rss

भारत के प्रधानमंत्री मोदी के साथ संयुक्त प्रेस बयान के दौरान राष्ट्रपति ट्रंप की टिप्पणी

English English

व्हाइट हाउस
तत्काल जारी करने के लिए
फरवरी 25, 2020

हैदराबाद हाउस
नई दिल्ली, भारत

 

राष्ट्रपति ट्रंप:  आपका बहुत-बहुत शुक्रिया। और, प्रधानमंत्री मोदी, यह बहुत ही विशेष यात्रा रही है – अविस्मरणीय, असाधारण। आप क्या कहेंगे? आपके साथ होने का अनुभव बहुत शानदार रहा है। आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

मेलानिया और मैं भारत के वैभव और भारतीय लोगों के असाधारण नेकी और उदारता से विस्मित हैं।

हम अपने आगमन पर आपके गृह राज्य के नागरिकों द्वारा किए गए शानदार स्वागत को हमेशा याद रखेंगे। यह संख्या बल की – और वास्तविक प्यार की गहन अभिव्यक्ति थी। वाक़ई, यह प्यार था। और मुझे लगता है कि हर किसी ने देखा; सबने अपनी आंखों से देखा।

प्रथम महिला और मैंने महात्मा गांधी के आश्रम में उनका स्मरण किया। और आज सुबह दिल्ली में हमने उन्हें पुष्पांजलि अर्पित की। हमने आपके देश की सबसे अद्भुत सांस्कृतिक विरासतों में से एक को देखा: विश्व प्रसिद्ध ताजमहल। और हम आज रात अपनी यात्रा को जारी रखते हुए राष्ट्रपति कोविंद के साथ राष्ट्रपति भवन में आयोजित शानदार राजकीय रात्रिभोज में भाग लेने को उत्सुक हैं।

मैं जानता हूं प्रधानमंत्री मोदी इस बात से सहमत होंगे कि यह हमारे दोनों देशों के लिए बहुत ही उपयोगी यात्रा रही है। इससे पहले आज हमने दुनिया के सबसे अच्छे अपाचे और एमएच-60 रोमियो हेलीकाप्टरों सहित उन्नत अमेरिकी सैन्य उपकरणों की भारत द्वारा खरीद के 3 बिलियन डॉलर से अधिक के समझौते कर अपने रक्षा सहयोग का विस्तार किया। ये सौदे हमारी संयुक्त रक्षा क्षमताओं को बढ़ाएंगे क्योंकि हमारी सेनाएं निरंतर साथ-साथ प्रशिक्षण और संचालन कर रही हैं।

अपनी चर्चाओं में प्रधानमंत्री मोदी और मैंने कट्टरपंथी इस्लामी आतंकवाद से अपने नागरिकों की रक्षा करने की दोनों देशों की प्रतिबद्धताओं की पुष्टि की। इस प्रयास में अमेरिका पाकिस्तान के साथ भी, उनके यहां सक्रिय आतंकवादियों से निपटने के लिए उपयोगी ढंग से काम कर रहा है।

प्रधानमंत्री मोदी और मैं साथ मिलकर अमेरिका, भारत, ऑस्ट्रेलिया और जापान की क्वाड पहल को पुनर्जीवित कर रहे हैं। मेरे पदभार संभालने के बाद, हमने क्वाड की पहली मंत्रिस्तरीय बैठक आयोजित की – मुझे लगता है कि आप इसे एक बैठक कहेंगे लेकिन ये उससे कहीं अधिक है –एक मुक्त एवं खुला हिंद-प्रशांत सुनिश्चित करने के लिए आतंकवाद, साइबर सुरक्षा एवं समुद्री सुरक्षा पर सहयोग का विस्तार।

भारत के साथ अपनी साझेदारी को मज़बूत करते हुए हम इस बात को याद करते हैं कि हमारे दोनों देश हमेशा लोकतंत्र और संविधान की साझा परंपराओं के सहारे एकजुट रहे हैं, जो कि स्वतंत्रता, व्यक्तिगत अधिकारों और क़ानून के शासन की रक्षा करते हैं।

अपनी यात्रा के दौरान, हमने एक सुरक्षित 5जी वायरलेस नेटवर्क के महत्व और इस उभरती तकनीक की स्वतंत्रता, प्रगति और समृद्धि का वाहक होने की आवश्यकता पर चर्चा की  – और ऐसा कुछ भी नहीं करने पर ज़ोर दिया जिससे दमन और सेंसरशिप के साधन के रूप में इसकी कल्पना तक की जा सके।

यह सुनिश्चित करने के लिए कि भविष्य का बुनियादी ढांचा सुरक्षित, पारदर्शी और जवाबदेह तरीके से निर्मित हो, अमेरिका ब्लू डॉट नेटवर्क बनाने के लिए ऑस्ट्रेलिया और जापान सहित कई भागीदारों के साथ काम कर रहा है, जो ये सुनिश्चित करने के लिए एक बड़ी पहल है कि दुनिया के देशों को उच्च गुणवत्ता वाले बुनियादी ढांचे के विकास के लिए निजी क्षेत्र की अगुआई में टिकाऊ और भरोसेमंद विकल्प उपलब्ध हों, और यही हो रहा है।

प्रधानमंत्री मोदी के साथ मेरी चर्चा का एक और प्रमुख विषय था ऐसे द्विपक्षीय आर्थिक संबंधों को बढ़ाना जो निष्पक्ष और पारस्परिक हो। हमारी टीमों ने एक व्यापक व्यापार समझौते की दिशा में ज़बरदस्त प्रगति की है और मैं आशावादी हूं कि हम एक ऐसे समझौते पर सहमत हो सकते हैं जो दोनों देशों के लिए बहुत महत्वपूर्ण होगा।

