rss

कोविड-19 से मुक़ाबले की अमेरिकी प्रतिबद्धताओं से जुड़ी अतिरिक्त विदेशी सहायता

Português Português, English English, Español Español, العربية العربية, Русский Русский, Français Français, اردو اردو

अमेरिकी विदेश विभाग
प्रवक्ता का कार्यालय
तत्काल जारी करने के लिए
विदेश मंत्री माइकल आर. पोम्पियो का बयान
मई 20, 2020

 

महीनों से देश और विदेश में कोविड-19 महामारी से लड़ते हुए अमेरिका जीवन रक्षक स्वास्थ्य एवं मानवीय सहायता के क्षेत्र में अपनी दशकों की नेतृत्वकारी भूमिका को सुदृढ़ करते हुए महामारी के खिलाफ़ वैश्विक प्रयासों को नेतृत्व प्रदान कर रहा है। अमेरिकी जनता की उदारता के ज़रिए हमारी विदेशी सहायता दुनिया भर में ज़िंदगियां बचा रही है और आर्थिक तबाही को सीमित करने में मदद कर रही है।

कोविड-19 से निपटने के लिए अतिरिक्त 162 मिलियन डॉलर की आज की प्रतिबद्धता के साथ ही अमेरिकी लोग निरंतर यह साबित कर रहे हैं कि वे दुनिया में अब तक ज्ञात सबसे उदार मानवतावादी हैं, और इसी के साथ महामारी शुरू होने के बाद से अब तक कुल अमेरिकी सहायता 1 बिलियन डॉलर से अधिक हो चुकी है।

आज घोषित नई फ़ंडिंग स्वास्थ्य; जल, साफ़-सफ़ाई एवं स्वच्छता; सुरक्षा; और लॉजिस्टिक्स के क्षेत्र में अहम हस्तक्षेप का समर्थन करना जारी रखेगी; साथ ही इसकी मदद से कोविड-19 महामारी के कारण खाद्य असुरक्षा की तेज़ी से गंभीर होती स्थिति से निपटने का कार्य भी आरंभ हो रहा है। यह फंडिंग आपात खाद्य सहायता का समर्थन करती है, जोकि कोविड-19 संबंधी हमारी अब तक की पूरक फ़ंडिंग की प्रमुख विशेषता है। आपात खाद्य सहायता विशेष रूप से इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि कोविड-19 महामारी ने आपूर्ति श्रृंखलाओं को बाधित करने, आवागमन को सीमित करने और वृहत अर्थव्यवस्था के स्तर पर आर्थिक अस्थिरता पैदा करने का काम किया है। यह इस घातक वायरस के प्रभावों का सामना कर रहे सर्वाधिक कमज़ोर लोगों की ज़िंदगियां बचाने के लिए दी जा रही हमारी बहुआयामी मानवीय सहायता का हिस्सा है।

अमेरिका ने कोविड-19 के देश और विदेश में मुक़ाबले के लिए सही मायने में एकजुट राष्ट्र के रूप में ख़ुद को संगठित किया है और अफ़्रीका, एशिया, यूरोप एवं लैटिन अमेरिका में अपने साझेदारों और मित्र राष्ट्रों को वेंटिलेटर प्रदान करने की राष्ट्रपति ट्रंप की प्रतिबद्धता को पूरा किया है। अमेरिकी अंतरराष्ट्रीय विकास एजेंसी द्वारा दान में दिए गए अमेरिका निर्मित वेंटिलेटरों की पहली खेप 11 मई 2020 को दक्षिण अफ़्रीका पहुंची, जबकि अन्य साझेदारों और मित्र राष्ट्रों को भी वेंटिलेटर भेजे जा रहे हैं।

स्वदेश में वायरस का मुक़ाबला करने के साथ ही, अमेरिका के निजी व्यवसाय, ग़ैर-लाभकारी समूह, परोपकारी संस्था, धार्मिक संगठन और आम नागरिक सहायता देने में सम्मिलित शेष विश्व को निरंतर पीछे छोड़ रहे हैं। इन्होंने दुनिया भर में दान एवं सहायता के रूप में अब तक कुल मिलाकर 4.3 बिलियन डॉलर से भी अधिक प्रदान किए हैं, जो हमारी सरकार द्वारा दी गई सहायता के अतिरिक्त है।


यह अनुवाद एक शिष्टाचार के रूप में प्रदान किया गया है और केवल मूल अंग्रेजी स्रोत को ही आधिकारिक माना जाना चाहिए।
ईमेल अपडेट्स
अपडेट्स के लिए साइन-अप करने या अपने सब्सक्राइबर प्राथमिकताओं तक पहुंचने के लिए कृपया नीचे अपनी संपर्क जानकारी डालें