rss

अफ़ग़ान शांति प्रक्रिया पर संयुक्त चतुष्पक्षीय बयान

Русский Русский, English English, اردو اردو

तत्काल जारी करने के लिए
जुलाई 12, 2019

 

निम्नांकित बयान का पाठ अफ़ग़ान शांति प्रक्रिया पर बीजिंग में 10-11 जुलाई, 2019 को आयोजित चतुष्पक्षीय बैठक के अवसर पर अमेरिका, रूस, पाकिस्तान और चीन की सरकारों द्वारा जारी किया गया।

पाठ आरंभ:

चीन, रूस और अमेरिका के प्रतिनिधियों ने अफ़ग़ान शांति प्रक्रिया पर बीजिंग में अपनी तीसरी परामर्श बैठक की। चीन, रूस और अमेरिका ने इस परामर्श प्रक्रिया में शामिल होने पर पाकिस्तान का स्वागत किया और विश्वास व्यक्त किया कि अफ़ग़ानिस्तान में शांति स्थापित करने में पाकिस्तान एक महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है। पाकिस्तान ने अफ़ग़ानिस्तान शांति प्रक्रिया पर चीन-रूस-अमेरिका के त्रिपक्षीय परामर्श के रचनात्मक प्रयासों की सराहना की।

चारों पक्षों ने मौजूदा स्थिति तथा अफ़ग़ानिस्तान और पूरे क्षेत्र में शांति, स्थिरता और समृद्धि को बढ़ावा देने के वास्ते राजनीतिक समाधान के संयुक्त प्रयासों के बारे में विचारों का आदान-प्रदान किया। चारों पक्षों ने अफ़ग़ान शांति प्रक्रिया पर मॉस्को में 25 अप्रैल 2019 को बनी त्रिपक्षीय सहमति के महत्व पर बल दिया। सभी पक्षों ने संबद्ध अहम पक्षों के बीच वार्ताओं और परस्पर संपर्क को आगे बढ़ाने के रूप में हुई हालिया सकारात्मक प्रगति का स्वागत किया। सभी पक्षों ने मॉस्को और दोहा में हुई अंतर्-अफ़ग़ान बैठकों का भी स्वागत किया।

चारों पक्षों ने संबंधित पक्षों को शांति स्थापना के अवसर का लाभ उठाने और तत्काल तालिबान, अफ़ग़ान सरकार और अन्य अफ़ग़ानों के बीच अंतर्-अफ़ग़ान वार्ता शुरू किए जाने का आह्वान किया। उन्होंने इस बात पर एक बार फिर ज़ोर दिया कि वार्ताएं “अफ़ग़ान-नीत और अफ़ग़ान-नियंत्रित” होनी चाहिए और साथ ही उन्होंने सहमति व्यक्त की कि इन शांति वार्ताओं के ज़रिए यथाशीघ्र शांति की एक रूपरेखा तैयार की जानी चाहिए। इस रूपरेखा में सुरक्षा स्थिति के क्रमबद्ध और उत्तरदायी बदलाव की गारंटी और सभी अफ़ग़ानों को स्वीकार्य भविष्य की एक समावेशी राजनीतिक व्यवस्था पर समझौते का विस्तृत ब्योरा होना चाहिए।

चारों पक्षों ने सभी संबद्ध पक्षों से हिंसा में कमी के लिए कदम उठाने का आग्रह किया ताकि अंतर्-अफ़ग़ान वार्ताओं के मौके पर एक व्यापक और स्थायी युद्धविराम लागू हो सके।

चारों पक्ष परामर्श प्रक्रिया की गति को बनाए रखने पर सहमत हुए, और वे 25 अप्रैल 2019 को मॉस्को में बनी त्रिपक्षीय सहमति के आधार पर अन्य महत्वपूर्ण हितधारकों को भी इससे जुड़ने के लिए आमंत्रित करेंगे, और यह व्यापक समूह अंतर्-अफ़ग़ान वार्ताओं की शुरुआत के मौके पर पर बैठक करेगा। अगली परामर्श बैठक की तिथि और स्थान पर कूटनीतिक माध्यमों से सहमति बनाई जाएगी।

पाठ समाप्त।


मूल सामग्री देखें: https://www.state.gov/four-party-joint-statement-on-afghan-peace-process/
यह अनुवाद एक शिष्टाचार के रूप में प्रदान किया गया है और केवल मूल अंग्रेजी स्रोत को ही आधिकारिक माना जाना चाहिए।
ईमेल अपडेट्स
अपडेट्स के लिए साइन-अप करने या अपने सब्सक्राइबर प्राथमिकताओं तक पहुंचने के लिए कृपया नीचे अपनी संपर्क जानकारी डालें