्मिलित हो सकता है।
    • अमेरिका ईरान के शासन पर तब तक अधिकतम दबाव डालना जारी रखेगा जब तक इसके नेता अपना विध्वंसकारी व्यवहार नहीं बदलते, अपने लोगों के अधिकारों का सम्मान नहीं करते, और वार्ता की मेज़ पर नहीं लौटते।

ट्रम्प प्रशासन ने ईरान के शासन पर अब तक के सबसे कड़े प्रतिबंध लगाए हैं। हमारा दबाव काम कर रहा है।

  • आज की घोषणा हमारी पहले की ऐतिहासिक सफलता  को आगे  बढ़ाती है।
    • हमारे दबाव के कारण ईरान का तेल निर्यात बहुत घट गया है। राष्ट्रपति ट्रम्प ने घोषणा की थी कि हम मई 2018 में परमाणु समझौते संबंधी भागीदारी को समाप्त कर देंगे, इसलिए 1.5 मिलियन बैरल से अधिक ईरानी तेल बाजार से हटा दिया गया है, इससे शासन का अनेक बिलियन डॉलर का राजस्व कम हो गया है।
    • समग्र रुप में हमारा अनुमान है कि हमारे प्रतिबंधों ने शासन को

मई के बाद से तेल राजस्व में $10 बिलियन से अधिक तक प्रत्यक्ष पहुँच से वंचित किया है यह प्रति दिन कम से कम $30 मिलियन की हानि है, और यह केवल तेल के संबंध में है।

  • मार्च में, हिज़्बुल्ला नेता हसन नसरल्लाह ने पहली बार सार्वजनिक रूप से दान की अपील की। उन्हें अभूतपूर्व मितव्ययिता उपाय करने के लिए बाध्य किया गया है क्योंकि पहले ईरान में जिस तरह से पैसा आ रहा था , वैसे अब नहीं आ रहा है, यह हमारे अभूतपूर्व दबाव के कारण हुआ है।
    • सीरिया और अन्य जगहों पर ईरानी मोहरे तेहरान से वित्तपोषण की कमी का सामना कर रहे हैं। लड़ाकों को भुगतान नहीं किए जा रहे हैं, और जिन सेवाओं पर वे पहले भरोसा करते थे, वह अब समाप्त हो रही हैं।

वर्तमान में तेल के बाजारों में पर्याप्त आपूर्ति हो रही है।

  • तेल के बाजारों में पर्याप्त आपूर्ति की रही है और तेल इन्वेंट्री स्तर वर्तमान में मजबूत है।
    • हमसे तेल उत्पादक देशों, जिनमें सऊदी अरब साम्राज्य और संयुक्त अरब अमीरात शामिल हैं, ने ईरानी तेल निर्यात में कमी को पूरा करने के लिए तेल उत्पादन को बढ़ाने के प्रति प्रतिबद्धता जताई हैं ।
    • गैर-ओपेक (पेट्रोलियम निर्यातक देशों का संगठन) तेल उत्पादन मे वृद्धि और पर्याप्त भंडारण स्तर यह दर्शाते हैं कि ईरानी तेल निर्यात को प्रतिस्थापित करने संबंधी समायोजन सफल रहा है।
    • अमेरिका और अन्य गैर-ओपेक तेल उत्पादकों ने पहले ही उत्पादन में वृद्धि कर दी है और ईरानी निर्यात को प्रतिस्थापित किया है, जबकि अन्य प्रमुख उत्पादकों ने भी बाजार को अतिरिक्त ईरानी कटौती की भरपाई के लिए उत्पादन बढ़ाने की इच्छा और क्षमता बढ़ाने का संकेत दिया है।
    • अमेरिका के ऊर्जा सूचना विभाग प्रशासन (EIA) के अनुसार, अमेरिका के नेतृत्व में गैर- ओपेक का तेल उत्पादन वर्ष 2019 और 2020 में प्रति दिन 2.2 मिलियन बैरल बढ़ने का अनुमान है।
    • अंतरराष्ट्रीय ऊर्जा एजेंसी (IEA) के अनुसार, अमेरिकी उद्योगो सहित,  OECD (आर्थिक सहयोग और विकास संगठन),

अमेरिका तेल उत्पादन और निर्यात बढ़ा रहा है।

  • EIA ने बताया कि अमेरिका के पेट्रोलियम और अन्य तरल पदार्थों का उत्पादन वर्ष 2019 की पहली तिमाही के दौरान प्रतिदिन 17 मिलियन बैरल से अधिक है, जो अमेरिका को तेल और प्राकृतिक गैस तरल पदार्थों का सबसे बड़ा उत्पादक बनाता है, जो वैश्विक उत्पादन के 19 प्रतिशत से अधिक की आपूर्ति करता है।
    • अमेरिकी कच्चे तेल का उत्पादन मार्च में एक वर्ष पहले 1.6 मिलियन बैरल प्रति दिन की तुलना में 12 मिलियन बैरल प्रति दिन तक पहुंचने का अनुमान है ।
    • EIA के पूर्वानुमान के अनुसार अगले वर्ष के भीतर अमेरिकी कच्चे तेल के उत्पादन में प्रति दिन 1.4 मिलियन बैरल की वृद्धि होगी।
    • जनवरी 2019 में अमेरिकी कच्चे तेल का निर्यात प्रति दिन 2.575 मिलियन बैरल तक पहुंच गया जो EIA के अनुसार, प्रति दिन 1.2 मिलियन बैरल से अधिक या पिछले वर्ष की तुलना में 90 प्रतिशत की वृद्धि है। अमेरिकी निर्यात बाजारों को कुशलतापूर्वक कार्य करने में सहायता करता है।
    • वर्ष 2021 तक IEA परियोजनाओं से अमेरिकी निर्यात तेजी से बढेगा, और अमेरिका रूस से अधिक और सऊदी अरब के लगभग समान, लगभग 9 मिलियन बैरल प्रति दिन पर दूसरा सबसे बड़ा तेल और पेट्रोलियम उत्पाद निर्यातक देश बन जाएगा।
    • अमेरिका प्रमुख तेल उत्पादक देशों के साथ-साथ  प्रमुख तेल खपत करने वाले संगठनों जैसे अंतरराष्ट्रीय ऊर्जा एजेंसी, जो वैश्विक तेल बाजार को पर्याप्त आपूर्ति का आश्वासन देने के लिए कार्य करती है, के साथ लगातार गहन और फलदायी वार्ता कर रहा है।

अमेरिका तेजी से तेल उत्पादन बढ़ा रहा है


मूल सामग्री देखें: https://www.state.gov/r/pa/prs/ps/2019/04/291285.htm
यह अनुवाद एक शिष्टाचार के रूप में प्रदान किया गया है और केवल मूल अंग्रेजी स्रोत को ही आधिकारिक माना जाना चाहिए।
ईमेल अपडेट्स
अपडेट्स के लिए साइन-अप करने या अपने सब्सक्राइबर प्राथमिकताओं तक पहुंचने के लिए कृपया नीचे अपनी संपर्क जानकारी डालें