rss
नवीनतम समाचार
2017-10-18

“अगली सदी में भारत के साथ हमारे संबंध को परिभाषित करने” पर

भारत के साथ मेरा संबंध 1998 से है, इसलिए अब लगभग 20 साल, जब मैंने भारत की ऊर्जा सुरक्षा से संबंधित मुद्दों पर काम करना शुरू किया था। जाहिर है, उन कई वर्षों में मैंने इस देश के कई दौरे किये। और यह तब भारतीय समकक्षों के साथ व्यापार करने का एक बड़ा विशेषाधिकार था, और इस वर्ष भारतीय नेताओं के साथ सेक्रेटरी ऑफ स्टेट के रूप में काम करने का यह महान सम्मान रहा है। और मैं अपनी आधिकारिक क्षमता में पहली बार अगले सप्ताह दिल्ली लौटने की उम्मीद करता हूं। यह यात्रा अमेरिकी-भारतीय संबंधों और अमेरिका-भारत की भागीदारी के लिए और अधिक आशाजनक समय पर नहीं आ सकती।

यहां उपलब्ध:

CSIS में सेक्रेटरी टिलरसन के भाषण पर

सेक्रेटरी ने आज दक्षिण एशिया के लिए राष्ट्रपति ट्रम्प की नई रणनीति को लागू करने के लिए अगले सौ वर्ष के लिए संयुक्त राज्य अमेरिका- भारत संबंधों पर एक भाषण दिया। और नीति – वे नीतियाँ जिनके बारे में आपने आज सेक्रेटरी के भाषण में सुना, वे दक्षिण एशिया में चुनौतियों के समाधान तथा अवसरों के संबंध में सर्वश्रेष्ठ दृष्टिकोण पर राष्ट्रीय सुरक्षा मंत्रिमंडल के अंदर कई महीनों की चर्चा का निष्कर्ष था।

यहां उपलब्ध:

सेक्रेटरी ऑफ स्टेट रैक्स टिलरसन “अगली सदी में भारत के साथ हमारे संबंध को परिभाषित करने” पर

तो, आपका बहुत-बहुत धन्यवाद जॉन, और इस कार्यालय में वापस आकर बहुत अच्छा लगा। और मैं जॉन से पूछ रहा था कि क्या यह कार्यालय उन सभी अपेक्षाओं को पूरा कर रहा है जो कि तब थे जबकि यह परियोजना शुरू की गई थी, और मैं कमरे में ऐसे कई चेहरे देखता हूं जो इसे एक वास्तविकता बनाने में एक बड़ा हिस्सा रहे हैं। मुझे लगता है कि उन्होंने मुझे बताया कि आज चार कार्यक्रम एक साथ चल रहे हैं, और मैंने कहा, "सर्वोत्तम। हम यही तो चाहते थे।"

यहां उपलब्ध:

2017-10-15

सेक्रेटरी ऑफ स्टेट रैक्स टिलरसन CBS न्यूज़ के जॉन डिकरसन के साथ

सेक्रेटरी टिलरसन: तो, हमारे पास संयुक्त राष्ट्र महासभा बैठक के हाशिये पर एक विनिमय था, और इसलिए मुझे लगता है कि उनको इस बात का बहुत अच्छे से पता था कि इस बारे में राष्ट्रपति जो निर्णय लेंगे वह उन्हें कहां ले जाएंगा।

यहां उपलब्ध:

2017-10-13

ईरान पर सेक्रेटरी ऑफ स्टेट रैक्स टिलरसन एवं राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार एच. आर. मैकमास्टर

