rss

अमेरिका रोहिंग्या शरणार्थियों से संबंधित इंडोनेशिया के प्रयासों की प्रशंसा करता है

English English, العربية العربية, اردو اردو

अमेरिकी विदेश विभाग
प्रेस बयान
मॉर्गन ऑर्टेगस, प्रवक्ता, विदेश विभाग
जुलाई 9, 2020

 

अमेरिका इंडोनेशिया सरकार और आचे के स्थानीय अधिकारियों की इंडोनेशियाई समुद्री सीमा में 24 जून को 99 रोहिंग्या शरणार्थियों के आगमन पर उनकी प्रतिक्रिया के लिए सराहना करता है, तथा यूएनएचसीआर और आईओएम के साथ इंडोनेशिया के गहन समन्वय की बात को स्वीकार करता है। हम इस लाचार समुदाय के प्रति इंडोनेशिया के मानवतावादी रवैये और तात्कालिक महत्व के इस मुद्दे पर आसियान के भीतर उसकी नेतृत्वकारी भूमिका की प्रशंसा करते हैं। इंडोनेशिया इस क्षेत्र के देशों और संपूर्ण अंतरराष्ट्रीय समुदाय के लिए एक बेहतरीन उदाहरण प्रस्तुत करता है। अमेरिका विशेष रूप से इस महामारी के दौरान आसियान देशों के तटों पर आने वाले सबसे असुरक्षित लोगों के लिए खोज एवं बचाव अभियान चलाने तथा उन्हें सुरक्षित और मानवीय पनाह देने की दिशा में क्षेत्र के देशों के बीच ज़िम्मेदारियों की साझेदारी और सहयोग को प्रोत्साहित करता है।

साथ ही, हम उन रिपोर्टों पर बेहद चिंतित हैं जिनमें कहा गया है कि बर्मी सेना ने रखाइन स्टेट के राथेदोंग कस्बे में एक हमले को अंजाम दिया है, जिसके कारण ऐसा लगता है कि रखाइन और रोहिंग्या समुदायों के सदस्यों समेत हज़ारों लोगों को विस्थापित होना पड़ा है। हमने बर्मी सेना और अराकान आर्मी के बीच हिंसा के बढ़ते स्तर तथा स्थानीय समुदायों पर इसके प्रभाव को लेकर अपनी गहरी चिंता व्यक्त की है। हम संघर्ष विराम, शांतिपूर्ण बातचीत, स्थानीय समुदायों की सुरक्षा के नए प्रयास और मानवीय सहायता संगठनों को अनुमति दिए जाने संबंधी अपनी पूर्व की मांगों पर फिर से ज़ोर देते हैं।


यह अनुवाद एक शिष्टाचार के रूप में प्रदान किया गया है और केवल मूल अंग्रेजी स्रोत को ही आधिकारिक माना जाना चाहिए।
ईमेल अपडेट्स
अपडेट्स के लिए साइन-अप करने या अपने सब्सक्राइबर प्राथमिकताओं तक पहुंचने के लिए कृपया नीचे अपनी संपर्क जानकारी डालें