मेरे पद संभालने के बाद से भारत को अमेरिकी निर्यात में लगभग 60 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी हुई है और उच्च गुणवत्ता के अमेरिकी ऊर्जा उत्पादों का निर्यात – आपका धन्यवाद – 500 प्रतिशत बढ़ा है। बहुत बढ़िया।

भारत के विकास के साथ-साथ उसकी ऊर्जा ज़रूरतें भी बढ़ रही हैं। कल एक्सॉनमोबिल ने भारत के प्राकृतिक गैस वितरण नेटवर्क को बेहतर करने के लिए एक समझौता किया है ताकि अमेरिका भारत को और अधिक एलएनजी का निर्यात कर सके।

हमें खुशी है कि हमारे बीच एक्सॉनमोबिल एलएनजी मार्केट डेवलेपमेंट के चेयरमैन एलेक्स वोल्कोव उपस्थित हैं। धन्यवाद एलेक्स, आप जहां भी हो। कहां हैं एलेक्स? यहीं कहीं हैं। एलेक्स, आपका बहुत-बहुत धन्यवाद। (तालियां।) और हमारे बीच हैं चार्ट एनर्जी एंड केमिकल्स की सीईओ जिलियन इवांको। आपका बहुत-बहुत धन्यवाद। आप दोनों का धन्यवाद। धन्यवाद जिलियन। (तालियां।) बहुत-बहुत धन्यवाद।

ये बहुत बड़ा सौदा है, एलेक्स, है ना?  क्या आप इसे संभाल सकेंगे?  मुझे लगता है ज़रूर संभालेंगे, है ना?  बहुत बढ़िया।

हमारे आर्थिक रिश्तों को और मज़बूत बनाने के लिए, अमेरिका को ये घोषणा करते हुए खुशी हो रही है कि अमेरिकी अंतरराष्ट्रीय वित्त निगम यहां अपनी स्थायी मौजूदगी बनाएगा।

अमेरिका विशेष कर महिला उद्यमियों के विकास और सशक्तिकरण पर भारत के साथ मिलकर काम करने के लिए प्रतिबद्ध है। इसी के लिए मेरी बेटी इवांका ने हैदराबाद में वैश्विक उद्यमिता शिखर सम्मेलन में भाग लिया था, महिलाओं के आर्थिक सशक्तिकरण पर ज़ोर देने के लिए। इवांका – आपने बेहतरीन काम किया है। आपका बहुत-बहुत धन्यवाद। (तालियां।) धन्यवाद।

उसके बाद से हमने डब्ल्यू-जीडीपी पहल शुरू की है, जिसके तहत नई दिल्ली और कोलकाता में आर्थिक क्षेत्र में महिलाओं की सहायता संबंधी परियोजनाएं चलाई जा रही हैं।

प्रधानमंत्री के साथ अपनी बैठक में हम अवैध फ़ेंटानिल और ओपियोड उत्पादन के बढ़ते ख़तरे का सामना करने के लिए एक मादक पदार्थ विरोधी कार्य समूह के गठन पर सहमत हुए। हमें अपने समाज को इन घातक और भयानक ज़हरों से मुक्त करना चाहिए। हम अंदर भर रही इन बुरी दवाओं से अपने समाज को छुटकारा दिलाएंगे।

प्रधानमंत्री मोदी, हमने पिछले दो दिनों में अपने लोगों के लिए भारी प्रगति की है। और मुझे पता है कि साथ काम करते हुए दोनों राष्ट्र नई सफलताएं प्राप्त करते रहेंगे, नई संभावनाओं के द्वार खोलते रहेंगे, और आने वाले वर्षों में और भी उज्जवल भविष्य सुनिश्चित करेंगे।

हम समझते हैं हम एक ऐसे दौर में हैं जब भारत के साथ हमारे रिश्ते बहुत ही विशेष हैं। ये इतने अच्छे कभी नहीं थे, जितने इस समय हैं, और ऐसा इसलिए है कि दोनों देशों के नेताओं में – सच में, हममें एक-दूसरे के लिए सम्मान का भाव है। और हमने कुछ ऐसा किया है जो बहुत अनूठा है और हमने अपने देशों के लिए कई अद्भुत सौदे किए हैं।

एक बार फिर, इस क़दर शानदार स्वागत कर अमेरिका को सम्मानित करने के लिए हम आपका और पूरे भारत राष्ट्र का धन्यवाद करते हैं। और मुझे ये कहते हुए प्रसन्नता हो रही है कि अब वास्तव में अमेरिका-भारत साझेदारी पहले के मुक़ाबले कहीं अधिक मज़बूत है। एक ज़बरदस्त दोस्त और ज़ोरदार नेता, प्रधानमंत्री मोदी के साथ ये एक बेहतरीन यात्रा थी।

हम इस समय कोई सवाल नहीं लेंगे; मैं 5 बजे एक संवाददाता सम्मेलन आयोजित करूंगा और तब हम बहुत सारे सवालों के जवाब देंगे। आप सभी का बहुत-बहुत धन्यवाद। शुक्रिया। (तालियां।)


यह अनुवाद एक शिष्टाचार के रूप में प्रदान किया गया है और केवल मूल अंग्रेजी स्रोत को ही आधिकारिक माना जाना चाहिए।
ईमेल अपडेट्स
अपडेट्स के लिए साइन-अप करने या अपने सब्सक्राइबर प्राथमिकताओं तक पहुंचने के लिए कृपया नीचे अपनी संपर्क जानकारी डालें