rss

सी5+1 फ़ॉर्मेट की मंत्रिस्तरीय बैठक संबंधी संयुक्त बयान

اردو اردو, English English, Русский Русский

अमेरिकी विदेश विभाग
मीडिया नोट
फरवरी 05, 2020

 

निम्नांकित बयान का पाठ अमेरिका, कज़ाखस्तान, किरगिज़ गणतंत्र, ताजिकिस्तान, तुर्कमेनिस्तान और उज़बेकिस्तान की सरकारों ने सी5+1 फ़ॉर्मेट की मंत्रिस्तरीय बैठक के अवसर पर जारी किया है।

पाठ आरंभ:

इस क्षेत्र के हालिया घटनाक्रम सी5+1 फ़ॉर्मेट के महत्व और प्रासंगिकता की पुष्टि करते हैं, जो मध्य एशिया में टिकाऊ शांति, स्थिरता और समृद्धि सुनिश्चित करने के लिए अपने प्रतिभागियों के बीच विश्वास पर आधारित संवाद और व्यावहारिक जुड़ाव बनाए रखने में मदद करता है।

अमेरिका इस क्षेत्र के देशों की संप्रभुता, स्वतंत्रता और क्षेत्रीय अखंडता को अपने निरंतर समर्थन, और साथ ही पारस्परिक हित के सभी क्षेत्रों में बहुस्तरीय क्षेत्रीय सहयोग बढ़ाने की अपनी प्रतिबद्धता की फिर से पुष्टि करता है।

प्रभावी ढंग से मध्य एशियाई क्षेत्र की क्षमता का उपयोग करने के लिए, प्रतिभागियों का प्राथमिकता वाले निम्नांकित क्षेत्रों में भागीदारी विकसित करने का इरादा है:

  • मध्य एशिया के एक मजबूत, एकजुट, स्वतंत्र और समृद्ध क्षेत्र के रूप में आगे और विकास के लिए परस्पर विश्वास, कनेक्टिविटी और रचनात्मक सहयोग को मजबूत करना;
  • व्यापार, परिवहन, संभार-तंत्र और बुनियादी ढांचा आधारित संपर्कों को बढ़ावा देने के उद्देश्य से समन्वित क्षेत्रीय परियोजनाओं को प्रोत्साहित करना, उद्यमशीलता को बढ़ावा देना, साथ ही क्षेत्र के देशों और अमेरिका के व्यापारिक समुदायों के बीच व्यापार और निवेश संपर्कों का विस्तार करना, जिसमें व्यापार और निवेश फ्रेमवर्क समझौते (टिफ़ा) के तहत संबंध शामिल हैं;
  • अक्षय ऊर्जा स्रोतों सहित ऊर्जा सेक्टर में क्षेत्र के देशों के बीच संपर्कों का विकास करना और उसे गहन बनाना, और जलवायु परिवर्तन के अनुकूलन के लिए राष्ट्रीय योजनाओं का समर्थन करना;
  • क्षेत्र के वैज्ञानिक, तकनीकी, सामाजिक और अभिनव विकास में सुधार के साथ-साथ पर्यटन की संभावनाओं को मजबूत करने के उद्देश्य से प्रस्ताव और पहल तैयार करना;
  • सांस्कृतिक, मानवीय और शैक्षिक संबंधों का विस्तार करना;
  • सीमा सुरक्षा सहयोग को विकसित करना तथा महाविनाश के हथियारों के प्रसार,  आतंकवाद, अवैध प्रवासन, मानव तस्करी और मादक पदार्थों की तस्करी जैसे सीमा पार के खतरों का मुकाबला करने के लिए क्षेत्र के देशों के सीमा बलों के संयुक्त प्रयासों को तेज करना, जिसमें मध्य एशियाई क्षेत्रीय सूचना और समन्वय केंद्र की क्षमताओं का उपयोग करना शामिल है;
  • विदेशी आतंकवादी लड़ाकों द्वारा उत्पन्न खतरों पर बातचीत का विस्तार करना, आतंकवाद और हिंसक चरमपंथ से निपटने संबंधी सर्वोत्तम तरीकों की जानकारी साझा करना;
  • अफ़ग़ानिस्तान की स्थिति पर शांति प्रक्रिया और राजनीतिक समाधान को बढ़ावा देने के लिए परस्पर लाभप्रद सहयोग का समर्थन करना, साथ ही अफ़ग़ानिस्तान और क्षेत्र के देशों के बीच व्यापार, आर्थिक, परिवहन और बुनियादी ढांचे संबंधी संपर्कों को मजबूत करना;
  • सिविल सोसायटी को मज़बूत करना, जिसमें मानवाधिकारों का संरक्षण और अंतरराष्ट्रीय क़ानून का पालन शामिल है;

अमेरिकी विदेश मंत्री और अन्य विदेश मंत्रियों ने सी5+1 फ़ॉर्मेट के विदेश मामले संबंधी एजेंसियों के प्रमुखों की इस नियमित बैठक की मेज़बानी के लिए उज़बेकिस्तान का आभार व्यक्त किया।


यह अनुवाद एक शिष्टाचार के रूप में प्रदान किया गया है और केवल मूल अंग्रेजी स्रोत को ही आधिकारिक माना जाना चाहिए।
ईमेल अपडेट्स
अपडेट्स के लिए साइन-अप करने या अपने सब्सक्राइबर प्राथमिकताओं तक पहुंचने के लिए कृपया नीचे अपनी संपर्क जानकारी डालें