rss

अमेरिका की बर्मा में न्याय और जवाबदेही की सतत मांग

English English, اردو اردو

अमेरिकी विदेश विभाग
अमेरिकी विदेश विभाग
प्रेस बयान
मॉर्गन ऑर्टेगस, प्रवक्ता, विदेश विभाग
अगस्त 25, 2020

 

बर्मा के सुरक्षा बलों द्वारा हज़ारों रोहिंग्या पुरुषों, महिलाओं और बच्चों के खिलाफ़ क्रूर हमले शुरू किए जाने के तीन साल बाद, अमेरिका पीड़ितों को न्याय दिलाने और दोषियों को जवाबदेह ठहराने की अपनी मांग को दोहराता है। साथ ही, रखाइन स्टेट में संघर्ष तेज़ होने के मद्देनज़र हम हिंसा पर रोक, वार्ता, स्थानीय समुदायों की सुरक्षा के लिए नए सिरे से प्रयास और मानवीय सहायता की अबाध पहुंच सुनिश्चित किए जाने का आग्रह करते हैं। अमेरिका स्थानीय समुदायों के लोगों की हत्या किए जाने और हज़ारों लोगों के विस्थापन को लेकर चिंतित है, क्योंकि इससे शरणार्थियों और आंतरिक तौर पर विस्थापित लोगों की स्वैच्छिक वापसी और शांति की संभावनाएं कमज़ोर पड़ती हैं।

हम बर्मा में अधिकारियों से शरणार्थियों और आंतरिक रूप से विस्थापित लोगों की सुरक्षित, स्वैच्छिक, सम्मानजनक और स्थायी वापसी के लिए अनुकूल परिस्थितियां बनाने और रखाइन स्टेट पर कोफ़ी अन्नान के नेतृत्व वाले सलाहकार आयोग की सिफ़ारिशों के कार्यान्वयन के प्रयास तेज़ करने का आग्रह करते हैं। 2017 के बाद से, अमेरिका ने संकट से प्रभावित बर्मा और बांग्लादेश के लोगों की मानवीय पीड़ा कम करने के लिए 951 मिलियन डॉलर से अधिक की सहायता दी है। हम 860,000 से अधिक रोहिंग्या लोगों की मेज़बानी करने में बांग्लादेश की सतत उदारता की तहेदिल से सराहना करते हैं। हम अन्य देशों से रोहिंग्या समुदाय के लिए मानवीय सहायता की निरंतर उपलब्धता सुनिश्चित करने और संकट के समाधान के प्रयासों को तेज़ करने का आह्वान करते हैं।

अमेरिका ने पीड़ितों को न्याय दिलाने तथा अत्याचारों के लिए ज़िम्मेदार लोगों की जवाबदेही सुनिश्चित करने के प्रयासों को बढ़ावा देने हेतु सख़्त क़दम उठाए हैं। इनमें शीर्ष सैन्य नेताओं और मानवाधिकारों के गंभीर हनन से जुड़ी सैन्य इकाइयों पर वित्तीय और वीज़ा प्रतिबंध, संयुक्तराष्ट्र की जांच व्यवस्था का समर्थन, और बर्मा को अंतरराष्ट्रीय न्यायालय (आईसीजे) की कार्यवाही में पूर्ण भागीदारी और अदालती आदेशों के अनुपालन के लिए प्रोत्साहित करने के क़दम शामिल हैं। हम इन अत्याचारों के लिए दोषी लोगों को जवाबदेह ठहराने की अंतरराष्ट्रीय समुदाय की सतत प्रतिबद्धता की सराहना करते हैं। अभी बहुत कुछ किया जाना शेष है।

अमेरिका निरंकुश सत्तावादी शासन की विरासत को पीछे छोड़ने, लोकतंत्र के विस्तार और शांति स्थापित करने के प्रयासों में बर्मा के लोगों के साथ सहयोग जारी रखेगा।


यह अनुवाद एक शिष्टाचार के रूप में प्रदान किया गया है और केवल मूल अंग्रेजी स्रोत को ही आधिकारिक माना जाना चाहिए।
ईमेल अपडेट्स
अपडेट्स के लिए साइन-अप करने या अपने सब्सक्राइबर प्राथमिकताओं तक पहुंचने के लिए कृपया नीचे अपनी संपर्क जानकारी डालें