rss

अमेरिका द्वारा सीरिया संकट को लेकर नई मानवीय सहायता की घोषणा पर प्रवक्ता मॉर्गन ऑर्टेगस का बयान

English English, Русский Русский, العربية العربية, Français Français, اردو اردو

अमेरिकी विदेश विभाग
तत्काल जारी करने के लिए
मार्च 03, 2020

 

संयुक्त राष्ट्र में अमेरिकी प्रतिनिधि राजदूत केली क्राफ़्ट ने असद शासन, रूस और ईरानी बलों के कारण जारी संकट के मद्देनज़र सीरिया के लोगों के लिए अतिरिक्त मानवीय सहायता के रूप में 108 मिलियन डॉलर देने की घोषणा आज तुर्की में की। इसमें विदेश विभाग के जनसंख्या, शरणार्थी और प्रवासन ब्यूरो से लगभग 56 मिलियन डॉलर और अमेरिका की अंतरराष्ट्रीय विकास एजेंसी (यूएसएड) से 52 मिलियन डॉलर से अधिक की सहायता शामिल हैं। इसी के साथ सीरिया संकट की शुरुआत के बाद से कुल अमेरिकी मानवीय सहायता बढ़कर 10.6 बिलियन डॉलर के बराबर हो गई है। अमेरिका सीरिया और दुनिया के स्तर पर भी मानवीय सहायता का सबसे बड़ा एकल दाता है। यह सहायता हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा रणनीति का एक हिस्सा है जिसमें मानवीय त्रासदी को कम करने को प्राथमिकता दी गई है। हम सहायता बढ़ाने वाले सभी दाताओं की सराहना करते हैं, तथा पारंपरिक और नए दाताओं दोनों को बढ़ती जरूरतों के मद्देनज़र अपने प्रयास बढ़ाने के लिए निरंतर प्रोत्साहित कर रहे हैं।

असद शासन, रूस और ईरानी बलों द्वारा किए गए हमलों ने 1 दिसंबर 2019 से अब तक पश्चिमोत्तर सीरिया में लगभग 9,50,000 लोगों को – जिनमें 80 प्रतिशत से अधिक महिलाएं और बच्चे हैं – अपनी जान बचाने के लिए पलायन करने को मजबूर किया है। यह सीरिया संकट की शुरुआत के बाद से सबसे बड़ा बाध्यकारी विस्थापन है। आज की घोषणा पश्चिमोत्तर सीरिया में विनाशकारी हिंसा से बचकर भागने वालों सहित लाखों सीरियाई लोगों को जीवनरक्षक भोजन, आश्रय, गर्म कपड़े एवं अन्य ज़रूरी सामान, चिकित्सा सुविधा और साफ पेयजल उपलब्ध कराने के हमारे पहले से जारी प्रयासों का हिस्सा है। यह जीवनरक्षक सहायता संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी उच्चायुक्त (यूएनएचसीआर), अंतरराष्ट्रीय प्रवासन संगठन (आईओएम), मानवीय मामलों के समन्वय के संयुक्त राष्ट्र कार्यालय (यूएनओसीएचए), विश्व खाद्य कार्यक्रम (डब्ल्यूएफ़पी) और ग़ैरसरकारी संगठनों के माध्यम से प्रदान की जाएगी।

मानवीय सहायता प्रदान करने के लिए अंतरराष्ट्रीय समुदाय सीमा-पार और आंतरिक पहुंच दिए जाने पर निर्भर करता है। और सीरियाई जनता जीवित रहने के लिए सहायता पर निर्भर करती है। अमेरिका सहायता और दवा वितरित करने के लिए सीरिया और तुर्की के बीच ताल अबियाद में सीमा पर एक अतिरिक्त रास्ता खोलने की संयुक्त राष्ट्र महासचिव गुटेरेस की अनुशंसा का पूरा समर्थन करता है। रूस और चीन ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्ताव 2504 के माध्यम से सीरिया में असुरक्षित क्षेत्रों में मानवीय सहायता पहुंचाने की अंतरराष्ट्रीय समुदाय की क्षमता को बाधित करने की साज़िश रची, जिसके कारण सीरिया में मानवीय सहायता के लिए सीमा पर चार की जगह दो खुले रास्ते ही बच गए हैं और पूर्वोत्तर सीरिया को 40 प्रतिशत चिकित्सा सहायता रुक गई है। इस कारण मानवीय सहायता से वंचित ज़रूरतमंदों की पहले से ही बड़ी संख्या और बढ़ गई है। अमेरिका इराक़ से यारूबिया होकर सीमा पार करने के विकल्प पर सुरक्षा परिषद को सौंपी गई महासचिव गुटेरेस की रिपोर्ट की भी सराहना करता है। रिपोर्ट में पूर्वोत्तर सीरिया में चिकित्सा आपूर्ति पहुंचाने में यारूबिया रास्ते के महत्व और इसे फिर से खोलने या वैकल्पिक रास्ता खोजने की आवश्यकता को रेखांकित किया गया है।

हम तत्काल युद्ध विराम तथा असद शासन, रूस और ईरानी बलों द्वारा पश्चिमोत्तर सीरिया में क्रूर हिंसा – जिसमें स्कूलों, स्वास्थ्य केंद्रों और विस्थापितों की बस्तियों को भी निशाना बनाया जाता है – को रोकने के लिए संयुक्त राष्ट्र की अपील का समर्थन करते हैं। अमेरिका सभी विस्थापितों के आवागमन की स्वतंत्रता तथा शरणार्थियों और आंतरिक रूप से विस्थापितों की सुरक्षित, स्वैच्छिक, और गरिमापूर्ण वापसी की बाध्यतामुक्त प्रक्रिया को अपने समर्थन की पुनर्पुष्टि करता है। हम संयुक्तराष्ट्र के तत्वाधान में सुरक्षा परिषद के प्रस्ताव 2254 के अनुरूप आगे एक विश्वसनीय और समावेशी राजनीतिक समाधान के प्रति अपनी प्रतिबद्धता की भी पुष्टि करते हैं।

अतिरिक्त जानकारी के लिए हमारे जनसंख्या, शरणार्थी और प्रवासन ब्यूरो से  [email protected] पर या यूएसएड से [email protected] पर संपर्क करें।


यह अनुवाद एक शिष्टाचार के रूप में प्रदान किया गया है और केवल मूल अंग्रेजी स्रोत को ही आधिकारिक माना जाना चाहिए।
ईमेल अपडेट्स
अपडेट्स के लिए साइन-अप करने या अपने सब्सक्राइबर प्राथमिकताओं तक पहुंचने के लिए कृपया नीचे अपनी संपर्क जानकारी डालें