rss

ग्लोबल एंटरप्रेन्योरशिप समिट को संबोधित करने और अमेरिका-डच संबंधों को सुदृढ़ करने के लिए विदेश मंत्री पोम्पियो की नीदरलैंड यात्रा

Русский Русский, English English, Français Français, Português Português, Español Español, العربية العربية, اردو اردو

तत्काल जारी करने के लिए
जून 3, 2019
तथ्य-पत्र

 
 

मुक्त उद्यम प्रणालीएकमात्र प्रणाली है जिसमें एक छात्रावास के कमरे से शुरू एक व्यवसाय अरबडॉलर स्तर के किसी उद्योग को चुनौती दे सकता है, और जिसमें ज़ोखिम लेने वाले भीड़ से ऊपर उठ सकते हैं, यदि वे कड़ी मेहनत करें और उनके पास बढ़िया आइडिया हो।अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो, मार्च 18, 2019

विदेश मंत्री पोम्पियो 3 जून को नीदरलैंड की यात्रा कर रहे हैं, जहां वे डच प्रधानमंत्री मार्क रूट के साथ नवीं ग्लोबल एंटरप्रेन्योरशिप समिट (वैश्विक उद्यमिता सम्मेलन) में भाग लेंगे। विदेश मंत्री अपने संबोधन में इस बात पर रोशनी डालेंगे कि नवोन्मेष मुक्त समाजों में क्यों फलता-फूलता है। वह आपसी महत्व के मुद्दों पर बातचीत के लिए डच विदेश मंत्री स्टेफ़ ब्लॉक से भी मुलाक़ात करेंगे।

 ग्लोबल एंटरप्रेन्योरशिप समिट : भविष्य को जीवंत बनाने के लिए

  • अमेरिका और नीदरलैंड 3 जून से 5 जून, 2019 तक हेग में नवीं ग्लोबल एंटरप्रेन्योरशिप समिट (जीईएस) की सह-मेजबानी कर रहे हैं। इस अग्रणी वार्षिक सम्मेलन में दुनिया भर के उद्यमियों, निवेशकों, और उनके समर्थकों को आमंत्रित किया जाता है। जीईएस सम्मेलनों में 2010 से अब तक अनुमानित 20,000 उभरते अग्रणी उद्यमी भाग ले चुके हैं।
  • 2019 जीईएस की थीम ‘द फ्यूचर नाउ’ है, जिसमें इस बात पर ज़ोर दिया गया है कि कैसे नवोन्मेषी उद्यमी वर्तमान में दुनिया की चुनौतियों का समाधान करने के साथ-साथ भविष्य की आर्थिक समृद्धि का रोडमैप भी तैयार कर रहे हैं।
  • इस समिट में पांच प्रमुख क्षेत्रों – कृषि/खाद्य, कनेक्टिविटी, ऊर्जा, स्वास्थ्य और जल – में दुनिया के 120 से अधिक देशों के सर्वाधिक नवोन्मेषी उद्यमी, निवेशक, नीति निर्माता और नवाचार पारिस्थितिकी के सहभागी शामिल होंगे। समिट में भाग लेने वाले वित्तीय सहायता की सहूलियत, रोजगार सृजन और महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण पर भी चर्चा करेंगे।
  • विदेश मंत्रालय अमेरिका को प्रत्यक्ष विदेशी निवेश के गंतव्य के रूप में बढ़ावा देकर अमेरिकी आर्थिक एजेंडे को आगे बढ़ाता है। प्रत्यक्ष विदेशी निवेश पर 70 लाख अमेरिकी रोज़गार निर्भर करते हैं और यह अमेरिकी उत्पादों के वार्षिक निर्यात के 25 प्रतिशत का स्रोत है।

अमेरिकाडच संबंधों में घनिष्ठता

  • अमेरिका के सबसे बड़े व्यापार अधिशेषों में से एक नीदरलैंड (करीब 24 बिलियन डॉलर) के साथ है। नीदरलैंड अमेरिका के सबसे बड़े निवेशकों में से एक है, जिसके निवेश से 800,000 से अधिक नौकरियों को समर्थन मिल रहा है। अमेरिका नीदरलैंड का सबसे बड़ा विदेशी निवेशक है।
  • जुलाई 2018 में, राष्ट्रपति ट्रंप और प्रधानमंत्री मार्क रूट डच निवेश को बढ़ाने के लिए काम करने पर सहमत हुए थे, जिसका लक्ष्य है आने वाले वर्षों में एक मिलियन अमेरिकी नौकरियों का समर्थन।
  • 2,700 से अधिक अमेरिकी कंपनियां – नीदरलैंड में विदेशी स्वामित्व वाली कंपनियों की करीब एक चौथाई – लगभग ढाई लाख डच कर्मचारियों को प्रत्यक्ष रोज़गार दे रही हैं।
  • ‘ग्लोबल कोलिशन टू डीफीट आइसिस’, जिसके वर्तमान में 80 सदस्य हैं, में दोनों देश मिलकर काम करते हैं। 
  • नीदरलैंड नैटो गठजोड़ का संस्थापक सदस्य और हमारी सामूहिक सुरक्षा का मज़बूत समर्थक है। नीदरलैंड लिथुआनिया में नैटो के ‘एन्हांस्ड फॉरवर्ड प्रेजेंस’ और अफ़ग़ानिस्तान में नैटो के ‘रिजॉल्यूट सपोर्ट मिशन’ के लिए अपने सैनिक उपलब्ध कराता है।
  • अमेरिका और नीदरलैंड रासायनिक निरस्त्रीकरण के मुद्दों पर परस्पर निकट सहयोग करते हैं और रासायनिक हथियारों के इस्तेमाल के खिलाफ़ वैश्विक प्रतिमानों को मज़बूत बनाने के लिए दृढ़प्रतिज्ञ हैं।

यह अनुवाद एक शिष्टाचार के रूप में प्रदान किया गया है और केवल मूल अंग्रेजी स्रोत को ही आधिकारिक माना जाना चाहिए।
ईमेल अपडेट्स
अपडेट्स के लिए साइन-अप करने या अपने सब्सक्राइबर प्राथमिकताओं तक पहुंचने के लिए कृपया नीचे अपनी संपर्क जानकारी डालें