rss
नवीनतम समाचार
2017-08-21

दक्षिण एशिया में संयुक्त राज्य अमेरिका के संबंधों पर वक्तव्य

आज शाम, राष्ट्रपति ट्रम्प ने दक्षिण एशिया के लिए अमेरिकी दृष्टिकोण के लिए एक नई एकीकृत रणनीति की घोषणा की जिसमें क्षेत्र में स्थिरता के लिए स्थितियों को बनाने के लिए पाकिस्तान, अफ़गानिस्तान और भारत के कूटनीतिक रूप से संलग्न होने की आवश्यकता होगी।

यहां उपलब्ध:

2017-08-16

हिज़बुल मुजाहिदीन को आतंकवादी पदनाम देना

डिपार्टमेंट ऑफ स्टेट ने हिज़बुल मुजाहिदीन—जिसे हिज़ब-उल-मुजाहिदीन के नाम से भी जाना जाता है, जिसे HM के नाम से भी जाना जाता है—को अप्रवासन एवं राष्ट्रीयता अधिनियम की धारा 219 के तहत एक विदेशी आतंकवादी संगठन के तौर पर, और कार्यकारी आदेश (E.O.) 13224 की धारा 1(b) के तहत विशेष रूप से नामित वैश्विक आतंकवादी (SDGT) के तौर पर नामित किया है। ये पदनाम HM की उन संसाधनों तक पहुंच को अस्वीकार करते है जिसकी इसे आतंकवादी हमले करने के लिए जरूरत है। अन्य परिणामों के साथ-साथ, HM की संयुक्त राज्य अमेरिका के क्षेत्राधिकार के विषयाधीन सभी सम्पत्तियाँ और सम्पत्तियों में हित ब्लॉक कर दिये गये हैं, और अमेरिका के व्यक्तियों को आम तौर पर समूह के साथ किसी भी लेन-देन में शामिल होने से मना कर दिया जाता है।

यहां उपलब्ध:

2017-08-15

2016 अंतर्राष्ट्रीय धार्मिक स्वतंत्रता वार्षिक रिपोर्ट पर सेक्रेटरी ऑफ स्टेट रैक्स टिलरसन

सेक्रेटरी टिलरसन: आप सभी को गुडमार्निंग। हम आज 2016 अंतर्राष्ट्रीय धार्मिक स्वतंत्रता रिपोर्ट रिलीज़ कर रहे हैं। यह रिपोर्ट अंतर्राष्ट्रीय धार्मिक स्वतंत्रता अधिनियम 1998 के अनुसार एक आवश्यकता है - संविधान के पहले संशोधन के तहत मूल अमेरिकी मान्यता के साथ-साथ एक सार्वभौमिक मानव अधिकार के तौर पर धार्मिक स्वतंत्रता को बनाए रखने वाला विधान। यह कानून सरकार से मांग करता है कि, उद्धरण, "सभी सरकारों और लोगों द्वारा धार्मिक स्वतंत्रता के लिए सम्मान को बढ़ावा देने के लिए, राजनयिक, राजनीतिक, व्यावसायिक, धर्मार्थ, शैक्षिक, और सांस्कृतिक प्रणालियों सहित संयुक्त राज्य अमेरिका के विदेश नीति उपकरण में उपयुक्त यंत्रों का उपयोग करने और उन्हें लागू करने के लिए, स्वतंत्रता के लिए [खड़े हो जाओ] और सताए गए लोगों के साथ [खड़े हो जाओ]।"

यहां उपलब्ध:

JCPOA को छोड़ने की ईरान की धमकी पर राजदूत हेली

इस्लामी गणतंत्र ऑफ ईरान के खिलाफ नये प्रतिबंधों पर संयुक्त राज्य अमेरिका की कांग्रेस ने ज़बर्दस्त तरीके से स्वीकृति दी है, और राष्ट्रपति ट्रम्प ने कानून के रूप में इस पर हस्ताक्षर किए हैं। ये प्रतिबंध दुनिया भर में आतंकवाद, हथियारों की तस्करी, उत्तेजक और भड़काने वाली अस्थिरता पैदा करने वाली मिसाइलों, और स्थूल मानवाधिकार के उल्लंघनों के लिए ईरान के निडर समर्थन के जवाब में थे। इन गतिविधियों में से बहुत सी ईरान के अंतर्राष्ट्रीय दायित्वों का उल्लंघन करती हैं, जिसमें संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का संकल्प 2231 भी शामिल है। नये अमेरिकी प्रतिबंध संयुक्त व्यापक कार्य योजना (JCPOA) से संबंधित नहीं थे, जिन्हें परमाणु समझौते के रूप में भी जाना जाता है।

यहां उपलब्ध:

2017-06-26

राष्ट्रपति ट्रम्प और प्रधानमंत्री मोदी द्वारा दिये गये संयुक्त प्रेस वक्तव्य में टिप्पणियाँ

राष्ट्रपति ट्रम्प:  बहुत-बहुत धन्यवाद।  प्रधानमंत्री मोदी, हमारे साथ आज यहाँ होने के लिए धन्यवाद।  विश्व के विशालतम लोकतंत्र के नेता का व्हाइट हाउस में स्वागत करना बहुत सम्मान की बात है।

यहां उपलब्ध:

  • सभी मिटाएँ
ईमेल अपडेट्स
अपडेट्स के लिए साइन-अप करने या अपने सब्सक्राइबर प्राथमिकताओं तक पहुंचने के लिए कृपया नीचे अपनी संपर्क जानकारी डालें