जनरल मैकमास्टर: हैलो। सभी को गुड इवनिंग। सेक्रेटरी टिलरसन और मैं राष्ट्रपति ट्रम्प की ईरान रणनीति पर आपके साथ विचार-विमर्श करने पर प्रसन्न हैं। और मैं जल्दी से, प्रस्तावना के तरीके से -- और मैं जानता हूँ कि आप सब रणनीति के बारे में सेक्रेटरी से सुनना चाहते हैं -- बताना चाहता हूँ कि यह महीनों की एक अंतरएजेंसी प्रक्रिया का नतीजा था जिसके दौरान सेक्रेटरी ऑफ स्टेट टिलरसन ने हमारे महत्वपूर्ण राष्ट्रीय सुरक्षा हितों के लैंस के जरिये ईरान के साथ जुड़ी समस्या को देखने के लिए एक बहुत ही बुनियादी भूमिका निभाई।

यहां उपलब्ध:

राष्ट्रपति डोनाल्ड जे. ट्रम्प की ईरान पर नई रणनीति

"पूरी दुनिया के लिए ईरान की सरकार से मौत और विनाश की खोज को समाप्त करने की मांग करते हुए हमसे जुड़ने का समय है।" राष्ट्रपति डोनाल्ड जे. ट्रम्प ने अपनी राष्ट्रीय सुरक्षा टीम के परामर्श के साथ ईरान पर एक नई रणनीति का अनुमोदन किया है। अमेरिकी सुरक्षा को सबसे बेहतर तरीके से कैसे संरक्षित किया जाए, पर यह कांग्रेस और हमारे साथियों के साथ नौ महीनों के विचार-विमर्श का परिणाम है।

यहां उपलब्ध:

वित्त विभाग ने आतंकवाद प्राधिकार के अंतर्गत IRGC को निर्धारित किया और प्रसार-रोधक प्राधिकार के अंतर्गत IRGC तथा सैन्य समर्थकों पर निशाना साधा

वॉशिंगटन – आज, अमेरिकी वित्त विभाग के विदेशी सम्पत्ति कार्यालय (OFAC) ने वैश्विक आतंकवाद कार्यकारी आदेश (E.O.) 13224 के अनुसरण में और प्रतिबंधों के माध्यम से अमेरिका के शत्रुओं का सामना करना अधिनियम के अनुरूप ईरान के इस्लामिक रिवोल्यूशनरी गार्ड कोर (IRGC) को निर्धारित किया।


2017-10-12

कैटलैन कोलमैन, जोशुआ बॉयल के बचाव और आतंकवादी कैद से उनके परिवार का बचाव

संयुक्त राज्य अमेरिका की सरकार, पाकिस्तान सरकार के साथ मिलकर काम कर रही है, ने बॉयल-कोलमैन परिवार को पाकिस्तान में बंधक से रिहा कर दिया है।

यहां उपलब्ध:

राजदूत हेली और बर्मा के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार यू थौंग टुन के बीच एक बैठक का रीडआउट

संयुक्त राष्ट्र में संयुक्त राज्य अमेरिका की स्थायी प्रतिनिधि, राजदूत निक्की हेली, ने बर्मा के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार, यू थौंग टुन, के साथ बर्मा में तत्काल शरणार्थी संकट पर विचार-विमर्श करने के लिए एक बैठक की।

यहां उपलब्ध:

संयुक्त राज्य अमेरिका का UNESCO से अलग होना

12 अक्तूबर 2017 को डिपार्टमेंट ऑफ स्टेट ने UNESCO की महानिदेशक आइरीना बोकोवा को संयुक्त राज्य अमेरिका के संगठन से अलग होने और UNESCO में एक स्थायी पर्यवेक्षक मिशन स्थापित करने का प्रयास करने के निर्णय के बारे में सूचित किया। यह निर्णय हल्के में नहीं लिया गया है, और संयुक्त राज्य अमेरिका के UNESCO में बढ़ते हुए बकाया, संगठन में मौलिक सुधार की आवश्यकता, और UNESCO पर इजरायल विरोधी पक्षपात को जारी रखने की अमेरिकी चिंताओं को दर्शाता है।


  • सभी मिटाएँ
ईमेल अपडेट्स
अपडेट्स के लिए साइन-अप करने या अपने सब्सक्राइबर प्राथमिकताओं तक पहुंचने के लिए कृपया नीचे अपनी संपर्क जानकारी डालें