rss
नवीनतम समाचार
2020-05-20

राजदूत एलिस जी. वेल्स कार्यवाहक सहायक विदेश मंत्री, दक्षिण एवं मध्य एशियाई मामलों का ब्यूरो

संचालक:  नमस्ते, मैं दक्षिण एवं मध्य एशियाई मामलों के ब्यूरो के लिए कार्यकारी सहायक विदेश मंत्री राजदूत एलिस वेल्स के साथ इस वर्चुअल प्रेस ब्रीफ़िंग में पत्रकारों का स्वागत करता हूं। राजदूत वेल्स, आज हमारे साथ जुड़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद, और शुरूआती टिप्पणी के लिये मैं आपको आमंत्रित करता हूं।

यहां उपलब्ध:

2020-05-19

अपडेट: कोविड-19 संबंधी वैश्विक प्रयासों में अमेरिका की निरंतर नेतृत्वकारी भूमिका

अमेरिकी लोगों की उदारता और अमेरिकी सरकार द्वारा उठाए गए क़दमों के कारण कोविड-19 महामारी को लेकर अमेरिका निरंतर वैश्विक नेतृत्व का प्रदर्शन कर रहा है। अमेरिकी जनता ने 10 बिलियन डॉलर से अधिक की सहायता दी है जो कोविड-19 के खिलाफ़ वैश्विक प्रयासों में मददगार साबित होगी, और हम ये सुनिश्चित करना जारी रख रहे हैं कि इस संबंध में अमेरिका की भारी वित्तीय सहायता और वैज्ञानिक प्रयास दुनिया भर में कोविड-19 से लड़ाई का केंद्रीय और समन्वित भाग बने रहें।


अमेरिका ने चीन में ईरानी एयरलाइन महान एयर की उड़ानों के लिए सेवाएं देने वाली कंपनी पर प्रतिबंध लगाया

चीन तेज़ी से कम होते उन देशों में से एक है जोकि महान एयर का स्वागत करते हैं, जो ईरान के लिए दुनिया भर में हथियारों और आतंकवादियों को ढोने का काम करती है। इस तरह के सहयोग के साथ परिणाम जुड़ा होता है।

यहां उपलब्ध:

2020-05-18

अफ़ग़ानिस्तान में सुलह के लिए विशेष प्रतिनिधि की अफ़ग़ानिस्तान और क़तर की यात्रा

अफ़ग़ानिस्तान में सुलह के लिए विशेष प्रतिनिधि ज़लमय खलीलज़ाद 17 मई को दोहा और काबुल की यात्रा पर रवाना हुए। दोहा में राजदूत खलीलज़ाद तालिबान प्रतिनिधियों से मिलकर अमेरिका-तालिबान समझौते के कार्यान्वयन पर चर्चा करेंगे और हिंसा में उल्लेखनीय कमी समेत अंतर्-अफ़ग़ान वार्ताओं की शुरुआत के लिए आवश्यक क़दमों पर ज़ोर देंगे।

यहां उपलब्ध:

पंचेम लामा की गुमशुदगी की 25वीं वर्षगांठ

विदेश विभाग ने विशेष रूप से चीन में धार्मिक स्वतंत्रता को प्रोत्साहन और संरक्षण देने को प्राथमिकता दी है, जहां सभी धर्मों के लोगों को गंभीर दमन और भेदभाव का सामना करना पड़ता है। इसी मिशन के तहत, 17 मई को, हमने 25 वर्ष पहले 11वें पंचेन लामा गेधुन चोयक्यी न्यीमा के लापता होने की घटना को याद किया, जो 1995 में चीन स रकार द्वारा छह साल की उम्र में अगवा किए जाने के बाद से सार्वजनिक तौर पर नहीं दिखे हैं।

यहां उपलब्ध:

2020-05-17

विदेश मंत्री पोम्पियो की अफ़ग़ान राष्ट्रपति अशरफ़ ग़नी और डॉ. अब्दुल्ला अब्दुल्ला से बातचीत

निम्नांकित पाठ प्रवक्ता मॉर्गन ऑर्टेगस के हवाले से है:
विदेश मंत्री माइकल आर. पोम्पियो ने आज अफ़ग़ान राष्ट्रपति अशरफ़ ग़नी और राष्ट्रीय सुलह की उच्च परिषद के नए अध्यक्ष डॉ. अब्दुल्ला अब्दुल्ला से बात की।

यहां उपलब्ध:

2020-05-14

अमेरिका चीन से जुड़े किरदारों के कोविड-19 संबंधी अमेरिकी अनुसंधान की जानकारी चुराने के प्रयासों की निंदा करता है

अमेरिका चीन से जुड़े साइबर किरदारों और ग़ैर-पारंपरिक तत्वों द्वारा कोविड-19 अनुसंधान से जुड़ी बौद्धिक संपदा और डेटा चुराने के प्रयासों की निंदा करता है। उल्लेखनीय है कि संघीय जांच ब्यूरो और होमलैंड सुरक्षा विभाग की साइबर सुरक्षा एवं आधारभूत ढांचा सुरक्षा एजेंसी ने 13 मई 2020 को जारी चेतावनी में इसका ज़िक्र किया था।

यहां उपलब्ध:

अमेरिका ने प्रतिबंधों से बचने के ईरान, उत्तर कोरिया और सीरिया के प्रयासों के खिलाफ़ वैश्विक समुद्रीय परामर्श प्रकाशित किया

अमेरिकी विदेश विभाग, अमेरिकी वित्त विभाग के विदेशी परिसंपत्ति नियंत्रण कार्यालय (ओएफ़एसी) और अमेरिकी तटरक्षक सेना ने प्रतिबंधों से बचने के कपटपूर्ण नौवहन तरीक़ों के खिलाफ़ समुद्रीय उद्योग तथा ऊर्जा एवं धातु सेक्टरों में सक्रिय कंपनियों को सतर्क करने के लिए एक वैश्विक परामर्श जारी किया है, जिसमें ईरान, उत्तर कोरिया और सीरिया पर ज़ोर दिया गया है।

यहां उपलब्ध:

2020-05-13

अमेरिका के आतंकवाद निरोधक प्रयासों में पूर्ण सहयोग नहीं करने वाले के रूप में सत्यापित देश

विदेश विभाग ने कल कांग्रेस को सूचित किया कि हथियार निर्यात नियंत्रण क़ानून की धारा 40ए(ए) के तहत ईरान, उत्तर कोरिया, सीरिया, वेनेज़ुएला और क्यूबा को 2019 में अमेरिकी आतंकवाद निरोधक प्रयासों में “पूर्ण सहयोग नहीं करने वाले” देशों के रूप में सत्यापित किया गया है। ये 2015 के बाद पहला साल है जब क्यूबा को पूर्ण सहयोग नहीं करने वाले देश के रूप

यहां उपलब्ध:

2020-05-11

अप्रसार संधि के विस्तार की 25वीं वर्षगांठ

11 मई 1995 को परमाणु हथियारों के अप्रसार की संधि, जिसे अप्रसार संधि या एनपीटी कहा जाता है, से जुड़े राष्ट्रों ने संधि को अनिश्चित काल के लिए लागू रखने का फ़ैसला किया था। एनपीटी 1970 में 25 वर्षों की आरंभिक अवधि के लिए प्रभावी हुई थी। इस तरह 1995 के एनपीटी समीक्षा एवं विस्तार सम्मेलन के सामने दो सवाल थे: क्या संधि का आगे विस्तार किया जाए, और यदि ऐसा किया जाता है तो एक निश्चित अवधि के लिए या अनिश्चित काल के लिए।

यहां उपलब्ध:

  • सभी मिटाएँ
ईमेल अपडेट्स
अपडेट्स के लिए साइन-अप करने या अपने सब्सक्राइबर प्राथमिकताओं तक पहुंचने के लिए कृपया नीचे अपनी संपर्क जानकारी डालें